Independence Day (India)

स्वतंत्रता दिवस भाषण | Independence Day Speech in Hindi

15 अगस्त पर भाषण
Written by Himanshu Grewal

Independence Day 15 August Motivational Speech In Hindi 2021: 15 अगस्त पर भाषण 2021 के इस लेख पर मैं हिमांशु ग्रेवाल आप सभी भारत देशवासियों का तहे दिल से स्वागत करता हूँ। लेख को शुरू करने से पहले आप सभी भारत देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक और ढेरों शुभकामनाएं

स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस हमारे देश के दो बहुत ही प्रमुख और राष्ट्रीय पर्व है। 15 अगस्त के दिन हमारा भारत देश आजाद हुआ था इसलिए इसको स्वतंत्रता दिवस के नाम से जाना जाता हैं। अगर आपको स्वतंत्रता दिवस के बारे में जानकारी प्राप्त करनी है तो आप भारत का स्वतंत्रता दिवस का इतिहास, महत्व और निबंध वाला लेख पढ़ सकते हो।

26 जनवरी के दिन भारत देश का संविधान लागू हुआ था इसलिए इसको गणतंत्र दिवस के नाम से जाना जाता है।

गणतंत्र दिवस के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए आप भारतीय गणतंत्र दिवस (26 जनवरी) क्यों मनाया जाता है? वाला लेख पढ़ सकते हो।

आज इस देशभक्ति लेख में, मैं आपके साथ स्वतंत्रता दिवस पर हिंदी भाषण प्रस्तुत करने जा रहा हूँ जिसको आप अपने विद्यालय और कॉलेज में सभी के सम्मुख बोल सके। तो आइए, मेरे प्रिय मित्रों! आपका ज्यादा समय नष्ट न करते हुए Independence Day Speech in Hindi को पढ़ना शुरू करते हैं।

नोट: आपसे नर्म निवेदन है कि अगर आपको इंडिपेंडेंस डे स्पीच इन हिंदी पसंद आये तो इस देशभक्ति भाषण को जितना हो सके अपने मित्रों आदि के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करें और कमेंट के माध्यम से अपने विचार प्रकट करें।


⇓ नया भाषण ⇓

सभी छात्रों और अध्यापकों के लिए 15 अगस्त पर देश भक्ति हिंदी भाषण


15 अगस्त के लिए भाषण हिंदी में लिखा हुआ

इस वर्ष 15 अगस्त आने में अब कुछ ही दिन शेष है। तो यदि आपको भी किसी राज्य से भाषण देने के लिए आमंत्रित किया गया है तो प्रस्तुत है 15 अगस्त पर एक जोशीला भाषण!

जैसा कि हम सभी को ज्ञात है 15 अगस्त हम सभी भारतीयों के लिए एक खास दिवस है क्योंकि 200 वर्षों से भी अधिक सालों बाद भारत को इसी दिन वर्ष 1947 को आजादी मिली थी। आजादी की लड़ाई में अनेक महापुरुषों ने अपना बलिदान दिया। देश के लिए उनके द्वारा किए गए त्याग बलिदान को आने वाली सभी पीढ़ियों द्वारा याद किया जाएगा। इन महापुरुषों में सुभाष चंद्र बोस, भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद, महात्मा गांधी, तात्या टोपे जैसे अनेक नाम शामिल हैं।

आजादी के पहले देश में ब्रिटिशों द्वारा भारतीयों का खूब शोषण किया जाता था। ना चाहते हुए भी उनके द्वारा दिए गए आदेशों का पालन करना अनिवार्य था और यदि कोई ऐसा नहीं करता था तो निर्ममता से उनको सजा दी जाती थी। विश्व के लिए एक आदर्श कहा जाने वाला हमारा देश भारत अंग्रेजों द्वारा बंदी बना लेने के बाद खोखला हो चुका था। अंग्रेजों ने हमारे देश की धन संपदा लूटने के साथ-साथ भारतीय लोगों की मानसिकता एवं यहां की सभी चीजों पर मनमाने ढंग से परिवर्तन करने का सोचा।

अंग्रेजों के हमारे देश के प्रति इस क्रूर व्यवहार को कुछ महान लोग सह ना सके और उन्होंने भारत को आजाद करने कि कसम खा दी और आजादी की लड़ाई में उन्होंने अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया अपनी जान की बाजी भी लगा दी।

