Health & Beauty

Personality Development in Hindi – व्यक्तित्व विकास के 6 ज़बरदस्त टिप्स

Written by Himanshu Grewal

अगर आप अपनी पर्सनालिटी में कुछ सुधार लाना चाहते हैं तो Personality Development in Hindi का यह लेख सिर्फ और सिर्क आपके लिए लिखा है| इसको अंत तक पढ़िए और अपनी व्यक्तित्व विकास को इम्प्रूव करिए.

यह बात तो बिलकुल सच है की हर इन्सान में एक अलग तरह की खूबी है, जो उस इन्सान को औरो से अलग बनाता हैं.

बस परेशानी इतनी है, वो खूबी हमे अपने अंदर से ढून्ढ के निकालनी होगी जिससे हम अपने आपको कुछ अलग साबित कर सके.

हम रोज़ाना बहुत से लोगों से मिलते हैं पर कुछ एक लोग ही ऐसे होते हैं जो हमें प्रभावित कर जाते हैं, ऐसे लोगों के लिए ही हम कहते हैं कि, the person has got a pleasant personality.

ऐसी पर्सनालिटी वाले लोग अक्सर खुशहाल होते हैं और उनकी हर जगह रेस्पेक्ट होती है, उन्हें पसंद किया जाता है, और काम में इन्हें प्रमोशन भी जल्दी मिलता है.

पर्सनालिटी में सुधार लाने के लिए सोचते वक़्त हमारे दिमाग में कुछ प्रशन उठते हैं-

  • कैसे सुधारे पर्सनालिटी?
  • प्रैक्टिस कैसे करेंगे?
  • प्रैक्टिस करते वक़्त हम कैसे दिखेंगे?
  • इसमें कितना वक़्त लग सकता है?

मै आपके मस्तिष्क में उठने वाले हर एक प्रशन का उत्तर दूंगा, तो आइये अब हम Good Personality Tips in Hindi जानते हैं-

इसे भी पढ़े ⇒ शरीर को स्वस्थ रहने के घरेलू और आयुर्वेदिक उपाय हिंदी में

Best Tips for Personality Development in Hindi Language

Best Tips for Personality Development in Hindi Language

क्या आप जानते हैं की काफी बच्चे बड़े-बड़े इंस्टिट्यूट में Personality Development Training in Hindi and English के कोर्सेज को भी करने जाते हैं, क्यूंकि आज के समय में पर्सनालिटी सबसे पहले जज की जाती हैं.

पर्सनालिटी एक इंग्लिश शब्द है, जिसका हिन्दी अर्थ है – व्यक्तित्व आइये हम सबसे पहले हम थोड़ी चर्चा व्यक्तित्व विकास पर करते हैं.

व्यक्तित्व विकास के द्वारा एक जड़ता और अरुचि की अवस्था में फँसा व्यक्ति, उत्साही, प्रसन्न और लक्ष्य की और प्रेरित व्यक्ति के रूप में परिवर्तित हो जाता है.

व्यक्तित्व विकास की प्रक्रिया में व्यक्ति अपने अनूठेपन को बिना किसी हिचकिचाहट और सीमाओं के बंधन के साझा करना सीखता है, ख़ुशी मनाना सीखता है और ये सब और अधिक उत्साह के साथ होता है.

इसे भी पढ़े ⇒ मानसिक तनाव कैसे दूर करे (घरेलू उपाय और अचूक मंत्र)

How To Develop Personality Development and Communication Skills in Hindi

How To Develop Personality Development and Communication Skills in Hindi

  • Observe and Improve ⇒ दोस्तों मै आपको बताना चाहूँगा की पर्सनालिटी डेवलपमेंट टिप्स एक on-going process है, हम सब में सुधार की ज़रुरत हमेशा ही रहती है.

इसलिए कभी ये मत समझिये कि बस अब जिंतना सुधार होना था हो गया, बल्कि अपने लिए कुछ समय निकाल कर अपनी activities, अपने शब्दों को observe करिए|

जैसे की आपने क्या किया, आप उसे और अच्छा कैसे कर सकते हैं, कहीं ऐसा तो नहीं कि आप किसी चीज को लेकर खुद को तीस-मारखां समझ रहे हैं और हकीकत में लोग आपकी इस बात को पसंद नहीं करते.

  • दूसरों की सराहना (appreciate) करे ⇒ चाहे मैं हूँ, आप हों, या फिर मिस्टर अमिताभ बच्चन जी ही क्यों ना हो तारीफ सुनना सबको पसंद है, लोगों का दिल जीतने का और अपना दोस्त बनाने का ये एक शानदार तरीका है|

प्रशंशा कीजिये, इसका मतलब यह नहीं की आप झूट बोलिए हमेशा सच्ची प्रशंशा कीजिये|

  • अपने External Appearance पर काम करे ⇒ यह बात तो आप भी ज़रूर बोलते होंगे की “फर्स्ट इम्प्रैशन इस दा लास्ट इम्प्रैशन” तो दोस्तों हमारी इमेज तो हमारे पहले appearance से बनता है तो इस वजह से आपको इस पॉइंट पर ज़रूर गौर फरमाना चाहिए.

