आईटीआर क्या है और इनकम टैक्स रिटर्न कैसे भरें ?

आज के इस लेख में आपको ITR से जुड़ी जानकारी प्राप्त होने वाली है, यदि आपको यह जानकारी ग्रहण करनी है की आईटीआर क्या है तो इस लेख को पढ़ सकते हैं.

दोस्तों जबसे मोदी सरकार आई है, भारत में बहुत बदलाव आया है और जैसा कि आप जानते ही होंगे की आजकल अधिकतर चीजें Income Tax के दायरे में आ गयी है, अर्थात हर चीज टैक्स से जुड़ चुकी है.

यदि आप इनकम टैक्स रिटर्न क्या है और इनकम टैक्स कैसे भरें के बारे में कुछ भी नही जानते है तो शायद आप समय पर इनकम टैक्स नही भर पाओगे और इसके लिए यकीनन ही आपको कुछ इंटरेस्ट और पेनल्टी भी देना पड़ेगी.

भारत देश के नागरिक होने के नाते यह आपकी ड्यूटी है कि आप हर साल के Financial Year (वित्तीय वर्ष) के अंत में हुए आय की डिटेल, इनकम टैक्स विभाग को दे.

यह डिटेल आपको आपके द्वारा काम करने वाली कंपनी के द्वारा तय करके ही फॉर्म में भरकर देनी होती है, यदि आप इसके बारे में और अधिक जानना चाहते है तो इसके लिए हमारी पोस्ट को शुरू से अंत तक जरुर पढ़े.

तो चलिये अब समय को न बर्बाद करते हुए, बढ़ते हैं आगे और सबसे पहले जानते हैं कि ITR क्या है, इसके बाद इस लेख में मैं आपको बताऊँगा कि आईटीआर कैसे भरें? तो चलिये शुरू करते हैं.

जरुर पढ़े : आरटीजीएस, एनईएफटी और आईएमपीएस में क्या अंतर है?

आईटीआर क्या है – What is ITR in Hindi

ITR Kya Hai – ईटीआर क्या है ? जानने से पहले हम जान लेते हैं कि आईटीआर की फूल फोर्म क्या है?

ITR Full Form : Income Tax Return

इनकम टैक्स कमाई गई राशि पर लगने वाला टैक्स होता है, जिसे हर कमाने वाले व्यक्ति को सरकार को देना होता है| फिर चाहे वो व्यक्ति एक सरकारी नौकरी करे या फिर किसी प्राइवेट कंपनी में|

यदि सरकारी नौकरी है तो आपकी सैलरी आने से पहले ही टैक्स कट जाता है, और यदि आपका कोई बिजनस है तो आप अपने एम्प्लोयी को टैक्स काट कर ही सैलरी देंगे.

इतना ही नहीं यदि आपने अपनी किसी भी चीज की दुकान जैसे किराना स्टोर, मेडिकल स्टोर, कपड़ो की दुकान कोई रेस्टोरेंट इत्यादि खोली हुई है तो यह आपका फर्ज़ बनता है कि आप खूद अपना इनकॉम टैक्स समय पर जमा करा दें.

अब दोस्तों, यहाँ एक सवाल यह उत्पन होता है कि Income Tax Return क्या है? तो चलिये अब मैं आपको इस सवाल का जवाब देता हूँ.

महत्वपूर्ण जानकारी ⇓

आईटीआर क्या है – आयकर रिटर्न क्या होता है ?

जब आप एक फॉर्म को भर कर अपना एक साल का ब्योरा देते हैं जिसमे आप यह बताते हैं कि एक साल में आपने कितना पैसा कमाया है, सरकार को पोस्ट या ऑनलाइन सेवाओं के माध्यम से बताते हैं|

तब आपके द्वारा दी गई जानकारी को इनकम टैक्स की कंपनी जाचती है, यदि उनकी जाँच के तहत आपकी दी गई जानकारी गलत निकलती है तो आपको उसकी सजा भी मिल सकती है इसलिए मैं तो यही कहूँगा कि हमेशा सही जानकारी ही डाले.

