How To Write SEO Friendly Articles For People and Optimize For Google

क्या आप अपनी वेबसाइट अथवा अपने ब्लॉग के लिए SEO friendly articles लिखना चाहते हैं? जिससे आपकी वेबसाइट गूगल (सर्च इंजन) के पहले पेज पर आएं.

वैसे एक अच्छा आर्टिकल लिखना भी एक कला है जो आपके writing career को एक अच्छे मुकाम तक ले जा सकती है।

कोई भी व्यक्ति लेख लिख सकता है, पर एक SEO optimized article लिखना अपने आप में ही एक महत्वपूर्ण कार्य हैं.

इस लेख में, मैं आपके साथ SEO-optimized articles लिखने के लिए कुछ सुझाव साझा (share) करूंगा जो सर्च इंजन में आपका आर्टिकल रैंक करने में मदद करेंगे.

2019 में गूगल ने एक के बाद एक अपने algorithm लाए है जिससे अधिकतम वेबसाइट के ट्रैफिक पर काफी प्रभाव पड़ा है.

तो इससे हम अनुमान लगा सकते है कि जैसे हम 2018 में काम करते थे वैसे हम 2019 में नही कर सकते.

गूगल अब website quality and content पर ज्यादा ध्यान दे रहा है जिससे visitors को सही जानकारी मिल सके.

तो अब ये हमारी जिम्मेदारी है कि हम अपने रीडर्स के लिए सही और पूरी जानकारी दे और गूगल के लिए SEO Friendly Content लिखे.

Google Algorithm Update 2019

Google Update List :Date
Unnamed Update6 February, 2019
19-result SERPs1 March, 2019
March 2019 Core Update12 March, 2019
Deindexing Bug5 April, 2019
Indexing Bugs23 May, 2019
June 2019 Core Update3, June, 2019
Site Diversity Update6 June, 2019

Writing SEO Optimized Article in Hindi

शुरुआत हम keyword research से करेंगे.

यदि आप अपने विजिटर के लिए बिना किसी कीवर्ड रिसर्च के आर्टिकल लिख रहे हो तो आप सबसे बड़ी गलती कर रहे हो.

वेबसाइट की रैंकिंग के लिए रिसर्च सबसे पहला स्टेप होता है, यदि आपको कीवर्ड रिसर्च क्या है (What is Keyword Research in Hindi) नही पता तो सबसे पहले आप इस विषय में पढ़े, उसके बाद आगे बड़े.

आज इस लेख में हम बात करेंगे :

  • एसईओ क्या है?
  • Keyword to target
  • Length of the article
  • Type of the article
  • Analyze existing articles for outline
  • People also ask questions

लेख को शुरू करने से पहले मैं आपको बोलूंगा की आप पहले Ahrefs या SEMRUSH जैसे best seo tools का उपयोग करे.

यह tool आपको रिसर्च करने, आर्टिकल को ऑप्टिमाइज़ करना, backlink ढूँढना जैसी सेवाएं प्रदान करती हैं.

What is SEO in Hindi

हम सभी जानते हैं कि जब आप सर्च इंजन में कोई query सर्च करके टाइप करते हैं और “एंटर” करते हैं: तो आपको search result की एक सूची मिलती है जो आपके सर्च से संबंधित होती है.

जो पेज आपके सामने आते है वो result search engine optimization (SEO) होते है.

SEO एक तरीका है लेख को optimize करने का जिससे आप अपनी साइट को अन्य साइट से बेहतर optimize कर सको और सबसे ऊपर रिजल्ट में अपनी साइट को ला सको.

Redevolution के एक लेख के अनुसार, Google उपयोगकर्ता अनुभव को बढ़ाने के लिए सर्च रिजल्ट में authority and relevance के आधार पर अपने search result में web pages प्रदर्शित करता है.

अब आप सोच रहे होंगे की गूगल कैसे authority and relevance देखता हैं?

  • Google आपके पेज की relevance का निर्धारण कई कारणों के आधार पर उसकी सामग्री का विश्लेषण करके करता है, Including where and how often you use certain words in that piece of content.
  • आपको आपके पेज पर कितने authority link मिले है (इसे seo backlink कहते है) उस हिसाब से भी गूगल आपकी साइट सर्च रिजल्ट में पहले पेज पर भी शो करता हैं.

लिंक का उदाहरण :

इंटरनेट पर Links वोट की तरह होते हैं, पर इसमें थोड़ा अंतर होता है.

चुनाव का विजेता केवल वोटों की संख्या से निर्धारित होता है, जबकि आपके वेब पेज की रैंक इस बात पर निर्भर करती है कि उसके पास कितने quality link हैं.

