Republic Day

Motivational Speech on 26 January in Hindi

26 January Speech in Hindi For Children
Written by Himanshu Grewal
Ad: Subscribe to our YouTube channel 🙏

26 January Republic Day Speech in Hindi, English, Telugu: जय हिंदी मेरे प्यारे देशवासियों, आज के इस लेख में आपको 26 जनवरी (गणतंत्र दिवस) के उत्सव पर बोलने के लिए कुछ शब्द मिलेंगे जिनको आप 26 जनवरी पर भाषण के तौर पर इस्तेमाल में ला सकते हैं.

गणतंत्र दिवस भारत का एक राष्ट्रीय पर्व है जो प्रति वर्ष 26 जनवरी को मनाया जाता है| इसी दिन सन् 1950 को भारत सरकार अधिनियम (एक्ट) (1935) को हटाकर भारत का संविधान लागू किया गया था.

एक स्वतंत्र गणराज्य बनने और देश में कानून का राज स्थापित करने के लिए संविधान को 26 नवम्बर 1949 को भारतीय संविधान सभा द्वारा अपनाया गया और 26 जनवरी 1950 को इसे एक लोकतांत्रिक सरकार प्रणाली के साथ लागू किया गया था.

26 जनवरी को इसलिए चुना गया था क्योंकि 1930 में इसी दिन भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (आई० एन० सी०) ने भारत को पूर्ण स्वराज घोषित किया था| यह भारत के तीन राष्ट्रीय अवकाशों में से एक है, अन्य दो स्‍वतंत्रता दिवस और गांधी जयंती हैं.

1950 से प्रति वर्ष भारत के सभी सरकारी दफ्तरों, विद्यालयों, कॉलेज और काफी सारे प्राइवेट सेक्टर भी इस दिन बंद रहते हैं| बंद का अर्थ यह नहीं है की उस दिन रविवार की तरह वहाँ सिर्फ सिक्योरिटी गार्ड ड्यूटी पर होते हैं परन्तु हाँ उस दिन रविवार को छोर एक सप्ताह के बाकी दिन की तरह काम भी नहीं होता है.

विद्यालयों, कॉलेज और सरकारी दफ्तरो में इस दिन खास कार्यक्रम करवाए जाते हैं जहाँ किसी उच्च पद के व्यक्ति को अतिथि स्वरूप आमंत्रित किया जाता है और फिर वहाँ के बच्चे या सरकारी दफ्तर के लोग अपने पसंदीदा कला के अनुसार कई कार्यक्रम में भाग लेकर उत्सव का आनंद उठाते हैं.

अक्सर 26 जनवरी के उत्सव पर विद्यालयों में नृत्य, नाटक, स्पीच, परेड और पुरस्कार बाटने का आयोजन किया जाता है| आज यहाँ मै कक्षा 2 से लेकर कक्षा 8 तक के बच्चों के लिए 26 जनवरी पर भाषण अपडेट करने जा रहा हूँ.

यदि आप भी विद्यार्थी हो, या आपके छोटे भाई-बहन अब स्कूल में या फिर आपके बच्चे स्कूल में जाते हैं तो यह लेख उन सभी के लिए सहायक मंद साबित ज़रूर होगा| आइये तो लेख को पढ़ना शुरू करते हैं:-

कक्षा 2-3 के लिए मै यहाँ सिर्फ 26 जनवरी पर 100 शब्द का भाषण ही अपडेट करूंगा, ताकि वो उन बच्चो को आसानी से याद हो जाये और वहाँ बैठी जनता को भी उनकी स्पीच पसंद आए.

इन लेखों को जरुर पढ़े ⇓

  1. भारतीय गणतंत्र दिवस का इतिहास और निबंध
  2. जन गण मन अधिनायक जय है – राष्ट्रीय गीत
  3. 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के तथ्य

People also ask for…

Republic Day Speech For Kids in Hindi, Republic Day Speech in Hindi PDF, Hindi Speech on Republic Day, Gantantra Diwas 2020 Speech in Hindi, Gantantra Diwas Speech in Hindi, Speech on Gantantra Diwas in Hindi, President Speech on Republic Day in Hindi.


