Children's Day त्यौहार

Children’s Day Poem on Chacha Nehru in Hindi

Children's Day Poem on Chacha Nehru in Hindi
Written by Himanshu Grewal
FREE YouTube Video Tutorials

प्यारे बच्चों, यदि आप अपने विद्यालय में आने वाले बाल दिवस के उपलक्ष पर हो रहे प्रतियोगिता में बाल दिवस पर कविता बोलना चाहते है और उसी की खोज में इस लेख तक आ पहुचे है तो आप सही जगह पर हैं। क्योंकि आज के इस लेख में, मैं बाल दिवस कविता अपडेट करने जा रहा हूँ। जो कि बहुत ही आसानी से आप याद करके स्टेज पर बोल कर सुना सकते हैं।

आप और मैं हम सभी जानते है कि भारत में बाल दिवस यानि बच्चों का दिन भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जी (पंडित जवाहरलाल नेहरू) के जन्म दिन के दिन 14 नवम्बर के दिन मनाया जाता है। अब आप शायद यह सोच रहे होंगे कि मैंने ऊपर वाली पंक्ति में भारत शब्द क्यों जोड़ा, तो चलिये मैं आपको जानकारी देने के लिए बता देता हूँ कि बाल दिवस सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि कई देशों में बहुत हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है।

वैसे मैंने इसपर भी एक लेख पहले ही लिखा हुआ है, जिसमे मैंने अन्य देशों के बाल दिवस की दिनांक और उसका कारण भी बताया है। चलिये अब अपने टॉपिक की और आते है और बाल दिवस पर कविता पढ़ना शुरू करते हैं।

  • नोट: यदि आपको यह कविता अच्छी लगे तो इसे आप अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले।

प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का जीवन परिचय

बाल दिवस पर कविता

आज की हमारी पहली हिन्दी पोएम का शीर्षक है चाचा नेहरु प्यारे थे तो चलो अब हम शुरू करते है अपनी यह हिन्दी कविता|

Children’s Day Quotes in Hindi with Images

चाचा नेहरु प्यारे थे,
भारत माता के राजदुलारे थे!,
देश के पहले पधानमंत्री थे,
स्वतंत्रता के सैनानी थे!

Children’s Day Quotes in Hindi with Images

अचकन में फूल लगाते थे,
हमेशा ही मुस्काते थे!
बच्चो से प्यार जताते थे!
चाचा नेहरु प्यारे थे!

बाल दिवस पर कविता हिंदी में

देश विदेश यह घूमते थे,
बहुत सारी जानकारी प्राप्त करते थे,
फिर भी अपने देश से यह प्यार करते थे!
चाचा नेहरु राजकुमारे थे!

शिक्षक दिवस पर कविता

बच्चे इनको सदा प्यार से,
चाचा नेहरू कहते।
चाचाजी इन बच्चों के बीच,
बच्चे बनकर रहते है॥

Children's Day Poem in Hindi

एक गुलाब ही सब पुष्पों में,
इनको लगता प्यारा।
भारत मां का लाल यह,
सबसे ही था न्यारा॥

बाल दिवस पर कविता - Children’s Day Poem in Hindi

सारे जग को पाठ पढ़ाया,
शांति और अमन का।
भारत मां का मान बढ़ाया,
था यह ऐसा लाल चमन का॥

बाल दिवस पर छोटी सी कविता

यह जो दूसरी बाल दिवस पर कविता है यह बहुत ही छोटी कविता है। तो यदि आपका बच्चा या कोई छोटा भाई अभी छोटी कक्षा में है तो आप उसे यह कविता याद करा सकते हैं.

Very Short Poem on Children’s Day in Hindi

हम भारत के भाल बनेंगे,
वीर जवाहरलाल बनेंगे,
सीखी तुमसे बहादुरी है,
हम दुश्मन के काल बनेंगे।
तुमने जो सपने देखे,
साकार करें हम
तुम्हारी यह अभिलाषा..!

