Speech on Independence Day in Hindi – 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर भाषण सभी देशभक्तों के लिए

Speech on Independence Day in Hindi के इस देशभक्ति लेख में आप सभी भारत देशवासियों का HimanshuGrewal.com पर हार्दिक स्वागत है| आप सभी भारत देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ|

आज मै आपके साथ 15 August Speech in Hindi Language में शेयर करने जा रहा हूँ जिसको आप अपने स्कूल और कॉलेज में 15 अगस्त पर भाषण दे सको.

इससे पहले भी में Independence Day Speech in Hindi Language में लिख चूका हूँ जिसको अधिकतम लोगो ने पसंद भी करा हैं.

अगर आप भी वो इंडिपेंडेंस डे स्पीच पढ़ना चाहते हो तो आप Independence Day Best Speech in Hindi Font पर क्लिक करके देशभक्ति भाषण पढ़ सकते हो.

तो आईये दोस्तों, Speech on Independence day in Hindi के इस प्रेरणादायक भाषण को पढ़ना शुरू करते है और 15 अगस्त के लिए अपना भाषण तैयार करते है.

नोट :- अगर आपको Independence Day Hindi Essay (भाषण) पसंद आये तो इस स्पीच को आप अपने स्कूल में इस्तेमाल जरुर करें और कमेंट करके बताए की आपको यह स्पीच कैसी लगी| (15 अगस्त हिंदी स्पीच  को शेयर करना न भूले 🙂 )

Best Speech on Independence Day in Hindi For School & College Students

15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर भाषण

आदरणीय प्रधानाचार्यजी, सभी अध्यापकगण और मेरे प्यारे मित्रों, आज हम सब यहाँ स्वतंत्रता दिवस मनाने के लिए एकत्रित हुए हैं.

आजादी कहें या स्वतंत्रता ये ऐसा शब्द है जिसमें पूरा आसमान समाया है.

आजादी एक स्वाभाविक भाव है यदि बीज को भी धरती में दबा दें तो वो धूप तथा हवा की चाहत में धरती से बाहर आ जाता है क्योंकि स्वतंत्रता ही जीवन है| स्वतंत्रता के बिना जीवन का कोई अस्तित्व ही नही!

व्यक्ति को पराधीनता में चाहे कितना भी सुख प्राप्त हो किन्तु उसे वो आनन्द नही मिलता जो स्वतंत्रता में कष्ट उठाने पर भी मिल जाता है| तभी तो कहा गया है कि पराधीन सहनेहूँ सुख नहीं.

सदियों से भारत अंग्रेजों की दासता मन था, उनके अत्याचार से जन-जन त्रस्त था| खुली फिजा में साँस लेने को बेचैन भारत में आजादी का पहला बिगुल 1857 में बजा किन्तु कुछ कारणों से हम गुलामी के बंधन से मुक्त नही हो सके.

वास्तव में आजादी का संघर्ष तक अधिक हो गया जब बाल गंगाधर तिलक ने कहा कि “स्वतंत्रता हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है”.

अनेक क्रातिकारियों और देशभक्तों के प्रयास तथा बलिदान से आजादी की गोरव गाथा लिखी गई है.

जिस देश में चंद्रशेखर, भगत सिंह, राजगुरु, सुभाष चंद्र बोस, रामप्रसाद बिस्मिल जैसे क्रांतिकारी तथा गाँधी, तिलक, पटेल, जवाहरलाल नेहरु जैसे देशभक्त मोजूद हों उस देश को गुलाम कोन रख सकता था.

आखिर देशभक्तों के महत्पूर्ण योगदान से 15 अगस्त 1947 को अंग्रेजों की दासता एवं अत्याचार से हमें आजादी प्राप्त हुई थी.

ये आजादी अमूल्य है क्योंकि इस आजादी में हमारे असंख्य भाई-बंधुओ का संघर्ष, त्याग तथा बलिदान समाहित है.

ये आजादी हमें उपहार में नही मिली है| वंदे मातरम् और इंकलाब जिंदाबाद की गर्जना करते हुए अनेक वीर देशभक्त फांसी पर झूल गए.

