प्रधानाचार्य को प्रार्थना पत्र (वर्दी तथा पुस्तकों के लिए)

हेल्लो प्यारे बच्चो और प्रिय मित्रों आप सभी का HimanshuGrewal.com पर बहुत-बहुत स्वागत है. आज हम सिखेंगे की प्रधानाचार्य को प्रार्थना पत्र कैसे लिखें. आज में आपको प्रार्थना पत्र लिखने का तरीका बताऊंगा की कैसे पत्र लिखते है.

प्रार्थना पत्र format जो होगा वो हिन्दी भाषा में होगा जिससे की आपको और अच्छे से समझ अ पाए और आप अच्छे से सिख सखो. तो आईये प्रार्थना पत्र इन संस्कृत का यह आर्टिकल अब शुरू करते है.

अगर आपको किसी ओर विषय पर पत्र लिखना है जैसे की छोटे भाई को पत्र या फिर पिताजी को पत्र तो आप नीचे दिए गये लिंक पर क्लिक करके अपने मन पसन्द के पत्र को लिख सकते हो.

नोट: अभी में आपको वर्दी तथा पुस्तकों के लिए प्रधानाचार्य को पत्र कैसे लिखे उसके बारे में बताने जा रहा हूँ. अगर आपको किसी और चीज के उपर प्रधानाचार्य को प्रार्थना पत्र लिखना है तो आप थोडा बहुत चेंज कर सकते हो.

प्रार्थना पत्र लिखने का तरीका

प्रधानाचार्य को प्रार्थना पत्र, Prarthana patra in hindi

सेवा में,

श्री प्रधानाचार्य जी,

हैप्पी टाइम पब्लिक स्कूल,

भजनपुरा, दिल्ली-110053

मान्यवर,

सविनय निवेदन है कि मेरे पिताजी की मासिक आय बहुत थोड़ी है | घर में हम 3 भाई बहन है | घर का सामान्य खर्च भी बड़ी कठिनाई से चलता है | इस कारण पिताजी मुझे वर्दी और पुस्तकें दिलाने में असमर्थ है.

अत: आप छात्र निधि से मुझे वर्दी और पुस्तकें दिलाने की व्यवस्था कर दें | मैं अपनी श्रेणी में सदा प्रथम या द्वितीय रहता हूँ | कृपा के लिए आभारी रहूँगा |

अग्रिम धन्यवाद सहित|

आपका आज्ञाकारी शिष्य

हिमांशु

(कक्षा 6)

दिनांक 10 दिसम्बर 2017

प्रधानाचार्य को प्रार्थना पत्र का यह आर्टिकल अब यही पर खत्म हुआ और मुझे पूरी आशा है की आपको यह आर्टिकल पसन्द आया होगा.

अगर यह आर्टिकल आपको लगता है की अच्छा है, इसमें जितनी भी जानकारी है आपको पसन्द आई तो प्लीज अपना कमेंट हमारी इस वेबसाइट पर जरुर करें. आपका फीडबैक हमारे लिए बहुत इम्पोर्टेन्ट है और इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया जैसे की फेसबुक, ट्विटर और गूगल+ पर शेयर जरुर करें. धन्यवाद!

3 Comments

  1. Rakesh
  2. Rakesh