अतः 15 अगस्त के इस अवसर पर सभी स्कूलों, विद्यालय, सरकारी दफ्तरों में झंडारोहण किया जाता है। राष्ट्रीय गान होता है, स्कूलों में इस राष्ट्रीय पर्व के मौके पर सांस्कृतिक एवं देश भक्ति के कार्यक्रम देखने को मिलते है, छात्रों को लड्डुओं का वितरण किया जाता है। वही इस खास दिन पर देश की राजधानी नई दिल्ली में बड़ी चहल-पहल देखने को मिलती है। इस मौके पर देश के प्रधानमंत्री एवं राष्ट्रपति उपस्थित होते हैं।

भारतीय सेना द्वारा देश की आजादी के संघर्ष में बलिदान देने वाले महापुरुषों के सम्मान में परेड आयोजित की जाती है। उन्हें सलामी दी जाती है, वीर जवानों की शहादत के लिए सभी भारतीयों द्वारा उन्हें याद किया जाता है। 200 वर्षों से भी अधिक सालों तक अंग्रेजों द्वारा भारत में किए गए शासन से भारतीय जनता को मुक्ति मिली थी। अतः यह दिन हम सभी के लिए खास है, इस दिन हम बिना धर्म, जाति, भेदभाव के बगैर सभी मिलकर राष्ट्रगान गाते हैं जो हमें एकता एवं अखंडता का संदेश देता है।

यह दिन हमें एक स्वतंत्र राष्ट्र में रहने का गर्व महसूस करवाने के साथ ही बतौर नागरिक हमारे देश के लिए बतौर नागरिक जो कर्तव्य है उनका भी एहसास दिलाता है। ताकि वापस से कोई भी विदेशी शक्ति हम पर फिर से कब्जा करने यहां तक कि आक्रमण करने की भी कोशिश ना कर सके।

आशा है यह जोशीला भाषण आपको पसंद आएगा और आप इस भाषण की सहायता से एक शानदार स्पीच किसी भी स्टेज से सुना पाएंगे।


Few Lines on Independence Day in Hindi 2021-2022

15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस वो दिन है जिसका इंतजार समस्त भारत देशवासियों को रहता है। आप चाहे बच्चे हो, बड़े हो या टीचर हो सभी स्वतंत्रता दिवस का त्योहार बड़े ही हर्षोल्लास और मिल जुलकर मनाते है। स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त के दिन कई व्यक्ति अपने विचार, भाषण, कविता, शायरी इत्यादि बोलते हैं। अगर आपको भी 15 अगस्त 2021 के दिन 15 अगस्त पर भाषण 2021 मतलब Swatantrata Diwas Par Bhashan बोलना है तो इस लेख में मैंने आप सभी के लिए Desh Bhakti Speech in Hindi Language में अपडेट करी हैं।

इस देश भक्ति भाषण का उपयोग छात्र, टीचर और कार्यालय में काम कर रहे सभी लोग इस १५ अगस्त स्पीच का उपयोग कर सकते है। तो आईये अब ज्यादा समय न लेते हुए 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर भाषण को पढ़ना शुरू करते हैं।


15 अगस्त पर भाषण: Motivational Speech on Independence Day in Hindi

Motivational Speech on Independence Day in Hindi

भारत के स्वतंत्रता दिवस पर भाषण 2021

आदरणीय प्रधानाचार्य जी, अध्यापक गण और मेरे प्यारे मित्रों, आज हम सब यहाँ स्वतंत्रता दिवस मनाने के लिए एकत्रित हुए हैं।

सदियों की गुलामी के पश्चात 15 अगस्त सन् 1947 के दिन हमारा भारत देश आजाद हुआ। पहले हम अंग्रेजों के गुलाम थे। उनके बढ़ते हुए अत्याचारों से सारे भारतवासी त्रस्त हो गए और तब विद्रोह की ज्वाला भड़की और भारत देश के अनेक वीरों ने प्राणों की बाजी लगाई, गोलियां खाई और अंत: आजादी पाकर ही चैन लिया। इस दिन हमारा देश आजाद हुआ, इसलिए इसे स्वतंत्रता दिवस कहते हैं।

