1xbet.com
Republic Day

गणतंत्र दिवस पर भाषण – (देशभक्ति स्पीच) – Motivational Speech on Republic Day in Hindi

Written by Himanshu Grewal

मेरे प्यारे भारत देशवासियों, गणतंत्र दिवस पर भाषण के इस लेख को शुरू करने से पहले आप सभी को हिमांशु ग्रेवाल की तरफ से गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाये!

गणतंत्र दिवस हमारे देश का राष्ट्रीय पर्व है| यह पर्व 26 जनवरी 1950 को आजादी के बाद हमारे देश में संविधान लागू होने के रूप में मनाया जाता है| तब से हर साल हम 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते आ रहे है.

इस राष्ट्र पर्व पर भाषण, सामूहिक चर्चा और अन्य कई महत्वपूर्ण गतिविधिया होती है जिसमे सभी देशवासी किसी न किसी प्रकार अवश्य हिस्सा लेते है.

कोई राजपथ पर इस राष्ट्रिय पर्व को देखने जाता है तो कोई इस दिन का आनंद टीवी पर समाचार द्वारा प्राप्त करता है| बच्चे अपने अपने स्कूल में गणतंत्र दिवस पर कार्यक्रम आयोजित करते है.

इस दिन कई जगह रैलियां भी निकाली जाती है| इस दिन की तैयारी कई दिन पहले से प्रारंभ हो जाती है और राजपथ समारोह के लिए तो कई महीने पहले से तैयारी की जाती है| सुरक्षा के सभी इंतजाम किये जाते है ताकि कोई भी आक्रामक गतिविधि न हो.

अगर आपको गणतंत्र दिवस के विषय में और जानकारी प्राप्त करनी है तो आप गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है (महत्व और निबंध) वाला लेख पढ़ सकते हो.

अब हम गणतंत्र दिवस के लिए भाषण शुरू करते है| आप अपने स्कूल व् कॉलेज में गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य में इस भाषण को बोलकर लोगो के मन में देश प्रेम की भावना और उनका उत्साह बढ़ा सकते है.

इसे भी पढ़े ⇒ भारतीय गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य पर देशभक्ति शायरी

26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर भाषण हिंदी में 2018

Happy Republic Day - Indian Flag Images

मेरी और से प्रधानाचार्य और सभी शिक्षक तथा यहाँ उपस्थित अन्य सभी अतिथियों को मेरा प्रणाम !

»आज में आपको देश भक्तो की गाथा से भरे इतिहास के पन्नो को खोलकर कुछ सुनाने आया हूँ.

मातृभूमि की रक्षा हेतु असंख्य विरो ने अपने जीवन की आहुति दी थी| इस देश को देश प्रेमियों ने अपनी धरती को स्वतंत्रता दिलाने के लिए स्वम् को न्योछावर कर दिया था| इन्ही देश प्रेमियों के त्याग और बलिदान के परिणाम में आज हमारा देश स्वतंत्र और गणतांत्रिक देश बना है.

13 अप्रैल 1919 को जलियाँवाला बाग की घटना ने भगत सिंह और उधम सिंह जैसे क्रांतिकारीयो को जन्म दिया था| उस घटना के दौरान जनरल डायर के नेतृत्व में ब्रिटिश फौज ने कई मासूम हिन्दुस्तानियों को मार डाला था.

इस घटना के बाद सभी हिन्दुस्तानियों का दिल आजादी पाने की आग में जलने लगा था| लोग अपनी जान की बलिदानी तक देश को देने को त्यार थे.

26 जनवरी 1930 को स्वतंत्रता सेनानी और क्रांतिकारीयो ने यह शपथ ली थी की जब तक भारत स्वतंत्र नहीं हो जाता तब तक यह आंदोलन इसी तरह चलता रहेगा तथा 15 अगस्त 1947 को भारत देश को आजादी मिली और 26 जनवरी 1950 को भारत देश को लोकतान्त्रिक गणराज्य देश के रूप में घोषित किया गया.

इसको भी पढ़े ⇒ जनगणमन-अधिनायक जय हे भारतभाग्यविधाता! (भारत का राष्ट्रीय गीत)

Patriotic Poem on Republic Day in Hindi 2018

Best Republic Day Speech in Hindi For Teacher

जब भारत ने गणतंत्र मनाया
तब इस देश ने लोकतंत्र पाया
मतदान हुआ जन जन का अधिकार
यही बना हमारा हथियार
अब सत्ता भी हम लाते है
सरकार हम खुद बनाते है
इस देश की शान तिरंगा है
पावन यह यमुना – गंगा है
हाथ में लेकर तिरंगा प्यारा
जन गण मन हम जाएंगे
सत्य,अहिंसा, शांतिप्रिय, न्यारा
भारत हम अब बनाएंगे||

गणतंत्र दिवस पर भाषण – Republic Day Speech in Hindi 2018

भारत अब एक लोकतान्त्रिक देश है| इस देश के प्रत्येक नागरिक को सामान नागरिकता का अधिकार है.