13 अप्रैल 1919 को जलियाँवालाहत्याकांड, वो रक्त रंजित भूमि आज भी देश-भक्त नर-नारियों के बलिदान की गवाही दे रही है.

आजादी अपने साथ कई जिम्मेदारियां भी लाती है, हम सभी को जिसका ईमानदारी से निर्वाद करना चाहिए किन्तु क्या आज हम 71 वर्षों बाद भी आजादी की वास्तविकता को समझकर उसका सम्मान कर रहे है?

आलम तो ये है कि यदि स्कूलों तथा सरकारी दफ्तरों में 15 अगस्त न मनाया जाए और उस दिन छुट्टी न की जाए तो लोगों को याद भी न रहे कि स्वतंत्रता दिवस हमारा राष्ट्रिय त्यौहार है जो हमारी के सबसे अहम दिनों में से एक है.

वैलेंटाइन डे को स्वतंत्रता दिवस से भी बड़े पर्व के रूप में मनाया जा रहा है. इसीलिए तो कवी प्रदित ने कहा है.

|| ऐ मेरे वतन के लोगों, जरा आँख में भर लो पानी
जो शहीद हुए हैं उनकी, जरा याद करो क़ुरबानी ||

आज हम जिस खुली फिजा में साँस ले रहे हैं वो हमारे पूर्वजों के बलिदान और त्याग का परिणाम है.

हमारी नैतिक जिम्मेदारी बनती है कि मुश्किलों से मिली आजादी की रूह को समझें .

आजादी के दिन तिरंगे के रंगो का अनोखा अनुभव महसूस करें इस पर्व को भी आजाद भारत के जन्मदिवस के रूप में पूरे दिल से उत्साह के साथ मनाएँ.

स्वतंत्रता का मतलब केवल सामाजिक और आर्थिक स्वतंत्रता ही नही है इस स्वतंत्र देश के नागरिक होने के नाते हमे अपने आप से ये वादा करना है कि हम अपने देश को विकास की ऊँचाइयों तक ले जायेंगे और भारत को फिर से सोने की चिड़िया बनाएगे ताकि हमारे देशभक्तों और शहीदों का बलिदान व्यर्थ ना जाए!

|| जय हिन्द, भारत माता की जय, वन्दे मातरम् ||

इंडिपेंडेंस डे स्पीच फॉर टीचर्स – 15 अगस्त स्पीच इन हिंदी फॉर स्कूल स्टूडेंट्स

Best Speech on Independence Day in Hindi For School & College Students

15 अगस्त भारतवर्ष का एक राष्ट्रीय त्यौहार है| 15 अगस्त, 1947 का दिन भारत देश के इतिहास में सुनेहरो अक्षरों से लिखा गया है| इस शुभ दिन पर हमारा देश सैंकड़ो वर्षो की अंग्रेजी पराधीनता से स्वंतंत्र हुआ था.

अनेको आत्मबलिदान के त्याग और सैंकड़ो महापुरुषों के संघर्ष एवम तपस्या से यह आज़ादी हमे मिली है| तभी से भारत के करोड़ो नागरिक इस त्यौहार को “स्वंतंत्रता दिवस” के रूप में बड़े हर्ष और उल्लास से मनाते हैं.

इस अवसर पर सभी विद्यालय, कार्यालय, कारखाने, संस्थान और बाजार बंद रहते हैं| इस दिन प्रत्तेक वर्ष भारतवर्ष की राजधानी दिल्ली में लाल किला की प्राचीर पर प्रधानमंत्री राष्ट्रीय ध्वज फहराते है तथा देशवासियों के नाम संदेश देते हैं.

राष्ट्रीय ध्वज को 21 तोपों की सलामी दी जाती है, तत्पश्चात “जन गण मन अधिनायक जय है” राष्ट्रीय गान होता है.