दोस्तों Appearance शब्द से मेरा ये मतलब नहीं है कि आप Gym जाने लगिए और सेहत बनाइये, या फिर ब्यूटी पार्लर के चक्कर लगाते रहिये.

इसका सिंपल अर्थ है कि आप त्यौहार के हिसाब से त्यार होईये और साफ़ सफाई पर खास ध्यान दीजिये, छोटी–छोटी बातें जैसे कि आपका बाल, नाख़ून और आपके जूते (polished) आपकी पर्सनालिटी पर प्रभाव डालते हैं.

  • रियेक्ट कैसे करते है ⇒ आप जो बोलते हैं उससे भी अधिक महत्त्व रखता है कि आप कैसे बोलते हैं| इस लिए अपनी टोन और बॉडी लैंग्वेज पर ध्यान दीजिये, जितना हो सके शांत और well-mannered तरीके से लोगों से बात करिए.

यहाँ मैं ये भी कहना चाहूँगा कि बहुत से लोग इंग्लिश बोलने की एबिलिटी को पर्सनालिटी से जोड़ कर के देखते हैं, जबकि ऐसा नहीं है, आप बिना A,B,C जाने भी एक प्रभावशाली व्यक्तित्व वाले इंसान बन सकते हैं.

  • बोलने से पहले सुनिए ⇒ आप किसे अधिक पसंद करेंगे : जो अपने मतलब की बात करे या उसे जो आपके मतलब की बात करे?

बेशक आप दूसरा सेलेक्ट करेंगे… हर एक इंसान पहले खुद को रखने में लगा हुआ है| मैं ऐसा हूँ, मुझे ये अच्छा लगता है, मैं ये करता हूँ…. isn’t it? पर आप इससे अलग करिए आप “I” से पहले “You” को रखिये.

जब आप दूसरे में रूचि लेते हैं तो इसमें ईमानदारी होनी चाहिए| आपने “आप क्या पसंद करते हैं?” इसलिए नहीं पूछा कि बस वो जल्दी से अपना जवाब ख़तम करे और आप अपनी राम-कथा सुनाने लग जाएं.

आपको सामने वाले को सिर्फ पहले बोलने का मौका ही नहीं देना है, बल्कि उसकी बात को ध्यान से सुनना भी है और बीच-बीच में उससे मिलते-जुलते और भी बातें करनी हैं.

अच्छे listeners की मांग कभी कम नहीं होती आप एक अच्छा listener बनिए और देखिये कि किस तरह आपकी मांग बढ़ जाती है.

  • नाम याद रखे साथ ही एक प्यारी स्माइल के साथ बात करे ⇒ किसी व्यक्ति के लिए उसका नाम दुनिया के बाकी सभी नामों से ज्यादा महत्त्व रखता है.

इसिलए जब आप किसी से बात करें तो बीच-बीच में उसका नाम लेते रहिये, बेशक अगर व्यक्ति आपसे वरिष्ठ (senior) है तो आपको नाम के साथ ज़रूरी suffix या prefix लगाना होगा.

बीच-बीच में नाम लेने से सामने वाला अपनी महत्व महसूस करते हैं और साथ ही आपकी तरफ ध्यान भी अधिक देता है. और जरूर वो इस बात से खुश होता है कि आप उसके नाम को महत्व दे रहे हैं.

जब आप अपने सबसे अच्छे मित्र से मिलते हैं तो क्या होता है? आप एक दूसरे को देखकर स्माइल करते हैं ना?

मुस्कुराना जाहिर करता है कि आप सामने वाले को पसंद करते हैं, यही बात हर तरह की रिश्ते में लागू होती है, इसलिए आप जब भी किसी से मिलें तो चहरे पर एक स्माइल लाइए, इससे लोग आपको पसंद करेंगे, आपसे मिलकर खुश होंगे.

आपकी मुस्कुराहट के जवाब में मुस्कुराहट न मिले ऐसा कम ही होगा, और होता भी है तो कोई बात नहीं आपको अपने आपको अच्छे से दिखाना है बस. 🙂 क्योंकि अगर आप अच्छे बन गये तो आपको दुनिया अपने आप अच्छी दिखने लगेगी.

दोस्तों मेरा Personality Development in Hindi Tips का ये लेख यही समाप्त हो रहा है, आप इसी तरह से बाकी पॉइंट्स की भी प्रैक्टिस करते रहिये, और कुछ ही महीनों में आप पाएंगे कि एक साथ सारी बातों पर ध्यान दे पा रहे हैं.

Just be patient and keep on moving, and surely आप जल्द ही एक pleasant personality (सुखद व्यक्तित्व) के मालिक होंगे.

इनको भी जरुर पढ़े⇓ 🙂

इस आर्टिकल को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद, आशा है आपके प्रशन How To Develop Your Personality in Hindi Language में उत्तर मिल गया होगा.

अगर आपको Personality Development in Hindi के लेख में रोचक जानकारी मिली है तो इस आर्टिकल को आप अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करे| और अगर आपके पास कोई प्रशन या सुझाव है तो कमेंट के माध्यम से हमारे साथ शेयर कर सकते है.

About the author

Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमे आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

Leave a Comment