2 लडको की Motivational Stories in Hindi | आपको Boost करने वाली मोटिवेशनल कहानी

आज में आपको ऐसी Motivational stories in hindi बताने जा रहा हूँ जो आपको काफी inspire करेगी| यह एक ऐसी inspirational stories है जो आपको life में कभी ना हार माने उसके लिए प्रेरित करेगी|

यह 2 लडको की कहानी है inspirational kahani है जो age में काफी छोटे है पर फिर भी मुस्किलो का सामना कैसे करे वो इनसे सीखना चाहिए|

तो आईये जानते है की क्या करा इन लडको ने खेल-खेल में और कैसे यह हमको inspire करेगी|

यह एक short stories hai hindi मैं अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगे तो आप comment करके हमको बता सकते हो की आपको यह केसी लगी और इसको आप social media पर शेयर भी कर सकते हो|

Motivational Stories in Hindi for Students

यह Motivational Kahani है दो बच्चो कि जो एक गाँव (village) मैं रहते थे| उनसे से एक 6 साल का था और दूसरा 10 साल का|

दोनों बहुत अच्छे दोस्त थे बिलकुल शोले के जय और वीरू जैसे:- दोनों हमेशा साथ-साथ खेलते, साथ-साथ लड़ते, साथ-साथ खाते पीते|

तो एक दिन वो दोनों गाँव से थोडा दूर निकल गए और खेलते खेलते उनमे से जो बड़ा लड़का था 10 साल वाला वो कुए मैं गिर गया और जोर-जोर से चिकने और चिल्लाने लग गया| क्योंकि उसको तेरना नही आता था|

Inspirational Stories in Hindi

अब जो दूसरा लड़का था छोटा-सा 6 साल का, उसने अपने आस-पास देखा और उसको कोई नजर नही आया उसको कोई नही दिखा| जिससे की वो बुला सके किसीको हेल्प के लिए|

अब उसकी नजर पड़ी एक बाल्टी पे जिसपे एक रस्सी बन्दी पड़ी थी| उसने एक second भी खराब नही करा उसने उस बाल्टी को उठा करके उस कुए में फेक दिया और अपने दोस्त को बोला की पकडले इसको|

उसके दोस्त से उस बाल्टी को पकड़ा और वो 6 साल का लड़का अपनी पूरी ताकत लगा करके उस बाल्टी को खीचने लग गया|

खिचता रहा, खिचता रहा, अपनी पूरी जान लगादी उस लडके ने 6 साल वाले ने और 10 साल वाले लडके ने उस बाल्टी को पकड़ा हुआ था किचता रहा-खिचता था और तब तक नही रुका जब तक उसका दोस्त उस कुए से बहार न आ आया|

अब यहा तक तो ठीक था यहा तक तो यह Motivational stories in hindi समझ मैं आती है| लेकिन हुआ क्या की जैसे ही यह दोनों बच्चे, जब दोनों एक हो गए जब बाहर आये आ करके गले मिल रहे है, रो रहे है, खुस हो रहे|

एक तरफ से उनको डर भी लग रहा था| डर था की अब गाँव में जायेंगे तो बहुत पिटाई होगी जब बतायेंगे उनको हम की कुए में गिर गए और ये सब चीजे हुई|

लेकिन मजे की बात तो यह है की ऐसा कुछ भी नही हुआ| वो जब गाँव गए और जा करके उन्होंने अपने घरवालो को बताया बाकि के गाँव वालो को बताया तो किसीने भी विशवास नही करा पुरे गाँव वालो ने और वो अपनी जगह बिलकुल ठीक थे|

क्यूंकि उस लडके में इतनी भी ताकत भी नही थी की वो पानी से भरी हुई बाल्टी को उठा भी सके| तो इतने बड़े लडके को इतनी उपर खिचना बहुत दूर की बात है|

लेकिन एक आदमी था उस गाँव मै, उसने विशवास कर लिया| उनको सब रहीम चाचा कहते थे| उस गाँव के सबसे समझदार बुजुर्गो में से एक और सबको लगा की यार यह कभी झूट नही बोलते अगर यह कह रहे है तो जरुर कोई-न-कोई बात होगी जिस वजह से यह सब कह रहे है|

