1xbet.com
Happy New Year

Happy New Year Essay in Hindi Language – नव वर्ष पर हिंदी निबंध

New Year Essay in Hindi Language
Written by Himanshu Grewal

आप सभी को आने वाले नव वर्ष की ढेरो शुभकामनाएँ! 🙂 आज के इस लेख में हम New Year Essay के विषय में चर्चा करेंगे|

दोस्तों क्या आप जानते है की यु तो पुरे विश्व में हैप्पी न्यू ईयर मनाया जाता है लेकिन समय हर जगह का अलग अलग है|

खास कर हमारे देश भारत में नये साल की शुरुआत हर जगह अलग-अलग समय पर होता है|

लेकिन दोस्तों अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार 1 जनवरी से नए साल की शुरूआत मानी जाती है| चूंकि 31 दिसंबर को एक वर्ष का अंत होता है और 1 जनवरी से नए अंग्रेजी कैलेंडर वर्ष की शुरूआत हो जाती है.

इसलिए इस दिन को पूरी दुनिया अपने-अपने तरीके से नया साल शुरू होने के उपलक्ष्य में पर्व की तरह पुरे उल्लास के साथ मनाती है|

Contents

2018 New Year Essay – नए साल पर निबंध

एक नया वर्ष एक नई शुरूआत को दर्शाता है और हमेशा ज़िन्दगी में आगे बढ़ने की सीख देता है|

पुराने साल में हमने जो भी किया, सीखा, सफल हुए या असफल हुए उससे सीख लेकर, एक नई उम्मीद के साथ आगे बढ़ना चाहिए|

जिस प्रकार हम पुराने साल के समाप्त होने पर दुखी नहीं होते बल्‍कि नए साल का स्वागत बड़े उत्साह और खुशी के साथ करते हैं, ठीक उसी तरह जीवन में भी बीते हुए समय को लेकर हमें कभी भी दुखी नहीं होना चाहिए.

जो बीत गया उसके बारे में सोचने से हमे तकलीफ ही मिलती है तो ऐसा ना कर के आने वाले अवसरों का स्वागत करें और उनके जरिए जीवन को खुशहाल और बेहतर बनाने की कोशिश करें.

Essay on Happy New Year in Hindi Font

दोस्तों क्या आप जानते हैं की भारत में हर चीज़ हिंदी कैलेंडर के हिसाब से निश्चित की जाती है? और हिंदी कैलेंडर के हिसाब से भारत में नया साल कभी भी 1 जनवरी को नहीं आता है.

भारत के कुछ हिस्से में नववर्ष का आगाज गुड़ी पड़वा से होता है, वही कुछ हिस्से में होली ख़तम होने के बाद नया साल शुरू होता है|

भारत के पडोसी देश चाइना में फरवरी के माह में नववर्ष मनाते हैं|

लेकिन अब भारत वासी भी इंग्लिश कैलेंडर के हिसाब से 1 जनवरी को ही नया साल धूम-धाम से मनाते हैं|

चलिए जानते है भारत वासी 1 जनवरी को न्यू इयर क्यों मनाते हैं-

1 जनवरी का इतिहास – New Year Essay in Hindi

1 जनवरी को नया साल मनाना सभी धर्मों में एकता कायम करने में भी महत्वपूर्ण योगदान देता है, क्यूंकि इसे सभी मिलकर एक साथ मनाते हैं|

31 दिसंबर की रात से ही कई स्थानों पर अलग-अलग समूहों में इकट्ठा होकर लोग नए साल का जशन मनाना शुरू कर देते हैं और रात 12 बजते ही सभी एक दूसरे को नए साल की शुभकामनाएं देते हैं.

मेरे लिए नये साल का मतलब है, नई उम्मीदें, नए सपने, नए लक्ष्य, नए आईडियाज के साथ इसका स्वागत किया जाता है|

अब हम अब जानते हैं की नया साल मनाने की मान्यता क्या है?

ऐसा मना जाता है कि साल का पहला दिन अगर उत्साह और खुशी के साथ मनाया जाए, तो साल का हर दिन इसी उत्साह और खुशियों के साथ ही बीतेगा|

चलिए अब हम जानते हैं की किस उल्लास के साथ न्यू इयर मनाया जाता है-

नव वर्ष एक उत्सव की तरह पूरे विश्व में अलग अलग स्थानों पर अलग अलग विधियों से मनाया जाता है|

ज्य़ादातर देशों में नव वर्ष 31 दिसम्बर की रात को 12 बजे के बाद 1 जनवरी को मनाते है|

आज कल छोटे-छोटे बच्चो से लेकर बड़े-बूढ़े मिल कर पार्टी करते हैं, खान पान का आयोजन करते हैं|

नए साल की खुशी में कई स्थानों पर पार्टी भी आयोजित की जाती है जिसमें नाच-गाना और स्वादिष्ट व्यंजनों के साथ-साथ मजेदार खेलों के जरिए मनोरंजन का प्रबंध भी किया जाता है.

कुछ लोग धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन कर ईश्वर को याद कर नए साल की शूरूआत करते हैं|

काफी लोग अपने परिवार जनो के साथ घुमने या पिकनिक का आयोजन कर मौज मस्ती करते हैं|

काफी लोग अपने दोस्तों के साथ फिल्म देखने, घुमने फिरने, क्लब या मॉल भी जाते है|

और कुछ लोग मेरे जैसे होते हैं जो ठण्ड की वजह से रजाई में ही बैठ के अपना पूरा दिन उस रजाई में निकल देते हैं| :p

दोस्तों आज कल तो हर त्यौहार हर इंसान मनाने लगेगा है, लेकिन यह प्रमुख त्यौहार इसाई धर्म के लोगो का है|

वो इसे बिलकुल एक त्यौहार स्वरुप चर्च में जा के अपने गॉड को याद कर मोमबत्ती जला के अच्छी तरह से उस दिन को मनाते हैं|

इनको भी जरुर पढ़े⇓

प्रिय मित्रो मेरा आज का New Year Essay का यह लेख यही समाप्त हो रहा है, अगर आपको मेरा ये आर्टिकल अच्छा लगा हो तो कमेंट कर के बताइए और शेयर करना ना भूले|

आपका नया साल खुशियों के साथ जाये येही हम दुआ करते है| 🙂 आप सभी को हिमांशु ग्रेवाल की और से Happy New Year 2018.

About the author

Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमे आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

Leave a Comment