NCC क्या है ? राष्ट्रीय कैडेट कोर की सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में

NCC क्या है बताने से पहले में आपको एनसीसी की फुल फॉर्म बता देता हूँ.

NCC की फुल फॉर्म राष्ट्रीय कैडेट कोर है यह भारत का सैन्य कैडेट कोर है जो छात्र और छात्राओं को सैन्य प्रशिक्षण प्रदान करता है| इसका मुख्यालय नई दिल्ली में है यह देश के युवाओं को जागृत करने और उनमे जोश लाना और सेना में हिस्सा लेने के लिए प्रोत्साहित करता है.

एनसीसी स्वैच्छिक रूप से स्कूल और कॉलेज के छात्रों के लिए खोला गया है| हमारे भारत की नौसेना, वायु सेना, थल सेना इन NCC Cadet को ट्रेनिंग देती है.

सबसे पहले एनसीसी की शुरुआत जर्मनी में हुई थी| भारत में एनसीसी की शुरुआत 1948 में हुई थी.

सेना की कमी के कारण एन सी सी की उत्पत्ति की गयी थी| एनसीसी के तीन सर्टिफिकेट होते है| ‘A’,’B’, ‘C’ ये तीन सर्टिफिकेट एनसीसी कैडेट प्राप्त कर सकता है.

इन तीनो सर्टिफिकेट में प्रवेश करने के नियम अलग अलग होते है| एनसीसी को तीन स्कन्ध में बाँटा गया है:-

  1. थल सेना
  2. वायु सेना
  3. नौसेना

ठाठ एनसीसी कैडेट को प्रशिक्षण के आधार पर तीन डिवीज़न में बाटा गया है:-

  1. सीनियर डिवीजन
  2. जूनियर डिवीजन
  3. गर्ल्स डिवीजन

अब देश में 15 लाख से ज्यादा एनसीसी कैडेट है जबकि इसकी शुरुआत के समय यह सिर्फ 20,000 के साथ ही शुरू हुई थी.

NCC का मोटो एवं उद्देश्य – NCC क्या है ?

एनसीसी का मोटो ‘एकता और अनुशासन’ है| ‘unity and discipline’

NCC के मोटो को 12 अक्टूबर, 1980 को अपनाया गया था|

NCC के तीन मुख्य उद्देश्य है:-

  1. देश के युवाओं में चरित्र सहचर्य, नेतृत्व, अनुशासन, धर्मनिरपेक्षता, रोमांच और निस्वार्थ सेवा भाव का संचार करना|
  2. संघटित प्रशिक्षित व् प्रेरित युवाओं का एक मानव संसाधन तैयार करना जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में नेतृत्व प्रदान करना व् देश की सेवा के लिए सदैव तत्पर रहना|
  3. सशस्त्र सेना में करियर बनाने के लिए युवाओं को प्रेरित करना और उचित वातावरण प्रदान करना|

एनसीसी गीत के बोल – NCC क्या है ?

NCC गान ‘हम सब भारतीय है’ यह सभी NCC कैडेट को अच्छे से याद रहता है इसके उद्देश्य एनसीसी कैडेट्स के मन से भेदभाव की भावना दूर कर सबको एकता का मार्ग दिखाना है.

हम सब भारतीय है गीत के लेखक सुदर्शन फ़ाकिर है इनको अपने पहले गाने के लिए ही फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार मिला था.

एनसीसी ध्वज – What is NCC in Hindi

एनसीसी का ध्वज तिन रंगों की पट्टी में बना हुआ है|

  1. पहली पट्टी लाल रंग की है|
  2. बीच वाली पट्टी नीले रंग की है|
  3. तीसरी पट्टी आसमानी रंग की है जो क्रमशः: थल सेना, वायु सेना, नो सेना को दर्शाता है|

ध्वज के बीच में दो गेहूं की बालियां बनी है| ध्वज के मध्य में एनसीसी शब्द स्वर्ण रंग से NCC का ध्येय सूत्र या मोटो ‘एकता और अनुशाशन’ लिखा होता है|

एनसीसी में शामिल होने के नियम – Information About NCC in Hindi

राष्ट्रीय कैडेट कोर में नामांकन अपनी इच्छा के अनुसार होता है| कैंडिडेट तेरह वर्ष की आयु में एनसीसी में शामिल हो सकता है| यह प्रशिक्षण दो वर्ष का होता है|

यहाँ आपकी उम्र तेरह वर्ष से सत्रह से अठारह वर्ष तक होती है| यहा प्रशिक्षण आपको स्कूल के अंतरगर्त दिया जाता है इसे जूनियर डिवीज़न कहते है और इसके बाद आप जब विद्यालय में पहुच जायेंगे तब आप बचे एक साल का प्रशिक्षण करेंगे| यहा आप सीनियर डिवीज़न में होंगे.