और फिर सरे गाँव वाले इकट्टा हो करके उनके पास में गये और जा करके बोले की देखोगी हमको तो कुछ समझ नही आ रहा आप ही बतादो, की ऐसा कैसे हो सकता है|

तो उनको हसी आ गयी| वो बोले की यार इसमें में क्या बताऊ, वो लड़का बता तो रहा है की उसने यह कैसे किया|

बाल्टी तो उठा करके उसने कुए मैं फेका, उसके दोस्त से बाल्टी को पकड़ा, उसने रस्सी को खीचा और अपने दोस्त को बचा लिया तो आपको पता तो है उसने कैसे किया बच्चा बता तो रहा है इसमें में क्या बताऊ

सारे गाँव वाले उनकी शक्ल देखरे फिर कुछ देर बाद वो बोले की सवाल यह नही है की वो छोटा-सा बच्चा यह कैसे कर पाया? सवाल यह है की वो यह क्यों कर पाया?

की उसके अन्दर इतनी ताकत कहा से आयी और बोले इसका सिर्फ एक जवाब है सिर्फ एक की जिस समय उस लड़ने ने यह किया, उस time पे उस जगह पर दूर-दूर तक कोई भी नही था उस लडके को यह बताने वाला की तू यह नही कर सकता|

उधर कोई नही था कोई नही यहा तक की वो खुद भी नही, वो खुद भी नही

वैसे तो सब लोगो का अपना-अपना ओपिनियन होता है की आपको यह स्टोरी पडकर क्या सिखने को मिला| पर मैं आशा करता हूँ की आपने इस स्टोरी को positive way मैं लिया होगा और बहुत कुछ सिखा होगा|

की अगर आपको अपने उपर पूरा भरोसा है तो दुनिया की कोई ताकत नही है जो आपको रोक सके| आप खुद भी नही 🙂

और Motivational आर्टिकल आपके लिए 🙂

आपको यह Inspirational / Motivational stories in Hindi केसी लगी? आप हमको कमेंट करके बता सकते हो और ऐसी short motivational story के बारे में जानना है तो आप हमारी वेबसाइट www.HimanshuGrewal.com पर दुबारा जरुर आए|

इस बेस्ट मोटिवेशनल कहानी को अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूले|

यह कहानी संदीप महेश्वरी sir की विडियो से ली गई है|

Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमे आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

89 thoughts on “2 लडको की Motivational Stories in Hindi | आपको Boost करने वाली मोटिवेशनल कहानी”

  1. बहुत ही प्रेरणादायक कहानी है सर, आप ऐसे ही कहानी लिखता रहा करो सर.

  2. Namste sir , aapki kahani padkar bahut hi acha lga
    aap lagatar esi hi motivational stories likhte rahe
    jisase YUVA varg ko sahi guide milta rahe.

  3. हिमांशु जी आपने कहानी बहुत अच्छी लिखी है ऐसे ही लिखती रहिएगा मैं आपसे जानना चाहता हूं कि आप कौन सी थीम यूज करते हैं इस ब्लॉग पर
    धन्यवाद

  4. Rambha Sahani( Bihar )
    9 July, 2017 at 5:57 am

    Sir apne ye jo kahani likhi h o bht interested ur mjedar esne meri life me bht si changing la diya

    Maine kv socha nhi tha ki m v kuch kr paungi ,m 100. Kya 10 persons ke bich me nhi bol pati thi ,pr aj m 10000 kya LAKHO, CRORO logo ke bich me bol leti hu.

    Ur mere under sikhne ke liy hmesa dedication bna rhta h ur aj m ye khti hu ki I can Do It.

    Thanx sir for give me changing

    • Welcome 🙂 मुझे बहुत ख़ुशी है की ये कहानी आपके लिए उपयोगी रही 🙂 आपका कॉन्फिडेंस ऐसे ही बना रहे ये हम दुआ करते है और इस कहानी को सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें जिससे आपकी तरह और लोगो की भी मदद हो सके.