26 January Republic Day Speech 2020 in Hindi

मैं हमारे आदरणीय प्रधानाचार्य, शिक्षकों, और मेरे मित्रों को सुप्रभात कहना चाहूंगा। आइए आपको इस खास मौके के बारे में कुछ बताते हैं।

आज हम अपने राष्ट्र का 71 वाँ गणतंत्र दिवस मना रहे हैं। 1947 में भारत की आजादी के ढाई साल बाद 1950 से इसे मनाना शुरू किया गया था।

हम इसे हर साल 26 जनवरी को मनाते हैं क्योंकि हमारा संविधान उसी दिन लागू हुआ था।

1947 में ब्रिटिश शासन से स्वतंत्रता मिलने के बाद, भारत एक स्व-शासित देश नहीं था, जिसका अर्थ संप्रभु राज्य था।

1950 में इसका संविधान लागू होने के बाद भारत एक स्व-शासित देश बन गया।

भारत एक गणतंत्र देश है जिसके पास शासन करने के लिए कोई राजा या रानी नहीं है लेकिन इस देश की जनता शासक है।

इस देश में रहने वाले हम में से हर किसी को समान अधिकार प्राप्त हैं, कोई भी राष्ट्रपति, मुख्यमंत्री या प्रधानमंत्री बिना जनता द्वारा वोट दिए नहीं बन सकते है।

हमें इस देश का सही दिशा में नेतृत्व करने के लिए अपने सर्वश्रेष्ठ प्रधानमंत्री या अन्य नेताओं को चुनने का अधिकार है।

हमारे नेताओं को इतना सक्षम होना चाहिए कि वे हमारे देश के पक्ष में सोच सकें। उन्हे देश के हर राज्य, गाँव, और शहर के बारे में समान रूप से सोचना चाहिए ताकि भारत जाति, धर्म, गरीब, अमीर, उच्च वर्ग, निम्न वर्ग, मध्यम वर्ग, अशिक्षा आदि के भेदभाव के बिना एक अच्छी तरह से विकसित देश बन सके।

हमारे नेता के पास देश के पक्ष में एक हावी संपत्ति होनी चाहिए ताकि प्रत्येक और हर अधिकारी सभी नियमों और विनियमों का गलत तरीके से पालन कर सकें।

इस देश को भ्रष्टाचार मुक्त देश बनाने के लिए प्रत्येक अधिकारी को भारतीय नियमों और विनियमों का पालन करना चाहिए। केवल एक भ्रष्टाचार मुक्त भारत वास्तव में “विविधता में एकता” वाला देश होगा।

हमारे नेताओं को उन्हें एक विशेष व्यक्ति के रूप में नहीं समझना चाहिए, क्योंकि वे हम में से एक हैं और देश का नेतृत्व करने की उनकी क्षमता के अनुसार चुने गए हैं।

सीमित समय अवधि के लिए भारत के लिए उनकी सच्ची सेवाओं के लिए उनका चयन हमारे द्वारा किया गया है। तो, उनके अपने अहंकार और अधिकार और स्थिति के बीच कोई भ्रम नहीं होना चाहिए।

धन्यवाद, जय हिंद, जय भारत


India Republic Day Speech For Teachers 2020

सभी को सुप्रभात। मेरा नाम है ____ मैं कक्षा में पढ़ता हूं ____ जैसा कि हम सभी जानते हैं कि हम अपने देश के बहुत ही खास अवसर पर यहां एकत्रित हुए हैं जिसे भारत का गणतंत्र दिवस कहा जाता है।

मैं आपके सामने एक गणतंत्र दिवस का भाषण सुनाना चाहूंगा। सबसे पहले, मैं अपने क्लास टीचर को बहुत धन्यवाद कहना चाहूंगा क्योंकि उसकी वजह से मुझे अपने स्कूल में इस तरह का शानदार मौका मिला है कि मैं अपने प्यारे देश के बारे में कुछ बोलूं।

