Teachers Day Essay in Hindi – शिक्षक दिवस पर हिंदी निबंध – जानिए क्यों मनाया जाता है यह त्यौहार !

प्रिय छात्रों, आज के इस लेख में मै प्रतिवर्ष 5 सितम्बर को मनाए जाने वाले दिवस यानीकि शिक्षक दिवस पर Teachers Day Essay in Hindi का एक लेख लिख रहा हूँ.

हर विद्यार्थी के जीवन में शिक्षक का एक विशेष स्थान होता है, राष्ट्र के भविष्य को सवारने में शिक्षको की महत्त्व भूमिका होती है, उनकी सहायता से एक आदर्श नागरिक का जन्म होता है.

जीवन में शिक्षक के महत्त्व को समझने के लिए विभिन्न शब्दों एवं आसान और सरल शब्दों में हम यहाँ शिक्षक दिवस पर निबंध – Teachers Day Essay उपलब्ध कराने जा रहे है, जो आपके बच्चो और विद्यार्थियों के लिए विविध प्रतियोगिताओ में उपयोगी साबित हो सकते है.

Teachers Day शिक्षक दिवस सभी शिक्षको को समर्पित करने के लिए एक पर्व के रूप में मनाया जाता है, जो हर साल 5 सितम्बर को शिक्षको को सम्मान देने के उद्देश्य से मनाया जाता है.

यदि आप चाहे तो आने वाले शिक्षक दिवस के दिन इस निबंध को एक कागज़ पर सुन्दर-सुन्दर अक्षरों में लिख कर अपने शिक्षक को दे सकते हैं.

तो चलिए, शिक्षक दिवस पर निबंध को लिखने से पहले अगर आप एक छोटी सी कविता लिखेंगे तो यक़ीनन ही आपके शिक्षक को अच्छा लगेगा और वो आपके इस कार्य के वजह से प्रसन्न भी होंगे.

Teachers Day Poems in Hindi By Student

Teachers Day Poems in Hindi By Student

वो कौन सा है पद,
जिसे देता ये जहाँ सम्मान।
वो कौन सा है पद,
जो करता है देशों का निर्माण।
वो कौन सा है पद,
जो बनाता है इंसान को इंसान।
वो कौन सा है पद,
जिसे करते है सभी प्रणाम।
वो कौन सा है पद,
जिकसी छाया में मिलता ज्ञान।
वो कौन सा है पद,
जो कराये सही दिशा की पहचान।
गुरू है इस पद का नाम।
मेरा सभी गुरूजनो को शत-शत प्रणाम।

Teachers Day Essay in Hindi – शिक्षक दिवस का महत्व

हमारी सफलता के पीछे हमारे शिक्षक का बहुत बड़ा हाथ होता है। हमारे माता-पिता की तरह ही हमारे शिक्षक के पास भी ढ़ेर सारी व्यक्तिगत समस्याएँ होती हैं लेकिन फिर भी वह इन सभी को भूलकर रोज स्कूल और कॉलेज आते हैं तथा अपनी जिम्मेदारी को अच्छी तरह से निभाते
हैं.

कोई भी उनके बेशकीमती कार्य के लिये उन्हें धन्यवाद नहीं देता है| इसलिये एक विद्यार्थी के रुप में शिक्षकों के प्रति हमारी भी जिम्मेदारी
बनती है कि कम से कम साल में एक बार उन्हें जरुर धन्यवाद दें.

शिक्षको के कार्य को समर्पित करते हुए 5 सितम्बर का दिन पुरे देश में शिक्षक दिवस के रूप मनाया जाता है।

शिक्षकों को सम्मान देने और भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिवस को याद करने के लिये हर साल इसे मनाया जाता है।

देश के विकास और समाज में हमारे शिक्षकों के योगदान के साथ ही शिक्षक के पेशे की महानता को उल्लेखित करने के लिये हमारे पूर्व राष्ट्रपति के जन्मदिवस को समर्पित किया गया है.

डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन एक महान शिक्षक थे, जिन्होंने अपने जीवन के 40 वर्ष अध्यापन पेशे को दिए है। वे विद्यार्थियों के जीवन में शिक्षकों के योगदान और भूमिका के लिये प्रसिद्ध थे। इसलिये वे पहले व्यक्ति थे जिन्होंने शिक्षकों के बारे में सोचा और हर वर्ष 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रुप में मनाने का अनुरोध किया.

डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म 5 सितंबर 1888 को हुआ था और 1909 में चेन्नई के प्रेसिडेंसी कॉलेज में अध्यापन पेशे में प्रवेश करने के साथ ही दर्शनशास्त्र शिक्षक के रुप में अपने करियर की शुरुआत की.

उन्होंने देश में बनारस, चेन्नई, कोलकाता, मैसूर जैसे कई प्रसिद्ध विश्वविद्यालयों तथा विदेशों में लंदन के ऑक्सफोर्ड जैसे विश्वविद्यालयों में दर्शनशास्त्र पढ़ाया है.