नोट: आप चाहे तो बाल दिवस की कविताएं को यहाँ से कॉपी करके अपने व्हाट्सएप्प या फेसबुक या फिर इंस्टाग्राम पर पेस्ट कर के बाल दिवस के दिन अपडेट भी कर सकते हैं। (लोग अक्सर छोटी कविता को पढ़ना पसंद करते हैं।)

Happy Children’s Day Poem in Hindi 2020

Chacha Nehru Poem in Hindi

14th November Poem in Hindi

चाचा नेहरु ने देखे थे,
नव भारत के सपने,
सपने पूरे कर सकते थे,
उनके बच्चे अपने.

ऐसी शिक्षा हमें आपसे
ऐसी शिक्षा हमें आपसे
मिली यही सौभाग्य हमारा
मरकर भी हो गया अमर जो
चाचा नेहरू सबका प्यारा

शालाओं में भी होते हैं,
नये नये आयोजन,
जिन्हें देख आनंदित होते,
हम बच्चों के तन मन.

Poems on Jawaharlal Nehru in Hindi

Essay on Jawaharlal Nehru in Hindi

तुमने किया स्वदेश स्वतंत्र, फूंका देश-प्रेम का मन्त्र,
आजादी के दीवानों में पाया पावन यश अभिराम !

चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम !

सबको दिया हृदय का प्यार, चाहा जन-जन का उद्धार,
भारत मटा की सेवा में, समझ लिया आराम हराम!

चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम !

पंचशील का गाया गान, विश्व -शांति की छेड़ी तान,
दुनियां को माना परिवार, बही प्रेम-सरिता अविराम !

चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम !

पाकर तुम-सा अनुपम लाल, हुआ देश का ऊंचा भाल,
भूल नहीं सकते तुमको हम, अमर रहेगा युग-युग नाम!

चाचा नेहरू, तुम्हें प्रणाम!

मैं सही बोलूँ तो मुझे इस कविता के बोल बहुत ज्यादा पसंद आए हैं और आने वाले बाल दिवस पर मैं अपने भाई को यही कविता दूंगा याद करने के लिए, ताकि वो अपने स्कूल में स्टेज पर इस कविता को बोल सके।

चाचा नेहरू पर कविता हिंदी में | जवाहरलाल नेहरू पर कविता हिंदी में

“नेहरु चाचा आओ ना
दुनिया को समझाओ ना
बच्चे कितने प्यारे होते
कोई उन्हे सताये ना
हरु चाचा आओ ना
मधुमुस्कान दिखाओ ना
तुम गुलाब कि खुशबू हो
बचपन को महकाओ ना
नेहरु चाचा आओ ना
उजियारा फैलाओ ना
देशभक्त हों, पढें लिखें
एसा पाठ पढाओ ना
नेहरु चाचा आओ ना”

Bal Diwas Poem in Hindi – Bal Diwas Kavita in Hindi

चाचा नेहरू की कविता – नेहरू चाचा तुम्हें सलाम

“नेहरू चाचा तुम्हें सलाम।
अमन-शांति का दे पैगाम॥

जग को जंग से बचाया।
हम बच्चों को भी मनाया॥

जन्मदिवस बच्चों के नाम।
नेहरू चाचा तुम्हें सलाम॥

देश को दी हैं योजनाएं।
लोहा और इस्पात बनाए॥

बांध बने बिजली निकाली।
नहरों से खेतों में हरियाली॥

प्रगति का दिया इनाम।
नेहरू चाचा तुम्हें प्रणाम॥

बाल दिवस पर कविता – Children’s Day Poem in Hindi – Children’s Day Poems For Kids

इस दिन हम सब बच्चें मिलकर,
गीत ख़ुशी के गाते.

चाचा नेहरु के चरणों में,
श्रद्धा सुमन चढ़ाते.

बाल दिवस के इस अवसर पर,
एक शपथ यह खाओ.

ऊँच नीच का भेद भूला कर,
सबको गले लगाओ.