अंग्रेजों के अत्याचारों और अमानवीय व्यवहारों से त्रस्त भारतीय जनता एकजुट हो इससे छुटकारा पाने हेतु कृतसंकल्प हो गई। सुभाष चंद्र बोस, भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद ने क्रांति की आग फैलाई और अपने प्राणों की आहुति दी। तत्पश्चात सरदार वल्लभ भाई पटेल, गांधी जी, नेहरू ने सत्य, अहिंसा और बिना हथियारों की लड़ाई लड़ी। सत्याग्रह आंदोलन किए, लाठियां खाई, कई बार जेल गए और अंग्रेजों को हमारा देश छोड़कर जाने पर मजबूर कर दिया। इस तरह 15 अगस्त 1947 का दिन हमारे लिए ‘स्वर्णिम दिन’ बना। हमारा देश स्वतंत्र हो गया।

यह दिन 1947 से आज तक हम बड़े उत्साह और प्रसन्नता के साथ मनाते चले आ रहे हैं। इस दिन सभी विद्यालयों, सरकारी कार्यालयों पर भारतीय राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाता है, राष्ट्रगीत गाया जाता है और इन सभी महापुरुषों, शहीदों को श्रद्धांजलि दी जाती हैं जिन्होंने स्वतंत्रता हेतु प्रयत्न किए और मिठाइयां बाटी जाती हैं।

  • हमारी राजधानी दिल्ली में हमारे प्रधानमंत्री लाल किले पर राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं।
  • वहां भारत का स्वतंत्रता दिवस बड़ी धूमधाम और भव्यता के साथ मनाया जाता हैं।
  • सभी शहीदों को श्रद्धांजलि दी जाती है।
  • प्रधानमंत्री राष्ट्र के नाम संदेश देते हैं।
  • अनेक सभाओं और कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है।

इस दिन का ऐतिहासिक महत्व हैं। इस दिन की याद आते ही उन शहीदों के प्रति श्रद्धा से मस्तक अपने आप ही झुक जाता है जिन्होंने स्वतंत्रता के यज्ञ में अपने प्राणों की आहुति दी। इसलिए हमारा पुनीत कर्तव्य है कि हम हमारे स्वतंत्रता की रक्षा करें, देश का नाम विश्व में रोशन हो, ऐसा कार्य करें। देश के प्रगति के साधक बने न कि बाधक…

इस देश के नागरिक होने के नाते हमारा ये फर्ज बनता है की घूस, जमाखोरी, कालाबाजारी को देश से समाप्त करें। भारत के नागरिक होने के नाते स्वतंत्रता का न तो स्वयं दुरूप्रयोग करें और न दूसरों को करने दें। एकता की भावना से रहें और अलगाव आंतरिक कलह से बचें… “धन्यवाद”


स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त पर भाषण | 75वे स्वतंत्रता दिवस पर भाषण

Motivational Speech on Independence Day in Hindi


Independence Day Speech in Hindi 2021

स्वतंत्रता दिवस का हम भारतीयों के लिए इतना महत्व होने के पीछे यह भी कारण है कि इस दिन, अर्थात 15 अगस्त को हमने ब्रिटिश शासन से अपनी स्वतंत्रता वापस ले ली। स्वतंत्रता के बाद, भारत के मूल निवासी सभी मौलिक अधिकारों का लाभ उठा सके थे, यह वास्तव में सभी भारतीयों के लिए एक नए युग की सुबह थी जो गुलामी के बंधन में रहने के बाद एक बार फिर से अपने परिवेश में स्वतंत्र रूप से सांस ले सकते थे और अपनी शर्तों पर अपना जीवन जी सकते थे।

भारत के इतिहास में यह है कि हमारे पूर्वजों ने कैसे सब कुछ त्याग दिया और अंग्रेजों द्वारा प्रताड़ित यातना को आखिर वो किस प्रकार से सहन करते रहे, वो भी एक या दो दिन नहीं बल्कि करीबन 200 वर्ष के लम्बे समय तक। कोई फर्क नहीं पड़ता कि हम कितना कहते हैं कि हम उन समय में रहने वाले लोगों की दुर्दशा को समझ सकते हैं, लेकिन हम उनके साथ सहानुभूति नहीं रख सकते हैं।

