Christmas Day

क्रिसमस डे क्यों मनाया जाता है? (हिन्दी निबंध)

Christmas Essay in Hindi
Written by Himanshu Grewal
Subscribe to our YouTube channel 🙏

प्यारे बच्चों, Christmas Essay in Hindi को शुरू करने से पहले आप सभी को हिमांशु ग्रेवाल की तरफ से क्रिसमस की शुभकामनाएँ.”

क्रिसमस के दिन सभी लोग बहुत मस्ती करते है फिर चाहे वो हिन्दू हो, ईसाई हो या पंजाबी सभी इस त्योहार को धूम धाम से मनाते हैं और Christmas Images Download करके WhtasApp, Facebook, Twitter पर शेयर करते हैं।

इतना ही नही सब लोग क्रिसमस पर कविता का लेख पढ़ते है और उसको भी शेयर करते है.

वैसे कुछ लोग ऐसे भी है जिनको यह तक नहीं पता होता की Christmas क्या है.

अगर आपको भी नहीं पता की क्रिसमस डे क्यों मनाया जाता है तो इस लेख में मैंने इसकी पूरी जानकारी शेयर करी है। जिसको School Students, College Student और वो सभी लोग पढ़ सकते है जिनको क्रिसमस के बारे में नहीं पता है

Christmas Essay in Hindi For Class 1, 2, 3, 4

Christmas Essay in Hindi

Information on Christmas festival in Hindi

क्रिसमस जिसको दूसरे शब्दों में बड़ा दिन भी बोलते है।

Christmas Festival को ईसा मसीह या यीशु के जन्म दिवस की खुशी में मनाया जाता है.

क्रिसमस डे को हर साल 25 दिसम्बर को मनाया जाता है और इस दिन पूरा देश इस पर्व का काफी आनंद लेता है.”

अगर बात करे यीशु के जन्म की तो एन्नो डोमिनी प्रणाली के आधार पर यीशु मसीह का जन्म c. 4 BC में हुआ था।

सभी लोगों ने आप सभी को यह बताया होगा की इस दिन यीशु मसीह का जन्म हुआ था इसलिए यह त्योहार मनाया जाता है पर wikipedia ने अपने आर्टिकल पर लिखा है कि 25 दिसम्बर यीशु मसीह के जन्म की कोई ज्ञात वास्तविक जन्म तिथि नहीं है.”

  • तो यह कहना मुश्किल है कि 25 दिसम्बर को ईसा मसीह का जन्म हुआ भी था या नही.

Merry Christmas Festival के दिन स्कूल में छुट्टियां होती है, सभी लोग एक दूसरे को उपहार देते है और चर्च में सजावट का कार्य करना शुरू कर देते है.

क्रिसमस फेस्टिवल में आपको काफी सारी सजावट देखने को मिलेगी जैसे की क्रिसमस का पेड़ (Christmas Tree), रंग बिरंगी रोशनियाँ, जन्म के झाँकी और हॉली आदि आपको इस त्योहार में देखने को मिलेगा.

क्रिसमस में सांता क्लॉज़ का भी एक बहुत बड़ा रोल है। Santa clause (अगर बोले तो इसे क्रिसमस का पिता भी बोल सकते है) इनको बच्चों को तोहफे देने के नाम से जोड़ा जाता है और सभी बच्चे सांता का इंतजार करते है की कब सांता आएंगे और हमको गिफ्ट देंगे.”

क्रिसमस, ईसाइयों का सबसे बड़ा त्योहार है और आज कल कई गैर ईसाई लोग भी इस त्योहार को बहुत उल्लास के साथ मनाते है.

क्रिसमस को हर देश में अलग-अलग दिन मनाया जाता है। कोई इसे 24 दिसम्बर को मनाता है तो कोई 6 जनवरी को…

ब्रिटेन और अन्य राष्ट्रमंडल देशों में इस त्योहार को 26 दिसम्बर को मनाया जाता है (बॉक्सिंग डे के रूप में). Armenian Apostolic Church Christmas को 6 जनवरी के दिन मनाते है.

Essay on Christmas in Hindi For Class 1, 4, 7, 8, 9

मेरे प्यारे दोस्तों एवं भाई बहनों जैसा कि आप जानते हैं कि क्रिसमस एक वार्षिक त्योहार है, जिसे ईसाइयों द्वारा बड़े उत्साह एवं उल्लास के साथ मनाया जाता है।

यदि आपको यह ज्ञात नहीं है तो मैं आपको बता देना चाहता हूँ कि ईसाई धर्म का यह त्यौहार यीशु मसीह के जन्म को चिह्नित करने के लिए मनाया जाता है और दुनिया भर में इसे हर साल 25 दिसंबर को मनाया जाता है.