अध्यापन पेशे के प्रति अपने समर्पण की वजह से उन्हें अपने बहुमूल्य सेवा की पहचान के लिये 1949 में विश्वविद्यालय छात्रवृत्ति कमीशन के अध्यक्ष के रुप में नियुक्त किया गया.

1962 से शिक्षक दिवस के रुप में 5 सितंबर को मनाने की शुरुआत हुई। अपने महान कार्यों से देश की लंबे समय तक सेवा करने के बाद 17 अप्रैल 1975 को उनका निधन हो गया.

शिक्षक दिवस विभिन्न देशों में अलग-अलग तिथियों को एक विशेष कार्यक्रम के रुप में मनाया जाता है। चीन में, यह हर साल 10 सितम्बर को मनाया जाता है। सभी देशों में इस कार्यक्रम को मनाने का उद्देश्य आमतौर पर शिक्षकों को सम्मान देना और शिक्षा के क्षेत्र में प्राप्त उपलब्धियों की प्रशंसा करना है.

शिक्षक विद्यार्थियो के जीवन के वास्तविकतः कुम्हार की तरह होते हैं, जो न सिर्फ हमारे जीवन को आकार देते हैं बल्कि हमें इस काबिल बनाते हैं कि हम पूरी दुनिया में अंधकार होने के बाद भी प्रकाश की तरह जलते रहें। इसी वजह से हमारा राष्ट्र ढ़ेर सारे प्रकाश के साथ प्रबुद्ध हो सकता है.

हमारे शिक्षक हमें शैक्षणिक दृष्टी से तो बेहतर बनाते ही हैं, साथ ही हमारे ज्ञान और विश्वास के स्तर को बढ़ाकर नैतिक रुप से भी हमें अच्छा बनाते है.

जीवन में अच्छा करने के लिये वह हमें हर असंभव कार्य को संभव करने की प्रेरणा देते हैं। विद्यार्थी इस शिक्षक दिवस को बहुत उत्साह और खुशी के साथ मनाते है। विद्यार्थी अपने शिक्षकों को ग्रीटिंग कार्ड देकर बधाई भी देते हैं.

अंत में मै एक और कविता अपने शिक्षको के लिए लिखना चाहता हूँ-

शिक्षक दिवस पर कविता हिंदी में – Teachers Day Essay in Hindi

शिक्षक दिवस का महत्व निबंध और कविता

हम स्कूल रोज हैं जाते,
शिक्षक हमको पाठ पढ़ाते..

दिल बच्चों का कोरा कागज,
उस पर ज्ञान अमिट लिखवाते..

जाति-धर्म पर लड़े न कोई,
करना सबसे प्रेम सिखाते..

हमें सफलता कैसे पानी,
कैसे चढ़ना शिखर बताते..

सच तो ये है स्कूलों में,
अच्छा इक इंसान बनाते..

धन्यवाद…[email protected]

इस कार्यक्रम के आयोजन के दौरान स्कूलों और कॉलेजों में विद्यार्थियों के द्वारा बहुत सी तैयारियाँ की जाती है, बहुत से विद्यार्थी इस कार्यक्रम को यादगार बनाने के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों, भाषणों और अन्य गतिविधियों में भाग लेकर मनाते हैं.

यदि आप भी शिक्षक दिवस पर अपने स्कूल या कॉलेज में भाषण देना चाहते हैं तो आप निचे दिए गये लिंक पर क्लिक करके भाषण को पढ़ सकते हैं और उनको याद कर सुना भी सकते हैं, यक़ीनन ही आपके शिक्षको को यह पसंद ज़रूर आएगा.

कुछ विद्यार्थी इसे अपने ही तरीके से मनाते है| वे अपने प्रिय अध्यापक को कोई फूल, कार्ट, गिफ्ट, ई-ग्रीटिंग कार्ड, एस.एम.एस., मैसेज आदि के द्वारा उनका आदर करके और प्रशंसा करने के माध्यम से मनाते हैं.

आप भी कुछ ज़रूर कीजिये आपने प्रिय शिक्षक को स्पेशल महसूस ज़रूर कराए| हमें पूरे दिल से ये प्रतिज्ञा करनी चाहिये कि हम अपने शिक्षक का सम्मान करेंगे क्योंकि बिना शिक्षक के इस दुनिया में हम सभी अधूरे हैं.

Teachers Day Essay in Hindi का मेरा यह लेख यही पर समाप्त हो रहा है, यदी आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो अपने जानकारों (छोटे या बड़े भाई बहन, दोस्त या फिर रिश्तेदारो) के साथ सोशल मीडिया के माध्यम से शेयर ज़रूर करे और हाँ कमेंट के माध्यम से हमे बताना मत भूलिए की यह लेख आपको कैसा लगा ?

निबंध ⇓

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमे आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

4 thoughts on “Teachers Day Essay in Hindi – शिक्षक दिवस पर हिंदी निबंध – जानिए क्यों मनाया जाता है यह त्यौहार !”

  1. Techers Day की जानकारी और वह भी हिंदी में पढ़कर मजा आ गया आपका धन्यबाद

    Reply

Leave a Comment