निबंध

विश्व कैंसर दिवस 2021 पर निबंध और इतिहास

World Cancer Day Photos
Written by Himanshu Grewal
FREE YouTube Video Tutorials

पिछले कुछ दशकों से कैंसर नामक जानलेवा बीमारी की रोकथाम तथा इसके प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए 4 फरवरी को विश्व कैंसर दिवस 2021 के रूप में मनाया जा रहा है। लेकिन आज भी विश्व के अनेक देशों में इस दिवस को मनाने के कारण और उद्देश्य के प्रति लोगों में जागरूकता नहीं है तो आज हम इस लेख में विश्व कैंसर दिवस क्या है, विश्व कैंसर दिवस क्यों मनाया जाता है, इस संबंध में सभी महत्वपूर्ण जानकारियां साझा करने जा रहे हैं। वर्ष 1993 में पहली बार जिनेवा स्विट्ज़रलैण्ड में विश्व कैंसर दिवस मनाया गया। यह वह दौर था जब कैंसर की वजह से हर साल 70 लाख से अधिक लोग अपनी जान गवा कर रहे थे। ऐसे ही संकट की स्थिति में इस जानलेवा बीमारी के प्रति विश्व को जागरूक करना आवश्यक हो चुका था। इसलिए इसी वर्ष UICC की स्थापना की गई।

विश्व कैंसर दिवस 2021

World Cancer Day

World Cancer Day

विश्व कैंसर दिवस पर निबंध 2021

कैंसर एक ऐसी खतरनाक बीमारी है जिससे लड़ कर बहुत कम लोग ही जीत पाते हैं, इसका सही इलाज अभी तक नहीं मिला हैं। इसीलिए लोगों को कैंसर के प्रति अधिक सचेत व जागरूक करने के लिए वैश्विक आधार पर लोगों को कैंसर से बचने के उपाय, कैंसर के उपचार, कैंसर से लड़ने के लिए रणनीति बताने के लिए सरकार, गैर सरकारी स्वास्थ्य संगठन, संयुक्त राष्ट्र, WHO ने मिलकर 4 फरवरी के दिन विश्व कैंसर दिवस मनाने का निश्चय किया।

हर साल 4 फरवरी के दिन लोगों को कैंसर के प्रति जागरूक करने के लिए यह दिवस मनाया जाता है और हर साल यह दिवस एक नई परियोजना के साथ मनाया जाता है जिससे इस कार्यक्रम से अधिक से अधिक लोग जुड़ सकें। पिछले वर्ष 2020 में विश्व कैंसर दिवस की थीम “I am and I will” थी। यह थीम हमें यह बताता है कि मैं कैंसर से पीड़ित हूं और मैं इस बीमारी को हराऊंगा/हराऊंगी। हर साल इस दिवस को मनाने के पीछे पूरी दुनिया का केवल एक उद्देश्य हैं-

जो लोग कैंसर से पीड़ित हैं, उनके हौसले को बढ़ाना हैं। इस खतरनाक बीमारी से लड़ने के लिए लोगों के संकल्प को टूटने नहीं देना हैं।

जीवन को देखने का एक नया नज़रिया देने के लिए इस दिवस को मनाया जाता हैं। पिछले वर्ष 2020 में विश्व कैंसर दिवस की 20वी वर्षगांठ मनाई गई थी। कैंसर से पीड़ित लोगों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है और यह भी अनुमान लगाया गया है कि साल 2030 में कैंसर से पीड़ित लोगों की संख्या एक करोड़ हो जाएगी जो अपने आप में एक दुख की बात है।

आंकड़ों की माने तो पूरे विश्व में तंबाकू के उत्पादों का सेवन कर के कैंसर से कुल 63% लोगों की मृत्यु हो रही है। विश्व कैंसर दिवस को मनाने के लिए पूरे विश्व के कुछ नामी जगहों पर जैसे एशिया, यूरोप, वालेंसिया, स्पेन का सिटी ऑफ साइंस संग्रहालय, मस्कट के रॉयल ओपेरा हाउस और एंपायर स्टेट जैसी बड़ी-बड़ी बिल्डिंगों में नीली और नारंगी रंगों की रंग बिरंगी लाइट लगाई जाती हैं। विश्व कैंसर दिवस का महत्व को और अधिक गहराई से समझाने के लिए हम कुछ प्रश्नों का उपयोग करने वाले है जो आपको इस विषय पर पूरी जानकारी प्राप्त करने में सहयोग करेंगे।

विश्व कैंसर दिवस क्यों मनाया जाता है?