दोस्तों, क्या आप जानते हैं कि जिस प्रकार हमारे अर्थात हिन्दू धर्म के सभी त्योहार के साथ कोई ना कोई कहानी या रीति रिवाज जुड़ी हुई है ठीक उसी तरह से क्रिसमस के उत्सव के साथ बहुत सारे रीति-रिवाज जुड़े हैं जो कि एक राष्ट्र से दूसरे राष्ट्र में भिन्न होते हैं.

क्रिसमस का उत्सव मूल रूप से सजावट और खरीदारी आदि के साथ लगभग एक सप्ताह पहले शुरू होता है, मुख्य अवसर क्रिसमस की पूर्व संध्या जिसे इंग्लिश में Christmas Eve कहा जाता है। वह पिछली शाम से ही शुरू होता है जो क्रिसमस से पहले रात को पड़ता है.

ईसाई धर्म के कई लोग क्रिसमस की पूर्व संध्या पर चर्च में विशेष प्रार्थना और सेवाओं का भुगतान करते हैं और धर्मनिरपेक्ष मूल और विषयों का आदर करते हैं।

बढ़ते समय के साथ कई लोगों ने उत्सव की शैली को बदल दिया है और अब वो आधुनिक रीति-रिवाजों का पालन करने लगे हैं, जैसे कि:-

  1. थीम आधारित पार्टियों का आयोजन करते हैं।
  2. अपने घरों को भव्य रूप से सजाते हैं।
  3. अपने स्थानों पर दोस्तों और रिश्तेदारों को आमंत्रित करते हैं।
  4. उपहारों और मिठाइयों का आदान-प्रदान करते हैं, इत्यादि।

वही वास्तव में, क्रिसमस ट्री, सांता क्लॉज और इस त्योहार पर ‘A Christmas Carol’ का विशेष स्थान है क्योंकि वह आज भी कई लोगों के आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं.

क्रिसमस के दिन, स्कूल और कार्यालय बंद रहते हैं और बहुत से लोग त्योहारी सीजन के दौरान लंबे आउटिंग की योजना बनाने में सक्षम होते हैं।

दिसंबर का पूरा महीना उत्सव के मूड में रंग जाता है और यह महीना वास्तव में अपने साथ ढेर सारी खुशियां लेकर हम सभी की ज़िंदगी में आता है.

इस प्रकार लोग एक दूसरे को “मेरी क्रिसमस” कह कर एक-दूसरे को गले लगाते हैं।

लोग एक-दूसरे के लिए सुख, समृद्धि, अच्छे स्वास्थ्य और सौभाग्य की कामना करते हैं जैसे यीशु ने सभी को प्रेम और शांति के संदेश को हर जगह फैलाना सिखाया। इस प्रकार, यह त्योहार दुनिया भर के लोगों के लिए पसंदीदा त्योहारों में से एक बना रहेगा.

इसे भी पढ़े ⇓

  1. Jingle Bells Song Lyrics in English
  2. Hindi Christmas Songs Lyrics
  3. Jingle Bell Poem Lyrics in Hindi

10 Sentences About Christmas in Hindi

10 Lines About Christmas in Hindi

10 Lines About Christmas in Hindi

  1. क्रिसमस का त्योहार 25 दिसम्बर के दिन मनाया जाता है।
  2. क्रिसमस ईसाइयों का सबसे बड़ा त्योहार है।
  3. घरों को साफ़ किया जाता है, गिफ्ट का आदान प्रदान किया जाता है।
  4. क्रिसमस को बड़ा दिन के नाम से भी जाना जाता है।
  5. इस दिन ईसा मसीह (यीशु का जन्म हुआ था)
  6. इस दिन चर्च को सजाया जाता है और क्रिसमस ट्री को भी सजाया जाता है।
  7. सांता क्लॉज़ को क्रिसमस के पिता के नाम से जाना जाता है।
  8. दुनिया भर के अधिकतर देशों में क्रिसमस 24 दिसम्बर को मनाया जाता है।
  9. ब्रिटेन में क्रिसमस 26 दिसम्बर को बॉक्सिंग डे के रूप मे मनाया जाता है।
  10. क्रिश्चियन समुदाय के लोग क्रिसमस को हर साल 25 दिसम्बर को मनाते है।

अगर आपको इसके बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप विकिपीडिया पर इसके बारे में पढ़ सकते हो.

Christmas Essay in Hindi 10 Lines

Christmas Day Greeting Card

Christmas Day Greeting Card

क्रिसमस का परिचय

क्रिसमस ईसाई धर्म का पालन करने वाले लोगों के सबसे महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है। यह त्योहार यीशु मसीह के जन्म की याद दिलाता है और हर साल 25 दिसंबर को मनाया जाता है.

