पिताजी को पत्र कैसे लिखे | अनौपचारिक पत्र | Informal Letter Format in Hindi

प्रिय छात्रों, आप सभी का HimanshuGrewal.com पर बहुत-बहुत स्वागत है| आज इस आर्टिकल के जरिये हम सिखेंगे कि पिताजी को पत्र कैसे लिखे| अंग्रेजी में : Informal Letter Format in Hindi.

पत्र लिखने सीखने से पहले आपके लिए यह जानना जरूरी है कि पत्र 2 प्रकार के होते हैं.

  1. औपचारिक – Formal Letter format in Hindi
  2. अनौपचारिक – Informal Letter Format in Hindi

औपचारिक पत्र के विभिन्न प्रकार

औपचारिक पत्र उन लोगो को लिखा जाता है जिनके साथ आप स्कूल या ऑफिस में जुडते हैं अर्थात आपके शिक्षक, प्रधानाचार्य एवं आपके बॉस और या फिर आपके साथ कार्य कर रहे व्यक्ति|

औपचारिक पत्र लेखन को लिखते समय खास तौर पर इस बात का ध्यान रखा जाता है कि सभी बातों को सीधे – सीधे लिखना है और अपनी समस्या को जाहिर करते हुए आपको सभी नियम का भी ध्यान रखना होता है कि वो पत्र कैसे लिखा जाता है.

अनौपचारिक पत्र का प्रारूप – अनौपचारिक पत्र हिंदी में

वही अनौपचारिक पत्र आप उन लोगो को लिखते हैं जिनके साथ आपका सम्बंध वाला रिश्ता होता है अर्थात वहाँ आपको किसी भी नियम का पालन नहीं करना होता है.

तो प्रिय छात्रों आज का लेख भी अनौपचारिक पत्र ही है जिसमे सबसे पहले मैं आपको पिता जी को आपके अध्ययन की प्रगति के सम्बन्ध में पत्र लिखना सिखाने जा रहा हूँ.

जो मैं आपके साथ हिन्दी में पत्र लेखन शेयर करने जा रहा हूँ आप चाहो तो उसको एक कॉपी पर लिख भी सकते हो और फिर उसे अपने तरीके से अपने पिताजी के लिए एक प्यारा सा पत्र लिख सकते हो.

“आईये अब पत्र की अच्छे से प्रैक्टिस करते है और पिताजी के लिए पत्र लिखते है.”

पिताजी को पत्र | अनौपचारिक पत्र लेखन उदाहरण | Informal Letter Format in Hindi

अध्ययन की प्रगति के सम्बन्ध में पिताजी को पत्र

नोट – नीचे आपके सामने जो प्रार्थना पत्र का उदाहरण आयेगा उसको आप एक पेज पर लिख लेना ताकि फ्यूचर में आप उस पत्र को देखकर उसकी प्रैक्टिस कर सको| आईये अब शुरू करते है.

5 ई, सरोजनी नगर दिल्ली
10 अक्टूबर, 2019
श्री परम पूज्य पिताजी,
सादर प्रणाम,

मै यहाँ पर सब प्रकार से कुशल हूँ | आपको भी सब प्रकार से स्वस्थ और सुखी चाहता हूँ|

आपका कृपा पत्र पाप्त हुआ| आपने उसमें मेरी पढाई की प्रगति के सम्बन्ध में पूछा है | इस विषय में मेरा निवेदन यह है कि स्कूल खुलने के बाद से ही मैं नियम पुर्वाक परिश्रम से अध्ययन कर रहा हूँ | अगले मास त्रेमासिक परीक्षा होगी | मुझे विशवास है कि उसमें मै अच्छे अंक लेकर पास होऊँगा और गणित तथा संस्कृत में तो सर्वाधिक अंक पाउँगा |

माताजी भी स्वस्थ और प्रसंग हैं | सभी भाई-बहिनें आपको सादर प्रणाम कहते हैं|

शेष आपका पत्र मिलने पर !