World Cancer Day

दुनिया में जितनी भी खतरनाक बीमारी है उन सभी में कैंसर सबसे अधिक खतरनाक है। क्योंकि इससे बच पाने की बहुत ही कम उम्मीद होती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि अधिकतर इस बीमारी के लक्षण दिखाई नहीं देते और जब उसके लक्षण सामने आते है तब तक बहुत देर हो चुकी होती है। इसीलिए इस खतरनाक बीमारी से लोगों को बचाने के लिए व उनकी जान बचने की उम्मीद को बढ़ाने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने एक ऐसा दिन निश्चय किया जिस‌ दिन लोगों को कैंसर से जुड़ी हर छोटी बड़ी जानकारी दी जाएगी और जो लोग कैंसर से ग्रसित हैं उन्हें इस बीमारी से लड़ने के लिए सही मार्ग और हौसला प्रशस्त किया जाएगा।

विश्व कैंसर दिवस 2021 की मदद से सरकार दुनिया के हर एक इंसान को यह बताना चाहती है कि कैंसर से लड़ना बहुत ही मुश्किल हैअगर आप इस बीमारी से लड़ रहे है तो आप संकल्प को बनाए रखें और इस बीमारी के सामने हार बिल्कुल ना माने। साथ ही साथ इस दिन कैंसर से बचने के उपाय तथा कैंसर होने पर कौन-कौन से लक्षण होते है उस पर भी बात की जाती है। विश्व कैंसर दिवस मनाने के पीछे पूरी दुनिया का केवल एक ही लक्ष्य है- कैंसर के प्रति अधिक से अधिक लोगों को जागरूक करना और कैंसर से पीड़ित होकर मरने वाले लोगों की संख्या में कमी लाना है


विश्व कैंसर दिवस कब मनाया जाता है?

विश्व कैंसर दिवस 2021

विश्व कैंसर दिवस 2021

विश्व कैंसर दिवस 4 फरवरी को मनाया जाता है। इस दिन विश्व के प्रत्येक देश में विश्व कैंसर दिवस मनाया जाता है। विश्व कैंसर दिवस को मनाने के लिए लोग बड़ी-बड़ी बिल्डिंगों में नीली और नारंगी रंग की रोशनी वाली लाइट लगाते हैं। 4 फरवरी 2005 से विश्व कैंसर दिवस मनाया जाना शुरू हुआ था


विश्व कैंसर दिवस का इतिहास क्या है?

सर्वप्रथम UICC जिसका पूरा नाम Union for International Cancer Control (केंद्रीय अंतरराष्ट्रीय कैंसर नियंत्रण) ने कैंसर से पीड़ित होकर मरने वाले लोगों की संख्या को कम करने के लिए दूसरे प्रसिद्ध कैंसर समाजों, शोध संस्थानों, उपचार केंद्रों के सहयोग से 1933 में स्विट्जरलैंड के जेनेवा में विश्व कैंसर दिवस को मनाने का प्रस्ताव रखा गया था। वैसे तो कैंसर एक बहुत ही घातक बीमारी है जिससे बच पाना बहुत ही मुश्किल है जो कि अब तक इस बीमारी का सही इलाज नहीं मिला है लेकिन ऐसा भी नहीं है कि इस बीमारी से बचना नामुमकिन है। कैंसर से पीड़ित लोगों में बहुत ही कम संख्या में लोग इस बीमारी से बच पाते हैं‌।

आंकड़े की माने तो हर साल 7 मिलियन से भी अधिक लोग इस बीमारी से मरते हैं। इस खतरनाक बीमारी से लोगों को बचाने के लिए और लोगों को इसके प्रति सतर्क करने के लिए विश्व कैंसर दिवस मनाया जाना शुरू हुआ। इस दिन सभी स्वास्थ्य केंद्रों और संस्थाओं में कैंसर की बीमारी के लक्षण की जांच करने सही तरीका व इससे बचाव का सही तरीका बताया जाता है। कैंसर से पीड़ित होकर मरने वाले लोगों की लिस्ट में हमारे देश का भी नाम शामिल है। भारत में भी भारी संख्या में लोग कैंसर से पीड़ित होकर मरते है इसीलिए अन्य देशों के तरह भारत भी 4 फरवरी के दिन विश्व कैंसर दिवस मनाता है और अपने देशवासियों को इस खतरनाक बीमारी से सतर्क करने का प्रयास करता है।


World Cancer Day 2021 Essay in Hindi

World Cancer Day Image

विश्व कैंसर दिवस का महत्व क्या है?