यह 1857 के बाद से 1947 तक जारी कई दशकों का संघर्ष था, मंगल पांडे नामक हमारे महान स्वतंत्रता सेनानी ब्रिटिश सेना में पहले व्यक्ति थे जिन्होंने ब्रिटिशों के खिलाफ अपनी आवाज उठाई और भारत के लोगों को गुलामी की जंजीर से मुक्त करने के लिए बड़े पैमाने पर आक्रोश पैदा किया। दोस्तों, आपने पढ़ा होगा कि कई स्वतंत्रता सेनानियों ने बहादुरी से लड़ाई लड़ी और अपना पूरा जीवन अपने देश की संप्रभुता को वापस जीतने के लिए समर्पित कर दिया।

हम चंद्रशेखर आजाद, भगत सिंह और खुदी राम बोस द्वारा किए गए बलिदानों को कैसे भूल सकते हैं, जिन्होंने अपने देश को अंग्रेजों की पकड़ से मुक्त करने के लिए कम उम्र में ही अपनी जान गंवा दी थी। इसके अलावा, हम महात्मा गांधी जी, सरदार वल्लभ भाई पटेल और नेताजी सुभाष चंद्र बोस के बलिदानों को आखिर कैसे भूल सकते हैं?

निस्संदेह, गांधीजी एक महान भारतीय व्यक्ति थे जिन्होंने दुनिया को अहिंसा का एक महत्वपूर्ण सबक दिया था। आखिरकार, लंबे समय के संघर्ष ने फल दिया जब 15 अगस्त 1947 को, भारतीयों ने अपनी कीमती स्वतंत्रता वापस जीत ली।

दोस्तों, हम बहुत भाग्यवान हैं, क्योंकि आज हमें एक ऐसी भूमि प्रदान हुई है कि जहाँ हम अपनी स्वतंत्रता और चिंता के बिना बहुत शांति के साथ स्वतंत्र रूप से और स्वतंत्र रूप से रह सकते हैं। हमारा देश विज्ञान और प्रौद्योगिकी, खेल, शिक्षा और वित्त सहित कई अन्य क्षेत्रों में तेजी से विकास कर रहा है, जो स्वतंत्रता-पूर्व युग में संभव नहीं था।

भारत परमाणु ऊर्जा के रूप में एक मजबूत पकड़ भी विकसित कर रहा है। हम राष्ट्रमंडल खेलों, ओलंपिक के साथ-साथ एशियाई खेलों में भारत के जवाज खिलाड़ी अपना अच्छा प्रदर्शन दिखा कर भारत को गर्व महसूस कराने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं।

अंत में मैं बस इतना कहना चाहूँगा कि हमें अपने आप को उन जिम्मेदारियों से मुक्त नहीं मानना ​​चाहिए जो हमारे देश के प्रति हैं। हमारे देश के जिम्मेदार नागरिकों के रूप में, हमें अपनी भूमि पर आपातकाल की किसी भी स्थिति को संभालने में कभी भी संकोच नहीं करना चाहिए।

आओ सब मिल कर बोले – जय हिंद !!


15 August 2021 Speech in Hindi For Teacher

15 August Speech in Hindi For Teacher & Students

15 August Par Bhashan


Independence Speech in Hindi 2021

माननीय मुख्य अतिथि, आदरणीय अध्यापक गण, अभिभावकों और मेरे सभी प्यारे दोस्तों को मेरा हार्दिक नमस्कार।

मैं आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई देता हूँ। आज हम यहां 15 अगस्त के दिन स्वतंत्रता दिवस के इस शुभ अवसर को मनाने के लिए इकट्ठे हुए हैं। वर्ष 2021 में हम स्वतंत्रता दिवस के 75वे वर्ष को मना रहे हैं।

जैसा कि हम सभी जानते है कि 15 अगस्त 1947 से स्वतंत्रता दिवस (यानी आज का दिन) हम सभी के लिए एक शुभ अवसर रहा है। हम इस दिन को बहुत उत्साह और खुशी के साथ इस दिन का जश्न मनाते हैं क्योंकि 1947 में ब्रिटिश शासन से हमारे देश को आजादी मिली थी। भारत के लोगों ने अंग्रेजों के क्रूर व्यवहार का सामना किया था तब जाकर हमें आजादी मिली थी।