जिस दिन लाल जवाहर ने था,
जन्म जगत में पाया।

उसका जन्मदिवस भारत में
बाल दिवस कहलाया।।


बाल दिवस पर निबंध हिंदी में लिखा हुआ

👉 बाल दिवस देश के सभी बच्चों के लिए एक ऐसा दिन है जो लोगों को उनके अधिकारों, राष्ट्र की प्रगति में उनके योगदान का अहसास करवाता है।

👉 पंडित नेहरू की याद में बच्चों के प्रति उनके अपार स्नेह की वजह से उनके जन्म दिवस को 14 नवंबर का दिन बाल दिवस के तौर पर मनाया जाता है।

👉 चाचा नेहरू कहते थे हम यदि देश का भविष्य बेहतर चाहते है तो हमें बच्चों का जीवन बेहतर बनाने पर ध्यान देना चाहिए।

👉 उनका मानना था बच्चे देश के सुनहरे भविष्य होते हैं। किसी भी देश के बच्चे उसकी नींव होते है। अगर नींव मजबूत है तो आने वाला कल बेहतर होगा। इसलिए हर साल 14 नवंबर के मौके पर देश भर के विद्यालयों में तथा अन्य स्थानों पर बाल दिवस के पर्व के दिन बच्चों का मनोरंजन करने हेतु विभिन्न कार्यक्रम, खेलकूद का आयोजन कर उनकी बालपन की खुशी को दोगुना करने का प्रयास किया जाता है।

👉 बच्चे इस दिन काफी खुश दिखाई देते है क्योंकि बच्चों को समर्पित यह दिन वर्ष भर में आने वाला एक ऐसा दिन होता है जिस दिन वे पढ़ाई से कुछ समय दूरी बनाकर मनोरंजन को प्राथमिकता देते हैं।

👉 बाल दिवस का यह पर्व देश के उन बच्चों की ओर भी हमारा ध्यान आकर्षित करता है, जो अशिक्षा गरीबी की वजह से भोजन, शिक्षा, बेहतर स्वास्थ्य की सुविधाओं से कोसों दूर है।

👉 एक देश प्रेमी या जिम्मेदार नागरिक के तौर पर हमारा यह कर्तव्य बनता है कि देश के समर्थ लोगों को ऐसे बच्चों की दशा सुधारने हेतु प्रयत्न करने चाहिए। पर्याप्त संसाधनों की वजह से इनकी भोजन शिक्षा की कमी की पूर्ति में हम अपना सहयोग दें। क्योंकि जब देश का प्रत्येक नागरिक पढ़ेगा, तभी तो हमारा देश आगे बढ़ेगा इसलिए अपने हो या किसी दूसरे के क्या फर्क पड़ता है? बच्चे तो भगवान का एक रूप होते हैं।

👉 यह पुण्य का कार्य होगा अगर हम मूलभूत सुविधाओं से वंचित किसी बच्चे की शिक्षा, भोजन या रहन सहन की स्थिति में बेहतर परिवर्तन ला सकें।


बाल दिवस पर चाचा नेहरू के प्रेरक विचार | Inspiring Quotes By Jawaharlal Nehru About Children in Hindi

आज के बच्चे कल का भारत बनाएंगे। जिस तरह आज इनको तैयार किया जाएगा उसी से कल का भविष्य निर्धारित होगा।


असफलता तभी आती है जब हम अपने आदर्शों, उद्देश्यों और सिद्धांतों को भूल जाते हैं।


बच्चे खुद के बीच मतभेद के बारे में नहीं सोचते।

जीवन में शायद डरने के लिए इतना बुरा और इतना खतरनाक कुछ भी नहीं है। जीवन ताश के पत्तों के खेल की तरह है।


लोग हमारे बारे में क्या सोचते हैं, फर्क इससे नहीं पड़ता बल्कि वास्तव में हम क्या है? इससे पड़ता है।


बच्चे एक बगीचे में कलियों की तरह होते हैं और उन्हें सावधानीपूर्वक और प्यार से पोषित किया जाना चाहिए, क्योंकि वे भविष्य के नागरिक हैं। केवल सही शिक्षा से ही बेहतर समाज बनाया जा सकता है।


