रक्षाबंधन पर कविता (भाई-बहन के पवित्र रिश्ते पर 3 हिन्दी कविता)

हेल्लो प्यारे दोस्तों, आपका रक्षाबंधन पर कविता के इस आर्टिकल में बहुत-बहुत स्वागत है. आज में आपके साथ 3 Best Raksha Bandhan Par kavita शेयर करने जा रहा हूँ.

यहाँ पर जितनी भी कविता में आपके साथ शेयर करने जा रहा हूँ इनको आप कॉपी करके अपनी बहन के सामने या फिर अपने स्कूल अथवा कॉलेज में गाकर सुना सकते हो.

बहन भाई पर कविता को शुरू करने से पहले में आपको ये बता देता हूँ की 2017 में रक्षाबंधन कब है?

रक्षाबंधन 2017 date : मंडे, 7 अगस्त

अब आपको रक्षाबंधन की तिथि पता चल गई है और मुझे पूरा यकीन है की इस दिन आप अपनी बहन के लिए कुछ स्पेशल करोगे जिससे वह प्रसन्न हो सके.

रक्षाबंधन का महत्व बहुत बड़ा है इस दिन बहन अपने भाई की कलाई पर राखी बांधती है और मिठाई खिलाती है, बदले में भाई अपनी बहन के पैर छूकर उनसे आशीर्वाद लेते है और अपनी बहन की सुरक्षा करने का वादा करते है.

सभी भाई बहन के लिए रक्षाबंधन का त्यौहार बहुत ही प्रमुख त्यौहार है. वह इस त्यौहार को और स्पेशल बनाने के लिए Rakhi Poem डाउनलोड करते है, राखी पर कविता डाउनलोड करते है, Rakhi Images और भी बहुत कुछ|

आज इस आर्टिकल में आपको रक्षाबंधन पर कविता मिलेगी जिसको आप अपनी बहन के साथ शेयर कर सको. तो चलिए कविता पढ़ना शुरू करते है.

रक्षाबंधन पर कविता – Raksha Bandhan Poems in Hindi for Sister

Raksha Bandhan Poems in Hindi for Sister

अब में आपके साथ अपनी पहले हिन्दी कविता शेयर करने जा रहा हूँ जिसका शीर्षक है :- राखी बांधो प्यारी बहना.

कविता को पढ़ने के बाद हमको कमेंट करके जरुर बताये की आपको ये कविता कैसी लगी.

प्रीत के धागो के बंधन में,
स्नेह का उमड़ रहा संसार,
सारे जग में सबसे सच्चा,
होता भाई बहन का प्यार,
नन्हे भैया का है कहना,
राखी बांधो प्यारी बहना..

सावन की मस्तीली फुहार,
मधुरिम संगीत सुनती है,
मेघों की ढोल ताप पर,
वसुंधरा मुस्काती है…

आया सावन का महीना,
राखी बांधो प्यारी बहना.

धरती ने चाँद मामा को.
इंद्रधनुषी राखी पहनाई,
बिजली चमकी खुशियों से,
रिमझिम जी ने झड़ी लगाई..

राजी ख़ुशी सदा तुम रहना,
राखी बाँधों प्यारी बहना.

Poem on Raksha Bandhan in Hindi (राखी आई)

Poem on Raksha Bandhan in Hindi Language

मुझे उम्मीद है की उपर दी गयी हिन्दी कविता आपको पसंद आयी होगी. अगर आपको कविता पसंद आई हो तो इस कविता को सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करें और कमेंट के माध्यम से अपने विचार हमारे साथ प्रस्तुत जरुर करें.

अब में आपके साथ अपनी दूसरी रक्षाबंधन पर कविता शेयर करने जा रहा हूँ जिसका शीर्षक है| (राखी आई).

राखी आई खुशियाँ लाई
बहन आज फूली ना समाई
राखी, रोली और मिठाई
इन सब से थाली खूब सजाई

बाँधे भाई की कलाई पे धागा
भाई से लेती है यह वादा
राखी की लाज भैया निभाना
बहना को कभी भूल ना जाना

भाई देता बहन को वचन
दुःख उसके सब कर लोग हरण
भाई बहन को प्यारा है
राखी का त्यौहार सबसे न्यारा है!

रक्षाबंधन पर कविता – Hindi Poem for Kids about Raksha Bandhan (Rakhi)

Hindi Poem for Kids about Raksha Bandhan

ये हमारी लास्ट कविता है और मुझे उम्मीद है की उपर जो २ कविता है उसकी भाती ही ये वाली कविता भी आपको पसंद आएगी. 🙂

हर सावन में आती राखी,
बहना से मिलवाती राखी…

चाँद सितारों की चमकीली,
कलाई को कर जाती राखी…

जो भूले से भी ना भूले,
मनभावन क्षण लाती राखी,
अटूट-प्रेम का भाव धागे से
हर घर में बिखराती राखी…

सारे जग की मूल्यवान
चीजों से बढकर भाती राखी.

सदा बहन की रक्षा करना,
भाई को बतलाती राखी.

भारत के और भी बेहतरीन त्यौहार 🙂

प्यारे भाइयों और बहनों आपको रक्षाबंधन पर कविता कैसी लगी हमको कमेंट करके जरुर बताये और अगर आपके पास कोई पोएम, कविता या शायरी हो जिसे आप हम सभ के साथ शेयर करना चाहते हो तो वो आप कमेंट के माध्यम से हम सबके साथ शेयर कर सकते हो.

इस आर्टिकल को जितना हो सके उतना फेसबुक, ट्विटर, गूगल+ और व्हाट्सएप्प पर शेयर जरुर करें जिससे आप जैसे और भी भाई बहन इसको लिख सके और रक्षाबंधन एन्जॉय कर सके. आप सभी को रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनायें. 🙂

6 Comments

  1. Roopa July 1, 2017
  2. Satya August 6, 2017
  3. Rohan Bhushan August 13, 2017
    • Himanshu Grewal August 13, 2017
  4. mukesh vadera August 21, 2017
  5. Sonal August 21, 2018

Leave a Reply