भारत को ऐसे ही स्वतंत्रता नहीं मिली इसके लिए हमारे कई क्रांतिकारियों ने अपने जीवन का बलिदान तक दे दिया था। उनमें से कुछ क्रांतिकारियों के नाम है इस प्रकार है जैसे:-

  1. भगत सिंह
  2. राज गुरु
  3. महात्मा गांधी
  4. नेताजी सुभाष चन्द्र बोस
  5. लाला लाजपत राय
  6. चंद्रशेखर आज़ाद
  7. रानी लक्ष्मी बाई
  8. मंगल पांडे

इससे गुलाम भारत का इतिहास सब कुछ बताता है कि हमारे पूर्वजों ने बहुत संघर्ष किया, बलिदान दिया और अंग्रेजों के सभी क्रूर व्यवहार का सामना किया था। आजादी के बाद हमें अपने देश में हमारे सभी मौलिक अधिकार मिल गये, और हमारी मातृभूमि भी। अब आजादी के बाद भारत दुनिया में एक सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश बन गया है। आज हमारे लगभग सभी क्षेत्रों में आजादी है जैसे कि शिक्षा, परिवहन, खेल, व्यवसाय, आदि।

हमें यह सब मिला सिर्फ और सिर्फ हमारे पूर्वजों के संघर्ष और बलिदान के कारण।

स्वतंत्रता दिवस के दिन एक राष्ट्रीय अवकाश भी होती है, लेकिन स्कूल, कार्यालय या समाज में झंडे की मेजबानी करके हर कोई इस स्वतंत्रता को बड़े उत्साह के साथ अपने-अपने स्थान से इसे मनाता है। कई विद्यालयों में इस दिन बच्चे नाच और गाने का काफी अच्छा प्रोग्राम भी करते हैं।

दोस्तों, स्वतंत्रता दिवस पर मेरा भाषण अब समाप्त होने जा रहा है। अंत में, मैं बस इतना बोलना चाहूँगा कि मुझे भारतीय नागरिक बनने पर गर्व महसूस हो रहा है। तो चलिए आज हम सभी मिलकर इस स्वतंत्रता दिवस पर शपत लेते है कि अपने देश को भ्रष्टाचार से मुक्त करने में मदद करेंगे और सभी के साथ प्रेम भाव से रहेंगे। यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम देश को आगे बढ़ाए और भारत को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ देश बनाए।

धन्यवाद


Independence Day Speech in English 2021 for Students Class 10th

Hindi Speech on Independence Day 15 August

Hindi Speech on Independence Day 15 August

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर एकत्र हुए सभी शिक्षक गणों, प्रधानाध्यापक, हमारे चीफ गेस्ट और मेरे सभी सहपाठियों का स्वतंत्रता दिवस के इस समारोह में स्वागत है।

आप सभी की मौजूदगी में इस वर्ष 2021 में हम अपने देश का 75वा स्वतंत्रता दिवस मनाने जा रहे हैं। हमारा देश एक स्वतंत्र राष्ट्र है जिसे 15 अगस्त 1947 में आजादी मिली थी। लेकिन इस आजादी को प्राप्त करने के पीछे कुर्बानी और संघर्षों का बहुत बड़ा इतिहास है।

भारत को अंग्रेजों के चंगुल से आजाद कराने के लिए भारत माता के बेटे और बेटियों ने अपने अंतिम सांस तक अपने लहू का कतरा कतरा बहाया है। 15 अगस्त के इस शुभ दिन पर हम आज उन वीर शहीदों की कुर्बानियों को याद करके श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए एकत्र हुए हैं। स्वतंत्रता दिवस का यह दिन हर भारतीय के लिए श्रेष्ठ माना गया है।

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर हर भारतीय के मन में अपने देश के लिए कुछ कर गुजरने वाली देशभक्ति की भावना उत्पन्न हो जाती है। देश प्रेम की भावना का संचार इस दिन हर जगह पर होता है। देशभक्ति के गीत गली-गली में गूंजते हैं। “ऐ मेरे वतन के लोगों” और “वंदे मातरम्” जैसे गीत ना सिर्फ लोगों के मन को छू लेते हैं बल्कि उनकी आंखों में आंसू भी ला देते हैं।