हम खुद वोट देकर मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री का चुनाव करते है| हमे अपना नेता अपने आप चुनने का पूरा हक है हमे किसी भी व्यक्ति को कोई व्यक्ति न समझकर यह समझना चाइये की वो व्यक्ति भी हम में से ही एक है.

गणतंत्र दिवस के दिन ऐतिहासिक राजपथ पर (दिल्ली) विशेष इंतजाम किये जाते है| राजपथ पर इस राष्ट्रिय पर्व को ऐतिहासिकता से हर वर्ष मनाया जाता है.

राजपथ पर तीनो सेनाओ जल सेना, वायु सेना, थल सेना अपनी अपनी सैन्य शक्ति का प्रदर्शन करती है.

भारतीय सेना परैड और सभी राज्यों की सुन्दर झांकी का प्रदर्शन भी करती है तथा इस दिन मुख्य अतिथि के रूप में वहा राष्ट्रपती, उपराष्ट्रपति , प्रधानमंत्री, सेना प्रमुख जनरल होते है.

इसके अलावा देश भर से चुने गए NCC कैडेट भी परेड कर अपना प्रदर्शन करते है| प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी को प्रधानमंत्री द्वारा इण्डिया गेट पर स्थित अमर जवान ज्योति पर पुष्पचक्र अर्पित कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी जाती है.

इस दिन राजपथ पर देश के अलग अलग राज्यों की सांस्कृतिक समृद्धि को दर्शाया जाता है.

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है की गणतंत्र दिवस के दिन भारतीय राष्ट्र ध्वज को भारत के राष्ट्रपती के द्वारा फहराया जाता है|

राजपथ के अलावा इस दिन वाघा बॉर्डर पर भी इसी ऐतिहासिकता से प्रत्येक वर्ष गणतंत्र दिवस मनाया जाता है.

वाघा बॉर्डर एक सैनिक चौकी है जो की अमृतसर और लाहौर के बीच स्थित है| यह सीमा रेखा भारत की एक मात्र सड़क सीमा रेखा है इसे स्वर्ण जयंती गेट के नाम से भी जाना जाता है.

इस गणतंत्र दिवस पर हमे मिल कर एक शपथ लेनी चाइये की हम सब साथ मिलकर इस देश को अमीरी – गरीबी की मानसिकता को दूर कर इस देश को विकसित देश बनाना है.

इस देश को भृष्टाचार से मुक्त करने के लिए हमे एक जुट होकर भारतीय नियमो और भारतीय सविधान का अनुगमन करना चाईये.

भृष्टाचार को अगर भगाना है 
हर नागरिक को आगे आना है||

 भारतीय होने के नाते हम पूरी तरह जिम्मेदार है की हम अपने देश के नियमो व् सविधान का पालन करके देश की नियमितता को बनाये रखे.

हजारो स्वतंत्रता सेनानियों की क़ुरबानी के बाद ये देश आजाद हुआ था| बहुत वर्षो के संगर्ष के बाद आजादी मिली थी उस सवतंत्रता सेनानियों के बहुमूल्य बलिदान को हमे व्यर्थ नहीं जाने देना है.

हमे समाज से भेदभाव जैसी गन्दी चीज को बहार निकाल कर देश को बेहतर बनाना है| देश की संस्कृति की रक्षा कर भारत को हमे फिर से हिंदुस्तान बनाना है.

| जय हिंदी जय भारत | भाता माता की जय | वन्दे मातरम् |

गणतंत्र दिवस से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण लेख⇓

गणतंत्र दिवस पर भाषण के इस लेख को आप कॉपी करके अपने स्कूल और कॉलेज में सुना सकते हो| अथवा हमें कमेंट करके जरुर बताये की आपको Republic Day Best Hindi Speech कैसी लगी?

अगर आपको 26 जनवरी पर भाषण पसंद आया हो तो इस लेख को व्हाट्सएप्प, ट्विटर, गूगल+ और फेसबुक पर शेयर करना न भूले| यह हिंदी.

About the author

Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमे आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

14 Comments

Leave a Comment