यदि आप एनसीसी में प्रवेश चाहते है तो कक्षा ग्यारह में इसे स्कूल में एडमिशन ले जहा पर NCC हो| वहा आपको NCC मिल जाएगी|

अगर आप बारहवी पास कर चुके है तो आप इसे डिग्री कॉलेज में प्रवेश ले जहा पर NCC का प्रशिक्षण दिया जाता हो| वहा आप ग्रेजुएशन के साथ साथ एनसीसी का तीन साल का प्रशिक्ष्ण पूरा कर लेंगे.

एनसीसी के दस दिवसीय प्रशिक्षण शिविर का समापन – NCC Information For Schools in Hindi

एनसीसी में कई तरह के शिविर लगाये जाते है जिनमे अलग अलग रूप से कैडेट्स को प्रशिक्षण दिया है | यहा पर कैडेट की पूरी जिम्मेदारी एनसीसी की ही होती है.

कैडेट को उसकी बटालियन से लेकर जाने से शुरू करने से पूरे दस दिन का प्रशिक्षण देने के बाद वापस उसकी बटालियन तक ही छोड़ने की पूरी जिम्मेदारी एनसीसी की होती है|

अब मै आपको कुछ एनसीसी शिविर के नाम बताता हूँ|

  1. एनुअल ट्रेनिंग कैंप
  2. इंटर ग्रुप कंपटीशन कैंप
  3. थल सेना कैंप
  4. नो सेना कैंप
  5. वायु सेना कैंप
  6. रोक स्लीपिंग कैंप
  7. आल इंडिया ट्रैकिंग कैंप
  8. एडवेंचर ट्रेनिंग कैंप
  9. आल इंडिया माउंटेन ट्रेनिंग कैंप
  10. पैरा ट्रेनिंग कैंप
NCC के फायदे – NCC Profit in Hindi – NCC क्या है ?

एनसीसी के सर्टिफिकेट ‘C’ के धारक के लिए रक्षा सेवा में कमीशन हेतु निम्न पद आरक्षित है|

  • आर्मी ⇒ IMA [इंडियन मिलिट्री एकेडमी] देहरादून और SSB के INTERVIEW में प्रत्येक वर्ष 64 रिक्तिया OTA  [ऑफिसर ट्रेनिंग एकेडमी] चेन्नई शॉर्ट सर्विस कमीशन के लिए प्रतिवर्ष 100 रिक्तिया|
  • नौसेना ⇒ प्रत्येक कार्य के लिए 6 रिक्तियां और SSB इंटरव्यू में पॉइंट्स|
  • एयर फोर्स ⇒ उड़ान प्रशिक्षण कोर्स सहित सभी कोर्स में 10 प्रतिशत कवक SSB साक्षात्कार सैनिक, नो सैनिक, वायु सैनिक की भर्ती में 5 से 10 प्रतिशत तक बोनस अंक दिए जाते है और जिन धारको के पास ‘C’ सर्टिफिकेट होता है उनकी कोई लिखित परीक्षा नहीं होती है छूट दी जाती है|

डिग्री कॉलेज में प्रवेश लेने पर यदि प्रवेश होने में समस्या आती है या अंक कम होते है तो आपको एनसीसी कैडेट होने की वजह से प्रवेश होने में समस्या नही आएगी और एनसीसी कैडेट होने की वजह से आपके अंको में 2 प्रतिशत की बढ़ोतरी की जाएगी.

आज मैंने आपको एनसीसी के बारे में बताया है| अब मै आप सबको एक बात और बतादू की एनसीसी ईएसआई संस्था है जहा आपको हर चीज सरकार द्वारा दी जाती है.

जब भी आप किसी शिविर में जायेंगे तब आपसे कोई पैसा नही लिया जायेगा| आपका आने जाने रहने खाने पिने सभी का पैसा सरकार देती है.

एनसीसी एक अकेली संस्था ईएसआई है जहा कैडेट को सेना की तरह का प्रशिक्षण बिलकुल निशुल्क दिया जाता है| आप सबको एनसीसी में प्रवेश अवश्य लेना चाहिए इससे आपके व्यक्तित्व में एक अलग ही रूप आ जायेगा और आप बाकि समान्य लोगो से कुछ अलग लगेंगे एनसीसी आपको प्रभावित भी बनाती है.

आज मैंने आपको NCC क्या है के बारे में सब कुछ बता दिया है| अगर आपको अन्य कुछ पूछना है तो कमेंट के जरिये पूछ सकते है अथवा अगर आप अपनी कुछ बात शेयर करना चाहते हो तो कमेंट के माध्यम से अपनी बात हमारे साथ शेयर कर सकते हो.

अन्य लेख ⇓

12 Comments

  1. Vishu December 5, 2018
  2. Adip December 9, 2018
  3. Ravi kumar December 13, 2018
  4. Kanchan Rathore January 12, 2019
  5. Surendra kumar January 29, 2019
    • Tejpal February 9, 2019
  6. Aanshi February 24, 2019
  7. Diptul linku February 28, 2019
  8. Basram March 24, 2019
  9. prashant kumar April 4, 2019
  10. Ajay koirala May 24, 2019

Leave a Reply