स्वतंत्रता तथा समृधि का प्रतीक यह दिवस भारत के कोने-कोने में बड़ी धूम-धाम से मनाया जाता है| 15 अगस्त की सुबह राष्ट्रीय स्तर के नेतागण पहले राजघाट आदि समाधियो पर जाकर महात्मा गांधी आदि राष्ट्रीय नेताओ तथा स्वंतंत्रता-सेनानियों को श्रधांजलि अर्पित करते है फिर लाल किले के सामने पहुच कर सेना के तीनो अंगो (वायु, जल व स्थल सेना) तथा अन्य बलों की परेड का निरिक्षण करते है तथा उन्हें सलामी देते हैं.

15 अगस्त को सभी सरकारी कार्यालयों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाता है तथा सभी लोग अपने घरो व दुकानों पर राष्ट्रीय-धवज फहराते है|

इस दिन रात्री के समय कार्यालय व अनेक विशेष स्थानों पर विघुत-प्रकाश किया जाता है| इसकी सुन्दरता के कारण भारत की राजधानी दिल्ली एक नववधू-सी लगने लगती है.

सभी स्कूलों व कॉलेज में यह पर्व एक दिन पूर्व अर्थात 14 अगस्त को ही मना लिया जाता है| इस दिन स्कूलों में बच्चो को फल, मिठाइयो आदि विपरीत की जाती है|

देश भर में नाना प्रकार के कार्यक्रम होते है| लेख-भाषण प्रतियोगिता, कवि सम्मलेन आदि का आयोजन होता है|

स्वतंत्रता जीवन का एक महान मूल्य है| जैसे मन को शांति, हृदय को प्यार-स्नेह और भूखे को अन्न चाहिए वैसे ही व्यक्ति को स्वतंत्रता चाहिए|

15 अगस्त भारत के गौरव व सौभाग्य का पर्व है| यह पर्व हम सभी के हृदयों में नवीन स्फूर्ति, नवीन आशा, उत्साह तथा देश-भक्ति का संचार करता है| यह स्वंतत्रता-दिवस हमे इस बात की याद दिलाता है कि इतनी कुर्वानियाँ देकर जो आजादी हमने प्राप्त की है, उसकी रक्षा हमे हर कीमत पर करनी है| चाहे हमे उसके लिए अपने प्राणों की आहुति की क्यों न देनी पड़े.

इस प्रकार पूरी उमंग और उत्साह के साथ इस राष्ट्रीय पर्व को मनाकर हम राष्ट्र की स्वतंत्रता तथा सार्वभौमिकता की रक्षा का प्रण लेते है.

भारत का गणतंत्रता दिवस ⇓

मेरे प्यारे देशभक्तों, मुझे उम्मीद है की Speech on Independence day in Hindi आपको पसंद आई होगी और आप इस स्पीच को अपने भाषण में इस्तेमाल करेंगे.

आपको 15 August Best Hindi Speech कैसी लगी हमको कमेंट के माध्यम से जरुर बताये और इस स्पीच को जितना हो सके फेसबुक, ट्विटर, गूगल+ और व्हाट्सएप्प पर शेयर करें जिससे बाकि लोग भी अपने लिए स्पीच तैयार कर सके. 🙂 आपको इंडिपेंडेंस डे की हार्दिक शुभकामनाएँ!

Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमे आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

16 thoughts on “Speech on Independence Day in Hindi – 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर भाषण सभी देशभक्तों के लिए”

  1. Bahut Badiya bhai :*
    Aise hi Jankari share karte rhi ye.
    Your content was very useful or helpful. Actually Your totally blog was impressive.

    @Regards
    Sagar_Chauhan

  2. yes….really it’s very nice but…..there are some mistakes in words.

    If it is possible to improve then do that…..

    Thanks

  3. It is very nice and beatiful speech but if you showed the present condition of India then his beautifulness is most valuable.

  4. Thank uu very much…very nice speech..it helped me in writing my speech which i will be speaking on independence day…keep it up

  5. Actually in Hindi speech it’s also important to maintain fluency of world.And please try to write some special meaning word which are not too much common.
    Great job ….

Leave a Comment