आपका आज्ञाकारी पुत्र / पुत्री
हिमांशु ग्रेवाल

प्रार्थना पत्र लिस्ट

अनौपचारिक पत्र लेखन उदाहरण – Informal Letter Format in Hindi

Informal Letter Format in Hindi To Father

कुछ नई किताबे खरीदने हेतु मासिक खर्च में थोड़े ज्यादा पैसे कि डिमांड करते हुए पिता जी को पत्र लिखे|

5 ई, सरोजनी नगर दिल्ली
10 अक्टूबर, 2019
श्री परम पूज्य पिताजी,

सादर प्रणाम,

मै यहाँ पर पूर्ण रूप से कुशल मंगल हूँ और आशा करता हूँ कि आप और माँ दोनों स्वस्थ एवं खुश होंगे|

पिताजी जैसा कि आप जानते हैं कि अब मैं माध्यमिक कक्षा से उतृण होकर अब उच्च माध्यमिक कक्षा में आ गया हूँ| जिस प्रकार मेरी उम्र और कक्षा दोनों बढ़ रहे हैं ठीक उसी तरह से अब मुझे अपने पढ़ाई के लेवल को भी बढ़ाना होगा|

उच्च कक्षा में पढ़ाई करने हेतु मुझे कुछ एक्स्ट्रा किताबों की जरूरत है, जिसको खरीदने के लिए मुझे पैसे चाहिए| इसलिए इस बार जब आप मुझे महीने का खर्चा भेजेंगे तो 2000 रुपये ज्यादा भेज दीजियेगा|

शेष मेरा अभी नया सेमेस्टर शुरू हुआ है तो मुझे ऐसा महसूस हो रहा है कि मुझे अब पहले के मुकाबले ज्यादा मेहनत करने की आवश्यकता है| शेष बाते आपका अगला पत्र मिलने पर!

आपका आज्ञाकारी पुत्र / पुत्री
हिमांशु ग्रेवाल

Informal Letter Format in Hindi To Father : स्कूटी की चाहत ज़ाहिर करते हुए पिताजी को पत्र कैसे लिखे

Informal Letter Format in Hindi To Father

5 ई, सरोजनी नगर दिल्ली
10 अक्टूबर, 2019
श्री परम पूज्य पिताजी,

सादर प्रणाम,

मै यहाँ पर पूर्ण रूप से कुशल मंगल हूँ और आशा करता हूँ कि आप, माँ और भाई सब स्वस्थ एवं खुश होंगे|

आपका पत्र मुझे प्राप्त हुआ जिसमे आपने मेरी कक्षा में पहला रैंक लाने पर अपनी खुशी ज़ाहिर की है और आपने कहा कि मुझे अगर कुछ चाहिए तो मैं आपको बताऊँ|

पिताजी मेरा कोचिंग सेंटर मेरे पीजी से काफी दूर पड़ता है जिसकी वजह से आने जाने में मेरा काफी समय बर्बाद होता है, इस वजह से मेरी ख्वाहिश है कि आप मुझे एक स्कूटी जल्द से जल्द दिला दें|

अंत में मैं आपको बताना चाहूंगी कि मैंने कोचिंग सेंटर पर हुए दोनों एक्जाम में दूसरा स्थान हासिल किया है, शेष बाते अब दूसरे पत्र में होंगी|

आपकी पुत्र / पुत्री
हिमांशु ग्रेवाल

प्यारे बच्चों ओर दोस्तों मुझे पूरा यकीन है कि अब आप अनौपचारिक पत्र लिखना, पिताजी को पत्र और Informal Letter Format in Hindi पूरी तरीके से सिख चुके होंगे और अब आप अपने पिताजी को पत्र लिख पाओगे.

अगर आपको लगता है की यह आर्टिकल आपके लिए अच्छा है तो आप अपना कमेंट हमारी साईट पर जरुर करे और इस आर्टिकल को फेसबुक, ट्विटर और गूगल+ पर शेयर जरुर करे.

यदि इस लेख से संबन्धित या फिर पत्र को समझने में आपको किसी तरह का डाउट है तो नीचे दिये गए कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के अपना डाउट क्लियर जरूर करें.

पत्र लेखन ⇓

Informal Letter Format (Hindi) | अनौपचारिक पत्र
पिताजी को पत्र कैसे लिखे | अनौपचारिक पत्र | Informal Letter Format in Hindi

नीचे आपके सामने जो प्रार्थना पत्र का उदाहरण आयेगा उसको आप एक पेज पर लिख लेना ताकि फ्यूचर में आप उस पत्र को देखकर उसकी प्रैक्टिस कर सको|

Editor's Rating:
5
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमे आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

5 thoughts on “पिताजी को पत्र कैसे लिखे | अनौपचारिक पत्र | Informal Letter Format in Hindi”

Leave a Comment