  5. Senior ji…story to sbhi achi lgti h apki…ek junoon b paida hota h..but problm ye h ki koi rasta ni mil rha seccess hone ka

    • रास्ता हमको खुद ढूँढना होगा. आप अकेले कई बैठे और सोचे की आपको अपनी लाइफ में क्या करना है, फिर प्लैनिंग बनाये और धीरे धीरे उसको करना शुरू करें.

  6. Sir mai ek direct selling company me kam karta hu par kuch dinose target pura nahi kar pa raha hu isi tention me dimag bahut gram ho jata he kuch sujta hi nahi blank ho jata hu please replay me is par koi upay he kya

    • 2 स्टेप पीछे लो और सोचो की ऐसा क्या हो रहा है जिससे आप अपने टारगेट पुरे नही कर पा रहे हो और अगर प्रॉब्लम का पता चल जाये तो उसको ठीक करने का प्रयास करें.

  7. nice story sir such me sir u r great thinker.sir i am civil engineer but mughe ab job nhi mil rahi hai jiske karan me frausted ho chuka hu.jabki sir mera placement ho chuka ta par mane apne stisfaction ke karan join nai kia.8878463825 kya ap mughe motivate kar sakte hai plz sir.

  8. Nice bhai apne bilkul sahi bat kahi h story me agr hamare a as pas aisha koi n ho jo hame ye kah sake ki tu to ye kr hI nhi sakta to shayad ham baht age nikal jaye jaise vo deaf kachue ki story. I inspire from this story. Great job ☺☺☺☺

  9. nice story. अच्छी मोटिवेशनल कहानी शेयर की है आपने.

  10. आदरणीय यह कहानी मैंने बचपन में अपने शिक्षक से सुना था, क्या यह आपकी लिखी हुई है या सिर्फ आपने साझा किया है ?

    • यह कहानी संदीप महेश्वरी जी ने अपनी एक सेमिनार में बोला था| यह कहानी वही से ली गई है|

  11. sir ma apka regular visit karta hu ab ma apki website ke liye guest post likna chahata hu please email me successstoryhindi.com @gmail.com

  12. सर , मैं आपकी हर post पड़ता हूँ और आपकी हर पोस्ट काफी अच्छी होती हैं ।
    ये कहानी भी दिल को छू गया ।
    मैं उम्मीद करता हूं आप हमेशा ही ऐसे ही बेहतरीन पोस्ट करते रहेंगे ।
    जिद्दी मेढक – motivational story in hindi सफल होना चाहते हैं तो इन बात को नजरअंदाज करना सीखें

  13. Vakai me ye ek bahut hi acchi story hai. mene ise sundeep sir ki ek video me suna tha. Aaj apne vo vichar phir se jaga diye man ke. Thanks Himanshu Ji.

  14. The moral u have taught us by this story is valuable. It has a deep impact in our life… I will try hard to impliment this to my life… Thanks and keep us motivated…

  15. Dear himanshu Ji aap ki site ka look bhute hi aacha hai aur aap jo bhi post dalte hai kafi aacha hota hai aap ke site per humko motivational and self help se related jankariya milti hai jo ki aaj ne yuva students and har us person ke liye fayda karti hai jo aapne life bahatare karna chata hai thanks for kind support for us.

    • अपने विचार हमारे साथ शेयर करने के लिए आपको दिल से धन्यवाद| ऐसे ही हमारे साथ बने रहे|

  16. बहुत ही अच्छी स्टोरी थी sir मै कामना करता हूँ कि इस तरह की कहानियाँ आप भविष्य मे लाते रहे धन्यवाद इस तरह की कहानी के लिए।
    सफलता की कोई उम्र नहीं होती।

  17. बहुत ही अच्छी blog थी sir मै कामना करता हूँ कि इस तरह की blog आप भविष्य मे लाते रहे धन्यवाद इस तरह की blog के लिए।

  18. Himanshu Grewal ji aap ne bahut hi acchhe se describe kiya hai. isi prkar hmko apni stories se prerit karte rahiye. Mujhe motivational stories padhna bahut hi achha lagta hai.

Leave a Comment

0 Shares
Share via
Copy link