6 ऐसी बाते जो 26 जनवरी को बनाती है खास (Why Do We Celebrate Republic Day on 26th January)

हेल्लो दोस्तों HimanshuGrewal.com पर आपका स्वागत है. मेरा नाम है हिमांशु ग्रेवाल. आज इस आर्टिकल मै, में आपको बताने जा रहा हूँ कुछ ऐसी बाते जो भारत को खास बनाती है. अक्सर काफी सारे लोगो के मन में एक प्रशन जरुर आता है की Why Do We Celebrate Republic Day answer in hindi तो बस उसी प्रशन का उत्तर देने के लिए मैंने यह आर्टिकल लिखा है.

दोस्तों वैसे तो भारत देश की हर चीज महान है पर आज में आपको बताऊंगा 6 ऐसी बाते जो इस महान राष्ट्रीय पर्व यानि 26 जनवरी को खास बनाती है. आईये जानते है इस राष्ट्रीय पर्व की कुछ ख़ास बातें.

26 जनवरी 1950 को भारत का सविधान लागू हुआ था. भारत का सविधान एक लिखित सविधान है. इस दिन भारत के राष्ट्रपति लाल किले (red fort) पर झंडा फहराते है. इस दिन के मोके पर अशोक चक्र और किरती चक् जैसे महत्वपूर्ण सम्मान भी लोगो को दिए जाते है. इस दिन भारतीय सेना अपना शक्ति प्रदर्शन परेड के रूप में दिखाती है.

6 Reason Why do we celebrate Republic day in hindi language

6 Reason Why do we celebrate Republic day in hindi language

  1. पहली बात (समय) :- भारतीय सविधान को बनने में 2 साल 11 महीने और 18 दिन का समय लगा.
  2. दूसरी बात (डॉ. राजेंद्र प्रसाद) :- 26 जनवरी 1950 को डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने गवर्मेंट हाउस के दरबार होल में भारत के पहले राष्ट्रपति की शपत ली थी.
  3. तीसरी बात (मुख्य अतिथि) :- भारत के पहले गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि इंडोनेशिया के राष्ट्रपति Sukarno थे.
  4. चोथी बात (1955 से गणतंत्र दिवस समारोह राजपथ पर) :- 1955 से गणतंत्र दिवस समारोह राजपथ पर होने लग गया और यहाँ सेना परेड करने लगी.
  5. पांचवी बात (21 तोपों की सलामी) :- राजपथ पर तिरंगा फैराया जाता है. उसके बाद राष्टिय गान गया जाता है. इसके साथ ही 21 तोपों की सलामी भी इस दिन दी जाती है.
  6. छठी बात (सबसे बड़ा लिखित सविधान) :- सविधान में लगभग 465 अनुच्छेद, 12 अनुसुचियां है और यह सभी 22 भागों में विभाजित है. पर जब सविधान बना था तब इसमें 395 अनुच्छेद थे जो 22 भागों में विभाजित थे और इसमें केवल 8 ही अनुसुचियां थी.

दोस्तों यह थी भारतीय सविधान से जुड़ी कुछ बाते जो यह साबित करती है की भारतीय सविधान ही नही की भारत भी कितना महान है. हमें भारतीय होने पर गर्व है. जय हिन्द ||

इनको भी एक बार जरुर पढ़े आपको पसन्द आएंगे 🙂

मुझे उम्मीद है की अब आपको यह पता चल गया होगा की हम गणतंत्र दिवस क्यों मनाते है और क्या है इसकी खास बाते. अगर आपको अभी भी कुछ पूछना है या फिर आप हमारे देश को कुछ बोलना चाहते हो तो आप कमेंट करके जरुर बोल सकते हो और इन 6 बातों को आप अपने दोस्तों के साथ फेसबुक, ट्विटर, गूगल+ और व्हात्सप्प पर शेयर जरुर करे! भारत माता की जय 🙂

Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमे आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

7 thoughts on “6 ऐसी बाते जो 26 जनवरी को बनाती है खास (Why Do We Celebrate Republic Day on 26th January)”

    • We celebrate Republic Day because on Republic Day, our(Indian constitution applied in our country. We got independendence from British rule in 15 August 1947 but there was British constitution till 25th January 1950.

  1. We will not forget the men (king of knowledge) Mr. B.R.Ambedker when we talk about our constitution. Just because of him we are celebrating republic day. Jai bhim jai bharat

  2. 26 जनवरी 1950 को भारत का सविधान लागू हुआ था. भारत का सविधान एक लिखित सविधान है. इस दिन भारत के राष्ट्रपति लाल किले (red fort) पर झंडा फहराते है. इस दिन के मोके पर अशोक चक्र और किरती चक् जैसे महत्वपूर्ण सम्मान भी लोगो को दिए जाते है. इस दिन भारतीय सेना अपना शक्ति प्रदर्शन परेड के रूप में दिखाती है.
    हिमांसु, आप नें जानकारी तो बहुत ही अच्छी प्रदान किए है, परंतु आप की जानकारी के लिए मैं बता दू की किसी भी 26 जनवरी को लाल किले पर तिरनगा नही फहराया जाता है। भारत के राष्ट्राप्ति तो लाल किले पर कभी भी तिरंगा फहराते ही नही है। लाल किले पर तो झड़ा प्रधान मंत्री 15 अगस्त को ही फहराते हैं। 26 जनवरी को तो केवल राज पथ पर परेड निकाली जाती है।

    • अपनी बात हमारे साथ व्यक्त करने के लिए धन्यवाद हम जल्द ही इसको ठीक कर देंगे|

Leave a Comment

0 Shares
Share via
Copy link