क्वालिटी Google में #1 Ranking Factor बन गई है, खासकर google panda and penguin updates के बाद से।

अगर आपको seo के बारे में विस्तार से जानना है तो आप Seo क्या है यह कैसे काम करता है वाला लेख पढ़ सकते हो.

Type of content: 

आपका जो target keyword है उसको आप गूगल सर्च में लिख कर सर्च करे और चेक करे की किस तरह के आर्टिकल उस कीवर्ड पर रैंक कर रहे है.

इससे आप एक अनुमान लगा सकते है कि किस तरह के आर्टिकल गूगल पर रैंक कर रहे है.

How To Write SEO Friendly Articles For People and Optimize For Google

Length of the article:

आप इस free tool का इस्तेमाल करे जिसका नाम SEO Rambler है, इस टूल से आप अंदाजा लगा सकते है कि आपका जो target keyword है उस पर कितने लोगों ने कितने वर्ड का आर्टिकल लिखा हुआ है.

तो आप आइडिया लेकर उससे ज्यादा बड़ा और अच्छा लेख लिख सकते हो.

How To Write SEO Friendly Articles For People and Optimize For Google

जैसा कि ऊपर स्क्रीनशॉट में आप देख सकते है कि मेरे target keyword के पहले पेज पर जो शब्द शो हो रहे है वो औसत शब्द (first page average) 2445 words दिखा रहा है और top 3 average में 3576 शब्द.

तो जब भी मैं लेख लिखूंगा तो स्वाभाविक रूप से यह सुनिश्चित करूंगा कि मेरा एसईओ आर्टिकल कम से कम 3600+ शब्द का होना चाहिए.

तो आपके टारगेट कीवर्ड में जो टॉप 10 वेबसाइट है आपको उन सबको analyze करना है और देखना है किसने क्या लिखा है और कितने शब्द का लिखा है, मैं मानता हूँ यह एक मुश्किल काम है, पर आपको समझना होगा की, SEO कोई आसान काम नही है, अगर आपको #1 Google Ranking चाहिए तो मेहनत तो करनी ही होगी.

यह भी एक बहुत अच्छी seo practice होती हैं.

People also ask google:

Google search में अपने target keyword को सर्च करे और देखे की लोग गूगल से क्या पूछते है: उदाहरण के लिए screenshot देखे.

People also ask google

उन प्रश्नों को चुनें जो आपके लेख से संबंधित हो और उन प्रश्न का अपने लेख में उत्तर दें। लेकिन, यहां रुकना नहीं है, क्योंकि जब आप किसी एक प्रश्न पर क्लिक करते हैं, तो Google उसके बाद और प्रश्न जोड़ देगा.

More-questions-for-SEO-friendly-content

आपके SEO optimized content के लिए यह एक अच्छा तरीका है आर्टिकल लिखने का…

चलिए, अब जो हमारा टॉपिक है “How To Write SEO Friendly Content” इसके ऊपर चर्चा करते हैं.

How To Write SEO Friendly Articles in Hindi

SEO copywriting : Content management system के लिए मैं WordPress का इस्तेमाल करता हूँ और 60% लोग वर्डप्रेस पर ही अपनी वेबसाइट / ब्लॉग बनाते है और मुझे उम्मीद है कि आपका ब्लॉग भी वर्डप्रेस पर ही होगा.

1. Post Title and Meta Title

सबसे पहले, आपको post title और meta title के बीच के अंतर को समझने की आवश्यकता है.

  • Post title: कोई भी व्यक्ति आपकी साइट पर आकर आपका पोस्ट टाइटल किस प्रकार देखता है.
  • Post meta title: सर्च इंजन, अपने सर्च रिजल्ट में आपका पोस्ट किस तरह विजिटर को दिखाता है.

If you have not specified a meta title in your SEO settings, your post title will be treated as the meta title.

  • Best SEO practice के लिए आपको अपने meta title में अपना focus keyword डालना चाहिए.

इस लेख को भी पढ़े:

Pro tips: आप अपना meta title 66 characters से कम लिखे.

2. Post Meta Description

जितनी भी Best WordPress SEO Plugins है वो आपको meta description का ऑप्शन प्रदान करती है

Meta descriptions आपकी google search engine ranking को बढ़ाने में काफी मदद साबित करती है.

आपका जो meta description होगा वो 156 characters तक का ही होना चाहिए, जिसमें आपको अपना focus keyword भी Add करना है तो एक अच्छा paragraph भी लिखना है जिससे कोई भी व्यक्ति जब उसको पढ़े तो उस पर क्लिक भी करें.