इस अवसर पर हमें गर्व होना चाहिए कि हम स्वतंत्र भारत के निवासी हैं। स्वतंत्र भारत में हमें पढ़ने का अपनी बातों को रखने का पूरा अधिकार है। लेकिन एक स्वतंत्र राष्ट्र में रहने के बाद भी हमें अपनी मान-मर्यादा, संस्कृति और कर्तव्य को कभी नहीं भूलना चाहिए।

देश को स्वच्छ बनाने के लिए हमें अपने आसपास की जगहों को साफ रखना चाहिए, लोगों के बीच भाईचारे की भावनाओं का संचार करना चाहिए और प्यार से बातें करना चाहिए। भारत को हमें ऊंचाइयों पर ले जाना होगा।

अंग्रेजों के कारण हमारे देश का जो नुकसान हुआ है। उसकी भरपाई हमें ही करनी होगी। हम युवा नौजवान इस देश की बुनियाद है अगर हम चाहें तो हम अपने देश को एक विकासशील देश से एक विकसित देश में बदल सकते हैं। इसलिए मेरे मित्रों सोशल मीडिया, गेम की जगह किताबों को अपने हाथों में लो क्योंकि किताबें ही तुम्हें वह ज्ञान देगी जिससे तुम अपने देश को विकास के पथ पर आगे बढ़ा सकोगे।

एक पंक्ति के साथ मैं 15 अगस्त भाषण को खत्म करना चाहता/चाहती हूं-

आजाद हो गए हो तो क्या, अपने मन को भी स्वतंत्र करो।
मेरे देश के प्यारे युवाओं, उठो और अपने देश को आगे बढ़ाओं।।

1 Minute Speech on Swatantrata Diwas Independence Day in Hindi

Speech on Swatantrata Diwas Independence Day in Hindi.ly/2BokL5n

Hindi Speech About Independence Day

स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ में इस बार भी हम हर साल की तरह इस बार भी बड़े ही धूमधाम से स्वतंत्रता दिवस मनाएंगे और मनाएं भी क्यों ना। इस स्वतंत्रता को पाने के लिए हमारे वीर जवानों ने अपना सब कुछ न्योछावर किया है।

75 साल पहले वर्ष 1947 में आज ही के दिन ब्रिटिश साम्राज्य की गुलामी से आजाद हुआ था। जिस स्वतंत्र भारत में हम इतना खुशी से रहते हैं वह पहले 200 वर्षों तक अंग्रेजों के अधीन था। अंग्रेजों ने हमें गुलाम बनाकर रखा, हमारे देशवासियों का बहुत शोषण किया और हमारे देश को पूरी तरह बर्बाद कर दिया था। लेकिन आखिरकार देश के स्वतंत्रता सेनानियों ने कड़ा संघर्ष करके हमें आजाद कर दिया।

संघर्ष की यह कहानी लंबी और यादगार रही। लेकिन 15 अगस्त 1947 के दिन हमारा देश अंग्रेजों के चंगुल से आखिरकार छूट गया। अंग्रेजों की गुलामी से आजादी पाने के बाद भारत में पहली बार जवाहरलाल नेहरू द्वारा लाल किला में झंडा फहराया था और स्वतंत्रता दिवस मनाया था। स्वतंत्रता से हम भारतवासियों को बहुत सारे अधिकार मिले हैं जो पहले अंग्रेजों के राज में किसी भी भारतीय के पास नहीं थे। आज हम भारतीयों के पास मत देने का, अपनी बात कहने का और शिक्षा का भी अधिकार है। स्वतंत्रता के बाद हम गणतंत्र भारत में रहते हैं यहां हमें हर चीज का अधिकार है।


How do we write a speech?