मेरे पास भले बड़ों के लिए समय न हो, परंतु मै बच्चों के लिए पर्याप्त समय निकाता हूं।

शिक्षा का उद्देश्य केवल व्यक्तिगत सेवा करना ही नहीं, अपितु समूचे समाज की सेवा हेतु सार्वजनिक कल्याण के लिए काम करना होना चाहिए।


बच्चों को सुधारने का एकमात्र तरीका उन्हें प्यार से जीतना है। जब तक एक बच्चा आपका मित्र नहीं है, आप उसके तरीके में बदलाव या सुधार सकते। यदि उनका ध्यान किसी अन्य गतिविधि की ओर आकर्षित होता है, तो उन्हें अनुशासित किया जा सकता है।


जैसा की दिल्ली में एक स्वैच्छिक निकाय (1960 में) “child support” में होता है, वे वोकेशन के दौरान वहां कई चीजें सीखते हैं, बिना किसी तरह की बंदिश के और फिर उनका दिमाग रचनात्मक होता जाता है।


10 Lines on Children’s Day in Hindi
  1. पंडित जवाहरलाल नेहरू की स्मृति में देश में 14 नवंबर को बाल दिवस मनाया जाता है।
  2. नेहरू स्वतंत्र भारत के पहले प्रधानमंत्री थे, जिन्होंने अंग्रेजो के खिलाफ देश की स्वतंत्रता में महत्वपूर्ण योगदान दिया।
  3. बच्चों के लिए नेहरू के दिल में अपार स्नेह था।
  4. पंडित नेहरू को बच्चों द्वारा प्यार से चाचा नेहरू कहकर बुलाया जाता था।
  5. बच्चों के लिए बेहद खास इस दिन पर सभी बच्चे खुशी-खुशी स्कूल जाते है यह दिन उनके लिए मनोरंजन भरा होता है।
  6. इस अवसर पर देश के विभिन्न विद्यालयों में बच्चों के लिए अनेक कार्यक्रम, खेलकूद प्रतियोगिता आयोजित की जाती हैं।
  7. अनेक स्थानों पर इस दिन बच्चों के बीच टॉफियां, मिठाई, केक वितरित कर दिन को खास बनाया जाता है।
  8. नेहरू के शब्दों में “बच्चे देश के आने वाला भविष्य है” अतः उनके सुनहरे भविष्य के लिए उन्हें बेहतर शिक्षा मिलनी चाहिए।
  9. यह दिवस बच्चों के अधिकारों की ओर माता-पिता, अभिभावकों का ध्यान आकर्षित करता है।
  10. विद्यालयों में शिक्षकों द्वारा बच्चों को शिक्षा का महत्व बताकर उन्हें जीवन में अपने राष्ट्र का नाम रोशन करने के लिए प्रेरित किया जाता है।
  11. नेहरू अक्सर अपना खाली समय बच्चों के साथ मिलने, उनसे बातें करने में बिताते थे।

वैसे तो यह कविता भी छोटी है, लेकिन बाल दिवस के दिन चाचा नेहरू को याद कर के गाने के लिए सबसे अच्छी है, बाकी आपकी श्रद्धा है आपको कौन सी कविता पसंद आई आप वही याद करे।

दोस्तों यह थे Children’s Day Hindi Poem अगर आपको बाल दिवस पर कविता पता है अच्छी-अच्छी तो उनको आप कमेंट के माध्यम से हमारे और बाकि सभी लोगों के साथ शेयर करे। आपको यह बाल दिवस पर कविता कैसी लगी वो हमको जरूर बताए और अगर आपको लगता है कि इस लेख में कुछ बदलाव होना चाहिए तो आप हमको वो भी बता सकते हो। और जैसा की मैंने उपर बताया था की अगर आपको हमारा यह कविता वाला लेख अच्छा लगा हो तो इसको आप अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना न भूले।

About the author

Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमें आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

23 Comments

Leave a Comment