15 अगस्त 1947 के बाद से भारत एक स्वशासित देश है।

1947 में 15 अगस्त को ब्रिटिश शासन से भारत को स्वतंत्रता मिली, जिसे हम स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाते हैं, हालाँकि, 26 जनवरी 1950 को हम गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं।

1950 में 26 जनवरी को भारत का संविधान लागू हुआ था, इसलिए हम इस दिन को हर साल गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं। इस वर्ष 2020 में, हम भारत का 71 वां गणतंत्र दिवस मना रहे हैं।

गणतंत्र का मतलब देश में रहने वाले लोगों की सर्वोच्च शक्ति है और देश को सही दिशा में ले जाने के लिए राजनीतिक प्रतिनिधि के रूप में अपने प्रतिनिधियों का चुनाव करने का अधिकार केवल जनता को है।

तो, भारत एक गणतंत्र देश है जहाँ जनता अपने नेताओं को राष्ट्रपति, प्रधान मंत्री आदि के रूप में चुनते है, हमारे महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों ने भारत में “पूर्ण स्वराज” के साथ बहुत संघर्ष किया है। उन्होंने ऐसा किया कि उनकी आने वाली पीढ़ियां बिना संघर्ष के रह सकें और देश को आगे बढ़ाया।

डॉ अब्दुल कलाम ने कहा है कि “अगर किसी देश को भ्रष्टाचार मुक्त होना है और सुंदर दिमाग का राष्ट्र बनना है, तो मुझे दृढ़ता से लगता है कि तीन प्रमुख सामाजिक सदस्य हैं जो एक अंतर ला सकते हैं। वे पिता, माता और शिक्षक हैं ”।

देश के नागरिक के रूप में, हमें इसके बारे में गंभीरता से सोचना चाहिए और अपने राष्ट्र का नेतृत्व करने के लिए हर संभव प्रयास करना चाहिए।

जय हिन्द…!


Short Republic Day 2020 Speech in Hindi, English

मैं भारत के गणतंत्र दिवस पर बोलने की अनुमति देने के लिए सम्मानित अतिथियों, दर्शकों और माननीय अध्यक्ष / प्रधानाध्यापक जी / शिक्षक को धन्यवाद देना चाहूंगा।

26 जनवरी वह दिन है जो हर साल भारतीय गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। सभी भारतीय अपनी गरिमा दिखाते हैं और भारत के राष्ट्रीय ध्वज का सम्मान करते हैं जो कि भारत में कई स्थानों पर इस दिन अप्रभावित हो जाता है जिसमें संस्थान, बैंक और कई और स्थान शामिल हैं।

इस दिन, भारत का संविधान 1950 में लागू हुआ था, लेकिन इसे 26 नवंबर 1949 को संविधान सभा द्वारा अपनाया गया था।

26 जनवरी को, भारत को 1930 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस द्वारा पूर्णा स्वाज घोषित किया गया था, इसीलिए 26 जनवरी को भारतीय संविधान लागू करने के लिए चुना गया था। हमारा संविधान भारत के नागरिकों को न्याय, स्वतंत्रता और उनके बीच समानता के बारे में आश्वस्त करता है।

भारतीय इतिहास में गणतंत्र दिवस सबसे बड़े दिन में से एक है। भारत के प्रत्येक और हर कोने में 26 जनवरी को हर साल पूरे समर्पण और भक्ति के साथ मनाया जाता है।

यह पूरे स्कूल, कॉलेजों, विश्वविद्यालय और प्रत्येक शिक्षा सोसायटी में पूरे स्कोप के साथ मनाया जाता है। ये कार्य और निबंध लेखन प्रतियोगिता में बच्चे शामिल होते हैं।

जय हिन्द


26 January 2020 Speech in Hindi, Essay

आदरणीय मुख्य अतिथि, सम्मानित प्रधानाध्यापक जी, सम्मानित शिक्षक और मेरे प्रिय मित्र।