अगर आपको अपने स्कूल या कॉलेज में एक अच्छी सी स्पीच लिखनी है तो आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा तभी आप एक अच्छी स्पीच लिख पाएंगे।

  • एक अच्छी सी स्पीच लिखने के लिए आपको अपनी स्पीच के शुरुआत में सभी को संबोधित करते हुए एक स्वागत वाली लाइन लिखनी होगी।
  • उसके बाद आपको स्वतंत्रता दिवस के बारे में सोचना चाहिए और देश की आजादी व आजादी के इतिहास के बारे में सोचते हुए अपने मन के विचारों को शब्दों में परिवर्तित करना होगा।
  • स्पीच लिखते समय आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप अपने विचारों को शब्दों में बयां करें।
  • स्पीच की बॉडी लिखने के बाद आपको स्पीच के अंत में सभी शिक्षकों और हॉल में मौजूद लोगों को धन्यवाद कहना चाहिए।
  • धन्यवाद कहने के बाद आपको अपनी स्पीच का अंत एक जोशीली पंक्ति के साथ करना चाहिए इससे आपके स्पीच का वजन बढ़ जाएगा।

हम 15 अगस्त क्यों मनाते हैं?

15 अगस्त मनाने के पीछे मुख्य वजह हमारे देश की आजादी है। 15 अगस्त वर्ष 1947 को भारत को एक स्वतंत्र राष्ट्र घोषित किया गया था इसलिए 15 अगस्त को अंग्रेजों से मिली आजादी की वजह से हम हर साल 15 अगस्त को एक राष्ट्रीय त्योहार के रूप में मनाते आ रहे हैं।


भारत के कौन से दो प्रांत अगस्त 1947 में भारत और पाकिस्तान के बीच बांटे गए?

वर्ष 1947 में जब भारत आजाद हुआ तो एक नए देश का विश्व के नक्शे पर गठन हुआ। जिसका नाम पाकिस्तान था और आजादी के दौरान अगस्त वर्ष 1947 में भारत और पाकिस्तान के बीच दो अलग-अलग प्रांत बांटे गए थे। इस घटनाक्रम के दौरान मुख्यतः ब्रिटिश भारत के बंगाल प्रांत को पूर्वी पाकिस्तान और भारत के पश्चिम बंगाल राज्य में बाँट दिया गया।


विभाजन से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातें

भारत और पाकिस्तान जब देश का बंटवारा हुआ तो इससे दोनों देशों के लोगों को मन को गहरी पीड़ा पहुंची। क्योंकि अधिकतर लोग यहां तक कि स्वयं गांधीजी भारत-पाकिस्तान बंटवारे को लेकर सहमत नहीं थे। वे चाहते थे देश का बंटवारा ना हो, हम सब एक साथ मिल कर रहे। तो अब हम विभाजन से जुडी कुछ महत्वपूर्ण बाते हम अब आपके साथ रख रहे हैं।

कहा जाता है मौलाना अबुल कलाम और डॉ राम मनोहर लोहिया विभाजन की इस बात को कदापि स्वीकार नहीं करते थे।

आजादी के दौरान कश्मीर भारत का अंग नहीं था यह हमेशा से ही विवादास्पद मुद्दा बनता आया है और कश्मीर किस देश का हिस्सा होगा? अक्टूबर 1947 में इसका फैसला लिया गया।

भारत से अलग एक नया देश पाकिस्तान बनाने के पीछे मोहम्मद अली जिन्ना का बड़ा हाथ था वह स्वयं को एक धर्मनिरपेक्ष व्यक्ति मानता था। दो देशों के अलग होने के बाद पाकिस्तान ने वर्ष 1948 तक भारतीय मुद्रा के बैंक नोट्स का ही उपयोग किया। विभाजन के पश्चात, पाकिस्तान को भारतीय सेना का 1/3, प्रमुख 6 मेट्रोपॉलिटन शहरों में से 2 और भारतीय रेलवे लाइनों का 40% मिला।

!… जय हिन्द, जय भारत, वन्दे मातरम ..!

अन्य लेख ⇓

मेरे प्यारे मित्रों, मुझे उम्मीद है कि 15 अगस्त पर भाषण का यह लेख आपको पसंद आया होगा।

आपको Indian Independence Day Hindi Speech कैसी लगी हमको कमेंट करके जरूर बताये और इस देश भक्ति स्पीच को जितना हो सके अपने सभी दोस्तों और परिवार वालो के साथ फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सएप्प पर शेयर जरूर करें।

About the author

Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमें आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

6 Comments

Leave a Comment

close