बाकी, आज कल सरकारी दफ्तरो के साथ-साथ प्राइवेट सैक्टर की इनकम भी अब ऑनलाइन ही डाइरैक्ट अकाउंट में आने लगी है तो यकीनन ही जाँच करना इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के कर्मियों के लिए और आसान हो गया है.

आइए अब जानते हैं कि इनकम टैक्स भरता कौन-कौन है, अर्थात मैं आपको बता दूँ कि इसमें भी कई कैटेगरी बनाई गई तो चलिये अब वह जानते हैं.

जरुर पढ़े ⇓

ITR 1 Information in Hindi

ITR 1 : जिन लोगो को उनकी सैलरी, पेंशन, या ब्याज से उनकी इनकम होती है तथा जिस व्यक्ति के पास एक मकान हो, उसने हाउस लोन लिया हो उन सभी के द्वारा यह फॉर्म भरा जाता है.

ITR 2 Form Information in Hindi

ITR 2 : यदि आपकी इनकम सैलरी, पेंशन या ब्याज के अलावा एक से ज्यादा घर से आने वाले रेंट से होती है तो आपको यह वाला फॉर्म भरना है कैपिटल गेन, Dividend और दुसरे Source जैसे- Lottery से प्राप्त होने वाली आय के लिए भी यही फॉर्म भरा जाता है.

Information About ITR 3 in Hindi

ITR 3 : जो लोग किसी फर्म या किसी तरह के बिजनस में पार्टनर बने है और उसकी आय का स्रोत फर्म को होने वाले प्रॉफिट, सैलरी, पेंशन और दूसरे साधनों से होने वाली इनकम से होती है, यह फोरम उनके द्वारा भरा जाता है.

Information About ITR 4 in hindi

ITR 4 : यह फॉर्म सभी Professional व्यक्तियों जैसे- वकील, CA, डॉक्टर आदि के लिए होता है वह व्यक्ति जो किसी बिजनस में पार्टनरशिप के तौर पर और इसके साथ-साथ प्रोफेशनल इनकम भी प्राप्त करता हो उन्हें यह फॉर्म भरना होता है.

ITR 4s Form Detail in Hindi

ITR 4s : यह फॉर्म उन खास कर लोगों के लिए है जिनके पास एक से ज्यादा हाउस प्रॉपर्टी हो, खेती से 5000 से ज्यादा इनकम हो, कमीशन और विदेशी स्रोतों से होने वाली इनकम के लिए भी यही फॉर्म भरना होता है|

इसके साथ ही एक बार आप नीचे दिए गए पॉइंट्स को भी ध्यान से पढ़ लीजिये:-

  1. यदि आपकी इनकम 2.50 लाख से ज्यादा है तो आपको ITR भरना चाहिए|
  2. यदि आपने अपनी कोई कंपनी खोली है तब भी आपको ITR भरना चाहिए|
  3. मान लीजिये कि आपकी इनकम 2.50 लाख से कम है लेकिन आपके नाम से पेमेंट कर दी है तो वहाँ पर आपको रिफंड पाने के लिए ITR भरना पड़ेगा|

इसके साथ ही दोस्तो ITR भरने के लिए आपके पास पैन कार्ड, आधार कार्ड का होना आवश्यक है| इनकम टैक्स रिटर्न भरने के लिए आम आदमियों के लिए अंतिम तारिक 31 जुलाई और कंपनी के लिए 30 सितम्बर होती है.

आइए दोस्तों, अब ITR से जुड़ी सबसे महत्वपूर्ण जानकारी जानते हैं – ITR कैसे भरते हैं?