विश्व कैंसर दिवस को दुनिया के प्रत्येक देश ने बहुत सम्मान दिया है और सभी देश इस दिवस को बड़े उत्साह से मनाते हैं। क्योंकि धूम्रपान और तंबाकू के कारण ही कैंसर होता है व इसका सेवन हर देश में किया जाता है। इसीलिए कैंसर की बीमारी पूरे विश्व में व्याप्त है। विश्व कैंसर दिवस की मदद से सभी देश अपने देशवासियों को इस घातक बीमारी से सावधान करते है और उन्हें इस बीमारी को पहचानने का लक्षण और इलाज का सही मार्ग दिखाते हैं।


विश्व कैंसर दिवस 2021 का विषय क्या है?

विश्व कैंसर दिवस को मनाते समय हर वर्ष एक नया विषय लाया जाता है। यह विषय पिछले साल से हमेशा अलग होता है लेकिन 2019 में जिस विषय को लेकर विश्व कैंसर दिवस मनाया गया था, उसी विषय पर 2021 भी विश्व कैंसर दिवस मनाया जाएगा। 2021 में “I am and I will” के विषय को आधार मानकर विश्व कैंसर दिवस मनाया जाएगा क्योंकि कैंसर की बीमारी में जिसे इलाज की खोज की गई है वह बहुत ही ज्यादा दर्दनाक होती है जिससे बच पाना बहुत ही मुश्किल है। इसलिए सभी संगठनों ने कैंसर से पीड़ित लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए यह विषय रखा है जिसका अर्थ है कि मैं कैंसर से पीड़ित हूं और मैं इस बीमारी को हराऊंगा या हराऊंगी


4 फरवरी को क्या मनाया जाता है?

4 फरवरी के दिन पूरी दुनिया में विश्व कैंसर दिवस मनाया जाता है। 4 फरवरी के दिन विश्व कैंसर दिवस मनाया जाने के पीछे बहुत से कारण हैं। और इसका का मुख्य कारण लोगों को कैंसर से बचाना है। उन्हें उनके खान पान के बारे में सही जानकारी देकर उन्हें कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से बचाने की कोशिश की जा रही है। कैंसर की बीमारी से जुड़ी छोटी बड़ी बातें जैसे कैंसरकारी तत्व या परिस्थिति को त्याग ना चाहिए, कैंसर की बीमारी के लक्षण को कैसे पहचाना चाहिए, लक्षण की पहचान हो जाने पर उसका इलाज कैसे कराना चाहिए? इस तरह की विशेष जानकारी इस दिन सभी संस्थाओं द्वारा लोगों को जागरूक करने के लिए दी जाती हैं।


अंतर्राष्ट्रीय बाल कैंसर दिवस कब मनाया जाता है?

वैसे तो बच्चों में कैंसर की बीमारी होना बहुत ही दुर्लभ है लेकिन इस बीमारी से बचा जा सकता है। बच्चे इस बीमारी से तभी बच सकते हैं, जब इसके लक्षण का पता सही समय पर लगाया जाए। इसलिए इस विषय पर सतर्क होना बहुत ही ज्यादा जरूरी है। बच्चों में अधिकतर ल्यूकेमिया, लिंफोमा और मस्तिष्क या पेट में ट्यूमर के रूप में कैंसर की बीमारी होती हैं। जिसकी तुरंत जांच होना बहुत ही जरूरी है। इसीलिए हर साल 15 फरवरी के दिन अंतरराष्ट्रीय बाल कैंसर दिवस मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने के पीछे मुख्य उद्देश्य लोगों को बच्चों में होने वाले कैंसर के प्रति जागरूक करना है। विश्व में हर साल 3 लाख बच्चों में कैंसर के लक्षण देखने को मिलते हैं। विश्व में कैंसर से पीड़ित 80% बच्चे मर जाते है, केवल 20% कैंसर से लड़के ठीक हो पाते हैं।


निष्कर्ष

हमें आशा है इस पोस्ट को पढ़ने के बाद विश्व कैंसर दिवस 2021 से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां पाठकों को मिल चुकी होंगी। अगर आपका इस लेख के संबंध में कोई प्रश्न है या विचार है तो कमेंट में बताएं। साथ ही जानकारी को शेयर करना ना भूले।

About the author

Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमें आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

1 Comment

Leave a Comment