आज मैं भारत के 71 वें गणतंत्र दिवस पर कुछ शब्दों को बोलने के लिए इस शुभ अवसर पर एकत्रित होने से पहले खड़ा हूं। सबसे पहले, मैं अपने सभी देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं देता हूं और हमारे राष्ट्र की भलाई के लिए ईश्वर से प्रार्थना करता हूं।

आप सभी जानते हैं कि हमारा देश 1947 में ब्रिटिश शासन से मुक्त हो गया था, बाद में हमारा संविधान समिति के सदस्यों द्वारा तैयार किया गया था और इस तरह भारत को 26 जनवरी 1950 को एक गणतंत्र देश घोषित किया गया जब उसने अपना पहला गणतंत्र दिवस मनाया।

हर साल हम 26 जनवरी को देशभक्ति की उच्च आत्माओं के साथ गणतंत्र दिवस मनाते हैं क्योंकि इस दिन हमारा संविधान लागू हुआ था। यह भारत के स्वतंत्रता दिवस के अलावा हमारे देश के महत्वपूर्ण राष्ट्रीय त्योहारों में से एक है जो 15 अगस्त को मनाया जाता है। जय हिन्द

.-._.–.
‘-., .’
_-‘ I ‘-._ _.._..,
._.-.’ LOVE ‘ -‘.-‘
‘._/ MY ‘;’-
‘.INDIA/
‘. .’
‘._.’

तो, आपके बच्चे इस गणतंत्र दिवस भाषण या 26 जनवरी के स्वागत भाषण को आपके स्कूल के कार्यक्रम के लिए तैयार कर सकते हैं। आप अपने सामाजिक कार्यक्रम के लिए 26 जनवरी के लिए इन स्वागत भाषण का उपयोग कर सकते हैं।

यह हमारे राष्ट्र पर गर्व करने का त्योहार है। प्रत्येक देशवासी को इस अवसर पर भाग लेना चाहिए। हमें इस दिन अपने स्वतंत्रता सेनानियों को भी याद करना चाहिए।

यह देशभक्ति, एकता का अवसर है; शांति, प्रेम, गर्व, खुशी और प्रेरणा का दिन है। हमें इस अवसर पर कुछ सिद्धांत बनाने चाहिए और अपने कर्तव्यों और राष्ट्र के प्रति वफादार रहने की कोशिश करनी चाहिए।

गणतंत्र दिवस भाषण के बारे में हमारी पोस्ट पर आने के लिए धन्यवाद। मुझे आशा है, आपको गणतंत्र दिवस भाषण 2020 का मेरा संग्रह पसंद आया होगा। Republic day speech pdf download करें।

26 January Republic Day Speech 2020 in English

Republic Day Speech in English for Teachers

26 January Speech in English for Teachers

26 जनवरी पर भाषण हिंदी में 100 शब्दों में

26 जनवरी पर भाषण हिंदी में 100 शब्दों में

नमस्कार, आप सभी को मेरी (यहाँ आप अपना नाम भी बोल सकते हैं) और से भारतवर्ष के 71वां गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं…!

आज हम सब यहाँ पर गणतंत्र दिवस के उत्सव को मनाने के लिए एकत्रित हुए हैं| वर्ष 1950 में आज के दिन ही भारत का संविधान लागू हुआ था और तब से भारत की जनता इस दिन को मनाती आ रही है.

आज यहाँ आप सभी के सामने बोलना चाहूँगा कि दोस्तों भारत के जीतने भी कानून है वो सब हमारे लिए बनाए गए हैं और इसलिए हम सभी को उनका आदर करते हुए उनको मानना चाहिए.

अंत में मै बस इतना ही बोलना चाहूँगा स्वस्थ रहे, अपने आस पास के सभी लोगो के साथ प्यार से रहे और खुश रहे|

जय हिन्द…

अब मै 26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर 250 शब्दों का भाषण अपडेट कर रहा हूँ जो कि कक्षा 4 एवं 5 के छात्रों के लिए है.