दुनिया भर में लोगों को इस त्योहार के प्रति बहुत आकर्षण है। भारत में क्रिसमस को राजपत्रित अवकाश के रूप में घोषित किया जाता है और लोग, चाहे उनकी जाति और धर्म कुछ भी हो, इस त्योहार को बड़े उत्साह के साथ मनाने लगे हैं.

क्रिसमस की पूर्व संध्या (Christmas Eve)

क्रिसमस की पिछली संध्या पर क्रिसमस की पूर्व संध्या मनाई जाती है। पूर्व संध्या को कई रीति-रिवाजों और परंपराओं को देखते हुए मनाया जाता है।

इसकी सबसे लोकप्रिय प्रथाओं में से एक, जिसका पालन आज भी इटली, पोलैंड, स्पेन, मैक्सिको आदि जैसे अधिकांश कैथोलिक देशों में क्रिसमस के मौसम पर किया जाता है.

जैसा कि आप जानते होंगे कि ईसाई धर्म के व्यक्ति मांस खाना ज्यादा पसंद करते हैं लेकिन क्रिसमस के मौके पर कुछ उपवास करते हैं और कुछ क्रिसमस की पूर्व संध्या के दौरान मांसाहारी भोजन से बचते हैं और मुख्य क्रिसमस भोजन मिडनाइट मास चर्च सर्विस के बाद खाना खाते है.

आज भी, क्रिसमस की पूर्व संध्या को विशेष मान्यता प्राप्त है और लोग आधी रात से मुख्य उत्सव के लिए उत्साहित हो जाते हैं.

Paragraph on Christmas in Hindi
  • क्रिसमस की घंटी और पेड़

क्रिसमस की घंटी, विशेष रूप से चर्च की घंटियों का युगों से क्रिसमस से जुड़ा विशेष महत्व है।

कैथोलिक और एंग्लिकन चर्चों में जो घंटियाँ होती हैं, वह आमतौर पर क्रिसमस सेवा की शुरुआत का संकेत देने के लिए बजाई जाती है.

क्रिसमस ट्री का एक और महत्वपूर्ण हिस्सा है, एक विशाल देवदार के पेड़ को सजाया जाता है और उसे मुख्य प्रवेश द्वार पर या उस स्थान पर रखा जाता है, जहां यह आसानी से स्थित हो सकता है.

अलग-अलग लोग पेड़ को अलग-अलग तरीके से सजा सकते हैं। कुछ चॉकलेट, छोटे उपहार बॉक्स, घंटी आदि का उपयोग करते हैं, लेकिन रंगीन और जगमगाती रोशनी सजावट के मुख्य आकर्षण है.

Information About Christmas Festival in Hindi Language
  • क्रिसमस समारोह

क्रिसमस को अलग-अलग देशों में अलग-अलग तरीके से मनाया जाता है। पिछले कुछ वर्षो में यह पाया गया है कि भारत में, लोगों को इस त्योहार के लिए बहुत रुचि है.

क्रिसमस के मुख्य अवसर पर पूरे शहर को सजाया जाता है और लोग इस त्योहार का आनंद लेने के लिए एक दूसरे से मिलते हैं.

कुछ ईसाई पारंपरिक क्रिसमस का हलवा मनाते हैं और इस हलवे को खाकर, वह उत्सव के अंत को चिह्नित करते हैं.

लोग घरों या कार्यालयों में पार्टी करते हैं, नए कपड़े पहनते हैं और एक दूसरे के साथ उपहार और मिठाइयों का आदान-प्रदान करते हैं ठीक उसी प्रकार से जैसे हम दीवाली एवं होली पर करते हैं.

स्कूलों में भी क्रिसमस बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है, बच्चों को लाल और सफेद कपड़े पहनने के लिए कहा जाता है, स्कूल का एक कर्मचारी ‘सांता क्लॉज़’ की नकल करता है और बच्चों को चॉकलेट और मिठाई देता है.

निष्कर्ष

अंत में मैं सिर्फ इतना कहना चाहूँगा कि गैर-ईसाई के लिए भी क्रिसमस एक महत्वपूर्ण त्योहार है क्योंकि एक सप्ताह के बाद “नया साल
आता है। इस प्रकार, पूरे 15 दिन लोग दावत एवं आनंद में शामिल रहते हैं.

दोस्तों और प्यारे बच्चों Christmas Essay in Hindi मतलब क्रिसमस पर निबंध का यह लेख अब यही पर खत्म हुआ.

आपको यह लेख कैसा लगा कमेंट करके हमको जरूर बताए और इस लेख को अपने दोस्तों के साथ social media पर शेयर करना न भूले.

About the author

Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमें आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

4 Comments

Leave a Comment