अगर आपने पहले कभी अपने पोस्ट में मेटा डिस्क्रिप्शन ऐड नही करा है तो अभी ये काम करना शुरू करें. और हाँ अपने main keyword को meta description में डालना ना भूले.

SEO-optimized-blog-post-WordPress-hindi

Meta description search ranking के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं.

अगर आपने अपने पहले के लेख में कोई भी meta description नही भरा है तो आप पहले अपने पुराने पोस्ट ओपन करे और meta description भर कर लेख अपडेट करें.

Google हर ब्लॉग पोस्ट को एक अलग वेब पेज के रूप में देखता है ताकि आप हर पोस्ट को कुछ कीवर्ड के लिए रैंक कर सकें.

मेटा डिस्क्रिप्शन कीवर्ड डालने के लिए शानदार स्थान हैं.

मैं आपको सलाह दूंगा की seo plugin के लिए आप rank math seo plugin का इस्तेमाल करें.

उदाहरण के लिए आप इस वीडियो को देखे.

3. Image Alt Attribute [Best Practices SEO Example]

Image-Alt-text

क्या आपको पता है? गूगल तस्वीर पढ़ नही सकता?

  • Test ही एक ऐसा माध्यम से जिसके जरिए गूगल तस्वीर को समझता हैं.

अगर आप चाहते हो कि आपने जो इमेज अपलोड करी है, गूगल उस तस्वीर को समझे और google image में आपकी वो इमेज रैंक करे तो उसके लिए आपको proper image name डालना होगा जिससे गूगल पढ़ कर समझ सके की आखिर ये तस्वीर है किसकी.

अधिकतम लोग जब कोई तस्वीर अपलोड करते है तो वो काफी गलती कर देते है, वो तस्वीर को Image001.jpg जैसे नामों के साथ चित्र को अपलोड कर देते है.

  • यह एक Bad SEO Practice हैं.

जब चित्र अपलोड करे तो उसको उसी के नाम से सेव करे.

उदाहरण के लिए, यदि आप एक AdSense dashboard का स्क्रीनशॉट लेते हैं, और आप चित्र का नाम “AdSense” रखते हैं, तो इसे targeted image नहीं कहा जा सकता। इसके बजाय, आपको “AdSense-Dashboard” जैसे नाम का उपयोग करने की आवश्यकता है.

इस तरह, जब लोग Google image search में कोई तस्वीर सर्च करते हैं, तो वे इमेज हमारे ही किसी ब्लॉग पोस्ट का होता है जो गूगल शो करता हैं.

जब आप कोई तस्वीर अपलोड करते है तो आप खुद से alt attributes ऐड कर सकते है.

Alt text डालने से आपकी तस्वीर गूगल इमेज बॉक्स में आती है जिससे थोडा ट्रैफिक वहां से भी आना शुरू हो जाता है, तो जब आप तस्वीर में Alt text डाले तो कीवर्ड के साथ डाले.

4. Interlink and Anchor Text

जब भी आप कोई नया लेख लिखते हो तो उस लेख से अपने पुराने लेख को link करे, इससे व्यक्ति आपकी साइट में थोड़ी और देर तक बना रहता है और गूगल आपके पुराने लेख को फिर से re-crawl कर लेता है.

इसको करने से आपकी साइट का bounce rate कम होता है और दूसरी बात यह एक SEO factor भी है.

जब आप interlink करते हैं, तो आपको anchor text seo techniques का उपयोग करना चाहिए.

जब आप एक पेज से किसी अन्य पेज को लिंक करते है तो आप कीवर्ड को ध्यान में रख कर लिंक करे.

Anchor Text SEO Techniques

5. Remove STOP words from Permalink

Remove STOP words from Permalink

“A” “An” “The” और कई अन्य जैसे शब्द जो यहां सूचीबद्ध हैं, उन्हें search engine द्वारा नजरअंदाज कर दिया जाता है.

हमारे post title में बहुत सारे stop word होते है.

उदाहरण के लिए, जब हम टाइटल के साथ एक पोस्ट लिखते हैं:

  • Top 10 Ways to Save Money at Home

तो हमारे पोस्ट का permalink कुछ इस तरह का होगा.

  • example.com/top-10-ways-to-save-money-at-home

“To” और “at” stop word है जो ऊपर उदाहरण में दिखाया गया है.

आप edit permalink पर क्लिक कर सकते हैं और permalink को “save-money-home” में बदल सकते हैं, इस प्रकार आप स्टॉप वर्ड्स को खत्म कर सकते हैं.