26 January 2020 Speech in English

Republic Day Speech For School Students And Children’s

Republic Day Speech For School Students And Children’s

26 January Speech in Hindi For Children 250 Words

Motivational Speech on 26 January in Hindi

सभी को सुबह का नमस्कार| मेरा नाम _______ है और मैं कक्षा ______ में पढ़ता हूँ|

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि अपने राष्ट्र के बेहद खास अवसर पर हम सभी यहाँ इकट्ठा हुए हैं जिसे गणतंत्र दिवस कहते हैं| मैं आप सबके सामने गणतंत्र दिवस पर भाषण पढ़ना चाहता हूँ.

15 अगस्त 1947 से ही भारत एक स्व-शासित देश है। 1947 में 15 अगस्त को ब्रिटिश शासन से भारत को स्वतंत्रता प्राप्त हुई जिसे हम स्वतंत्रता दिवस के रुप में मनाते हैं.

हालांकि, 1950 से 26 जनवरी को हम गणतंत्र दिवस मनाते हैं| भारत का संविधान 26 जनवरी 1950 में लागू हुआ, इसलिये हम इस दिन को हर साल गणतंत्र दिवस के रुप में मनाते हैं.

2020 में इस वर्ष, हम भारत का 71वां गणतंत्र दिवस मना रहें हैं।

गणतंत्र का अर्थ है देश में रहने वाले लोगों की सर्वोच्च शक्ति और सही दिशा में देश के नेतृत्व के लिये राजनीतिक नेता के रुप में अपने प्रतिनिधि चुनने के लिये केवल जनता के पास अधिकार है| इसलिये, भारत एक गणतंत्र देश है जहाँ जनता अपना नेता प्रधानमंत्री के रूप में चुनती है.

भारत में “पूर्ण स्वराज” के लिये हमारे महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों ने बहुत संघर्ष किया| उन्होंने अपने प्राणों की आहुति दी जिससे उनके आने वाली पीढ़ी को कोई संघर्ष न करना पड़े और वो देश को आगे लेकर जाएँ.

धन्यवाद… जय हिन्द…!

दोस्तो यह दो भाषण प्राथमिक कक्षा के छात्रों के लिए था अब मै एक और 26 जनवरी पर स्पीच हिंदी में अपडेट करूंगा जो कक्षा 6, 7 एवं 8 के बच्चे अपने पसंद के अनुसार पढ़ के सुना सकते हैं.

Republic Day Speech in Telugu | 26 January Speech in Telugu 2020
రిపబ్లిక్ డే ప్రసంగం 2020

Republic Day Speech in Telugu

Motivational Speech on 26 January in Hindi

Happy Republic Day Images Download

आप सभी को सुप्रभात। मेरा नाम _____ है और मैं ____ कक्षा में पढता हूँ / शिक्षक हूँ|

जैसे की हम सब जानते हैं आज हम सब यहाँ इस विशेष अवसर पर एकत्र हुए हैं जिसे हम भारत के गणतंत्र दिवस के नाम से जानते हैं.

मैं आज के इस पावन दिन पर आप सभी को भारत के गणतंत्र दिवस के विषय में कुछ महत्वपूर्ण बातें बताना चाहता हूँ| मै आप सभी का शुक्रिया करना चाहता हूँ की आपने मुझे यह अद्भुत अवसर दिया ताकि में अपने प्यारे देश के विषय में इस महान दिन पर अपने कुछ शब्द आप सभी के समक्ष प्रस्तुत कर सकूं.

हमारा देश भारत 15 अगस्त 1947 से स्वराज्य बन चुका है। भारत को ब्रिटिश सरकार / हुकूमत से 15 अगस्त को आज़ादी मिली थी| परन्तु हमारे देश का संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ और हम उस दिन को पूर्ण रूप से आजादी मानते हैं इसलिए हम अपनी आज़ादी की ख़ुशी में प्रतिवर्ष यह उत्सव मनाते हैं.

इस वर्ष 2020 को हम भारतवासी, हमारे देश भारत का 71वां गणतंत्र दिवस आज मना रहे हैं| रिपब्लिक या गणतंत्र का मतलब होता है लोगों की सर्वोच्च शक्ति यानि की देश में लोगों के ऊपर अपने राजनीतिक नेता को चुनने का अधिकार होता है.

