अध्ययन की प्रगति के सम्बन्ध में पिताजी को पत्र

हेल्लो मेरे प्यारे दोस्तों आपका HimanshuGrewal.com पर बहुत-बहुत स्वागत है. आज इस आर्टिकल के जरिये हम सिखेंगे की पिताजी को पत्र कैसे लिखे.

अनौपचारिक पत्र लेखन में आज के आपको अध्ययन की प्रगति के सम्बन्ध में पत्र लिखना सिखाने जा रहा हूँ.

जो में आपके साथ हिन्दी में पत्र लेखन शेयर करने जा रहा हूँ आप चाहो तो उसको एक कॉपी कर लिख भी सकते हो और उसी तरिके से आप अपने पिताजी के लिए एक प्यारा सा पत्र लिख सकते हो.

दोस्तों आईये अब पत्र की अच्छे से प्रैक्टिस करते है और पिताजी के लिए पत्र लिखते है.”

अध्ययन की प्रगति के सम्बन्ध में पिताजी को पत्र

पिताजी को पत्र | अनौपचारिक पत्र लेखन उदाहरण

नोट – नीचे आपके सामने जो प्रार्थना पत्र का उदाहरण आयेगा उसको आप एक पेज पर लिख लेता ताकि फ्यूचर में आप उस पत्र को देखकर उसकी प्रैक्टिस कर सको. आईये अब शुरू करते है

5 ई, सरोजनी नगर दिल्ली

10 अक्टूबर, 2017

श्री परम पूज्य पिताजी,

सादर प्रणाम,

मै यहाँ पर सब प्रकार से कुशल हूँ | आपको भी सब प्रकार से स्वस्थ और सुखी चाहता हूँ|

आपका कृपा पत्र पाप्त हुआ| आपने उसमें मेरी पढाई की प्रगति के सम्बन्ध में पूछा है | इस विषय में मेरा निवेदन यह है कि स्कूल खुलने के बाद से ही मैं नियम पुर्वाक परिश्रम से अध्ययन कर रहा हूँ | अगले मास त्रेमासिक परीक्षा होगी | मुझे विशवास है कि उसमें मै अच्छे अंक लेकर पास होऊँगा और गणित तथा संस्कृत में तो सर्वाधिक अंक पाउँगा |

माताजी भी स्वस्थ और प्रसंग हैं | सभी भाई-बहिनें आपको सादर प्रणाम कहते हैं|

शेष आपका पत्र मिलने पर !

आपका आज्ञाकारी पुत्र

हिमांशु ग्रेवाल

प्रार्थना पत्र लिस्ट

प्यारे बच्चो ओर दोस्तों मुझे पूरा यकीन है की अब आप पत्र लिखना पूरी तरीके से सिख चुके होंगे और अब आप अपने पिताजी को पत्र लिख पाओगे. अगर आपको लगता है की यह आर्टिकल आपके लिए अच्छा है तो आप अपना कमेंट हमारी साईट पर जरुर करे और इस आर्टिकल को फेसबुक, ट्विटर और गूगल+ पर शेयर जरुर करे.

5 Comments

  1. रीतू केशरवानी May 20, 2017
    • रमेश सिंह August 16, 2017
  2. Purshotam bisht August 3, 2017
  3. G.s.jamre March 4, 2018
  4. Lekhanarayan December 13, 2018

Leave a Reply