महत्वपूर्ण नोट: पोस्ट प्रकाशित होने के बाद कभी भी अपनी पोस्ट का यूआरएल न बदलें।

Stop words seo के लिए आप Yoast द्वारा लिखा गया लेख What is a slug and how to optimize it पढ़ सकते है.

6. How To Use H1, H2 and H3 Headings Tags for SEO in Hindi

सही हैडिंग टैग्स का उपयोग करना SEO copywriting in Hindi का एक और महत्वपूर्ण पहलू है.

यह SEO का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है जिसको आपको अनदेखा नहीं करना चाहिए.

      • Using proper H1, H2, and H3 heading tags.

सभी SEO optimized theme का जो टाइटल होता है वो अपने आप में ही H1 heading tag बन जाता है, तो आप अपने आर्टिकल में H2 heading, H3 heading इत्यादि का उपयोग कर सकते है.

प्रभावी SEO writing के लिए proper heading tags का उपयोग करना हमेशा एक अच्छा आईडिया रहा है, खासकर जब आप एक लंबी पोस्ट लिख रहे हों.

SEO community के अनुसार, एच 1, एच 2 और एच 3 टैग में अपने कीवर्ड का उपयोग करना एक अच्छा विचार है, बस आपको यह समझना होगा कि आपके हैडिंग टैग क्या होने चाहिए.

More SEO Rankings Factor in Hindi (SEO Tips For Beginners in Hindi)
  • Site Speed (अपनी वेबसाइट की स्पीड फास्ट रखे, यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण google ranking factor में से एक है)
  • Keyword Frequency (अपने आर्टिकल में कीवर्ड को अच्छे से optimize करें)
  • Writing Useful Content For People
On Page SEO Checklist in Hindi:
  1. कीवर्ड के लिए रिसर्च करना
  2. सही शब्द सीमा की पहचान करें (की आपको कितने शब्द का आर्टिकल लिखना है)
  3. टॉप 10 रिजल्ट की एक सूची बनाएं और उसे एनालाइजर करे
  4. एक लिस्ट बनाए “people also ask” सेक्शन के जरिए जो लोग गूगल से पूछते है
  5. पोस्ट का टाइटल अपने रीडर के लिए लिखे, मेटा टाइटल सर्च इंजन के लिए लिखे (टाइटल में कीवर्ड का इस्तेमाल करे)
  6. मेटा डिस्क्रिप्शन का उपयोग करे (optimize it for better CTR and use your target keyword once)
  7. इमेज में Alt text डाले (कीवर्ड का इस्तेमाल करे)
  8. एक पेज से दूसरे पेज को लिंक करे
  9. अच्छी हेडिंग टैग का इस्तेमाल करे (H1, H2, H3 में कीवर्ड का इस्तेमाल करे)

SEO से संबंधित लेख पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:

अगर आपको SEO Friendly Articles से संबंधित किसी भी तरह का कोई प्रश्न है तो आप कमेंट के माध्यम से अपना प्रश्न हमारे साथ शेयर कर सकते है, हम उसका उत्तर अवश्य देंगे.

अगर आपको लेख पसंद आया हो तो इसे सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करे.

How To Write SEO Friendly Articles For People and Optimize For Google
How To Write SEO Friendly Articles For People and Optimize For Google

Search engine optimization is the process of increasing the quality and quantity of website traffic by increasing the visibility of a website or a web page to users of a web search engine. SEO refers to the improvement of unpaid results and excludes direct traffic/visitors and the purchase of paid placement.

Editor's Rating:
5
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमे आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

10 thoughts on “How To Write SEO Friendly Articles For People and Optimize For Google”

    • Rating ke liye Rank Math SEO Plugin (jiski video apko isi article mai mil jayegi)

      Post title jo apki site par likha hota hai or meta title jo google mai show hota hai.

      Meta title mai keyword add kare or unique banaye tabhi visitor us title ko read karke apki site par visit karega.

  1. Himanshu sir ye blog best h knowledge k liye but ap ye iss title pe video BHI bnayo you tube pe dalo AJ kal video k dyada fan h iss liye

  2. Seo से रिलेटेड डिटेल पोस्ट हिंदी में पढ़कर काफी अच्छा लगा, बहुत से ब्लॉगर तो आधा अधुरा आर्टिकल लिखकर पोस्ट end कर देते है।

    Thanks, keep writing…

  3. Sir मै जानना चाहता हु कि किसी ट्रैवल एजेंसी की वेबसाइट को गूगल के first पेज पर रैंक कराने में कितना समय लगेगा जिसके लिए हमें क्या करना चाहिए ?

Leave a Comment