हमारे महान स्वतंत्रता सेनानियों के कड़ी मेहनत और संघर्ष के पश्चात ही भारत को पूर्ण स्वराज मिला| उन्होंने हमारे लिए बहुत कुछ किया ताकि हमें वो जुल्म सहना ना पड़े और हमारा देश भारत आगे बढ़ सके.

हमारे कुछ महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानी और नेताओं के नाम हैं महात्मा गाँधी, भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद, लाला लाजपत राय, सरदार वल्लभ भाई पटेल, लाल बहादुर शास्त्री। उन्होंने लगातार कई वर्षों तक ब्रिटिश सरकार का सामना किया और हमारे वतन को आज़ाद कराया.

उनके इस बलिदान को हम कभी भी भुला नहीं सकते हैं और उन्हें हमेशा एक महान उत्सव और समारोह के जैसे ही दिल से याद करना चाहिए क्योंकि उन्ही की वजह से आज हम अपने देश में आज़ादी से सांस ले पा रहे हैं.

हमारे प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद जिन्होंने कहा था, “हमारे पूर्ण महान और विशाल देश के अधिकार को हमने एक ही संविधान और संघ में पाया है जो देश में रहने वाले 320 लाख पुरुषों और महिलाओं के कल्याण की जिम्मेदारी लेता है”

यह बहुत ही शर्म की बात है की इतने वर्षों के आज़ादी के बाद भी आज हम अपराध, भ्रष्टाचार और हिंसा से लड़ रहे हैं| अब हमें दोबारा मिल कर अपने देश को इन बुरी चीजों से दूर करना होगा और एक सफल, विकसित और स्वच्छ देश बनाना होगा.

हमें गरीबी, बेरोजगारी, अशिक्षा, ग्लोबल वार्मिंग, असमानता, आदि जैसे चीजों को समझना होगा और इनका हल भी खोजना होगा.

पूर्व राष्ट्रपति डॉ. ए. पी. जे अब्दुल कलाम जी ने कहा था कि अगर देश को भ्रष्टाचार मुक्त और महान और अच्छे ज्ञान वाले लोगों का बनाना है तो मुझे लगता है कि सोसाइटी से जुडी तीन चीजें है जो बदलाव ला सकते हैं| वो हैं माता, पिता, और शिक्षक.

भारत देश के नागरिक होने के कारण हमें सोचना चाहिए की हम अपने देश को किस हद तक सफल बना सकते हैं.

जय हिंदी…!

यह थे 26 जनवरी के उत्सव पर बोले जाने वाले कुछ भाषण, जिनको विद्यालय में जाने वाले अपनी पसंद और सरलता के अनुसार चुन कर स्टेज पर सभी बच्चो, शिक्षक, प्रधानाचार्य एवं स्कूल में आए अतिथि के सामने बोल के सुना सकते हैं.

आशा है आपको 26 जनवरी पर भाषण का लेख पढ़ने में अच्छा लगा होगा और आपके लिए यह सहायक भी साबित हुआ होगा.

अब आप चाहे तो इस लेख को अपने दोस्तो एवं जानकारों के साथ सोश्ल मीडिया के माध्यम से शेयर भी कर सकते हैं.

इस लेख को अंत पढ़ने के लिए आप सभी का मै तहे दिल से धन्यवाद करना चाहता हूँ और आपको हिमांशु ग्रेवाल कि और से गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं.

गणतंत्र दिवस के उपलक्ष में ⇓

देश भक्ति के लेख ⇓

26 January Republic Day Speech

About the author

Himanshu Grewal

मेरा नाम हिमांशु ग्रेवाल है और यह एक हिंदी ब्लॉग है जिसमें आपको दुनिया भर की बहुत सारी जानकारी मिलेगी जैसे की Motivational स्टोरी, SEO, इंग्लिश स्पीकिंग, सोशल मीडिया etc. अगर आपको मेरे/साईट के बारे में और भी बहुत कुछ जानना है तो आप मेरे About us page पर आ सकते हो.

4 Comments

Leave a Comment