Income Tax Return Kaise Bhare – इनकम टैक्स रिटर्न कैसे भरें

ये एक तरह की एक ऐसी समस्या है जिससे काफी लोग जुज रहे हैं, इसलिए मैं इस लेख को पढ़ने वाले सभी रीडर से यही अनुरोध कर रहा हूँ कि आप इस लेख को अपने सभी दोस्तों एवं जानकारों के साथ सोश्ल मीडिया के माध्यम से जरूर शेयर करें.

ITR भरने से पहले आपके लिए जरूरी है कि आप Income Tax Return की सीमा को जाने-

  1. जिन व्यक्तियों की आय 2,50,0000 रु से कम है उनके लिए कोई Tax नही होता है|
  2. वही दूसरे उम्र के ग्रुप के लिए 2.5 लाख से 5 लाख तक आय पर 0-5% टैक्स होता है|
  3. भिन्न लोगों की उम्र के हिसाब से 5 लाख से 10 लाख तक की इनकम करने वालो के लिए 20% का Tax मान्य है|

जैसा आपने ऊपर पढ़ा की जिन व्यक्ति की एक साल में 5 लाख रुपया से ज्यादा की आय होती है, उन्हें ऑनलाइन टैक्स भरना होता है| तो चलिये अब इस प्रक्रिया को स्टेप से समझते हैं.

आईटीआर क्या है – आईटीआर कैसे भरें ?
  • सबसे पहले आपको इनकम टैक्स की वेबसाइट (www.incometaxindiaefiling.gov.in) पर अपना एक अकाउंट बनाना होगा|
  • जब आपका अकाउंट एक बार बन जाता है उसके बाद आपकी User Id जो की आपका पैन कार्ड नंबर होगा और आप अपने पासवर्ड खुद सेट करेंगे|
  • उसके बाद आप अपनी डिटेल्स (User ID, Password, Date Of Birth और Captcha Code) भर के लॉगिन पर क्लिक करें|

नोट ⇒ लॉगिन करने के बाद आपकी स्क्रीन पर आईटीआर का होम पेज खुलेगा| जहाँ दायें साइड ऊपर पर आपका नाम लिखा देखेगा|

  • होम पेज पर आने के बाद आप Quick E-file ITR पर क्लिक करके अपनी Return File करना चालू कर सकते है|
  • अब आपके सामने एक Page Open होगा वहां पर आपका पैन कार्ड नंबर लिखा हुआ दिखाई देगा|
  • ITR Form Name में आपको Salaried Employees के लिए ITR-1 Select करना है और Assessment Year अभी 2019-20 Select करना है|
  • अब आपके फाइल में जो आपको एड्रेस भरना है, यहाँ पर आप उसी एड्रेस को डाले जो आपके पैन में डाला गया है|
  • अगर आपके पास Digital Signature है तो Yes पर क्लिक करें वरना No पर क्लिक करें अंत में Submit पर क्लिक करें| Submit पर जब आप क्लिक करेंगे तो आपका टैक्स रिटर्न भर जायेगा और इस तरह आपकी Return File करने की प्रक्रिया भी पूरी हो जाएगी|
  • इसके बाद आपको आपके रिटर्न को वेरिफ़ाई यानि जाँच करवाना होगा इसके लिए आपके पास तीन चार विकल्प आएँगे|
  • उन्ही तीन विकल्प में से आप अपने ITR के लिए आधार OTP प्राप्त करना चाहते है| आप इस विकल्प को चुन ले इसके बाद आपके आधार नंबर से Linked मोबाइल नंबर पर एक OTP आयेगा|
  • OTP डालने के बाद आपको ITR का E-verification का मेसेज मिल जायेगा|

तो दोस्तों, इस तरह से आप अपना ITR File कर सकते है, यदि आपको कोई डाउट है तो आप कमेंट करके पूछ लीजिए| आशा है आपको इस लेख से कुछ न कुछ जानने और सीखने को मिलेगा|

जितना हो सके इस लेख को शेयर करें और आईटीआर क्या है से जुडी जानकारी को दूसरों के साथ बाटे|

Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमे आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

Leave a Comment

0 Shares
Share via